बड़ी खबर: निजी स्कूलों की फीस निर्धारण करने जिला स्तर पर बनाई गई कमेटी...प्राइवेट स्कूल के संचालक समेत वकील और पैरेंट्स को भी बनाया मेंबर

बड़ी खबर: निजी स्कूलों की फीस निर्धारण करने जिला स्तर पर बनाई गई कमेटी...प्राइवेट स्कूल के संचालक समेत वकील और पैरेंट्स को भी बनाया मेंबर  

December 12, 2020

भिलाई। शिक्षा विभाग की ओर से छत्तीसगढ़ अशासकीय विद्यालय फीस विनियमन अधिनियम 2020 के तहत राजनांदगांव में जिला स्तरीय फीस निर्धारण समिति का गठन किया गया है। इसके अध्यक्ष कलेक्टर होंगे। लेखाधिकारी एवं कोषालय अधिकारी कमलेश रायस्त हैं। नामांकित शिक्षाविद परसबोड के प्राचार्य राजू महाेबे होंगे। कानूनविद नारायण प्रसाद कन्नौजे हैं। अशासकीय शालाओं के नामांकित अभिभावक डॉ चंद्रशेखर शर्मा और महेन्द्र जैन शामिल किए गए हैं। डीईओ एचआर सोम ने बताया कि यह समिति कलेक्टर की ओर से बनाई गई है। समिति में निजी स्कूल प्रबंधन की ओर से युगांतर पब्लिक स्कूल से सुशील कोठारी और देहली पब्लिक स्कूल से सुनील गोलछा नामांकित सदस्य हैं। इसी तरह सचिव जिलाधिकारी होंगे।

डीईओ ने बताया कि समिति के सदस्यों का कार्यकाल दो वर्ष का होगा। किसी प्रकार के वेतन और भत्तों की पात्रता नहीं होगी। बताया कि स्कूल स्तर पर बनाई गई फीस निर्धारण समिति के निर्णय की कॉपी जिला स्तर की समिति के पास भेजी जाएगी।

डीईओ ने नोडल अफसरों को निर्देश दिए हैं कि निजी स्कूलों में बनाई गई फीस निर्धारण समिति की बैठक तीन दिन के भीतर पूरी कराई जाए। बैठक लेने के बाद प्रतिवेदन भी डीईओ कार्यालय में जमा करना होगा। वहीं जिन नोडल अफसरों ने फीस निर्धारण समिति नहीं बनाई है, उन्हें तत्काल यह कार्य पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन


समाचार और भी...