Bhilai Times

भिलाई के नेहरू नगर में बड़ी लूट की कोशिश: ऑनलाइन सट्टा का पैनल सोच कर 6 बदमाश बेसबॉल बैट लेकर लूटने गए थे लाखों रूपए… स्टाफ से की मारपीट, फिर हुआ कुछ ऐसा पुलिस के बन गए मेहमान

भिलाई के नेहरू नगर में बड़ी लूट की कोशिश: ऑनलाइन सट्टा का पैनल सोच कर 6 बदमाश बेसबॉल बैट लेकर लूटने गए थे लाखों रूपए… स्टाफ से की मारपीट, फिर हुआ कुछ ऐसा पुलिस के बन गए मेहमान

भिलाई। VVIP जिले दुर्ग के VVIP इलाके नेहरू नगर में आधा दर्जन बदमाशों द्वारा 11 और 12 अगस्त की दरमियान बड़ी लूट की कोशिश की गई है। कहते हैं जिनकी नियत गंदी हो वह खुद अपने खोदे हुए गड्ढे में ही गिर जाते हैं। ऐसा ही मामला भिलाई के सुपेला थाना क्षेत्र से सामने निकल कर आ रहा है। जहां पर 6 लोगों के द्वारा एक आईटी कंपनी में वसूली का प्लान बनाया जाता है। जिसका मास्टरमाइंड एक नाबालिग रहता है। इनको कहीं से सूचना मिलती है कि नेहरू नगर में एक आईटी कंपनी है जहां पर ऑनलाइन सट्टा का 2 पैनल ऑपरेट हो रहा है। फिर ये प्लानिंग बना लेते हैं कि वहां जाकर पैसे की वसूली करेंगे।

आधी रात को 6 लोगों बेसबॉल डंडा लेकर और ऑफिस का ताला तोड़कर अंदर पहुंचते हैं। आईटी कंपनी होने के कारण नाइट शिफ्ट चल रहा था। कर्मचारी काम कर रहे थे। आपको बता दें इस कंपनी में डाटा एंट्री का काम होता था। आरोपियों द्वारा कर्मचारियों से गाली-गलौज और मारपीट की गई। इसकी सूचना जैसे ही पुलिस को मिली पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपीदबोचे गए। घटना में शामिल स्कॉर्पियो मोबाइल कीमत ₹10 का सामान जब्त किया गया है। ये ोुरा मामला सुपेला थाना क्षेत्र का है।

भिलाई नगर सीएसपी (IPS) निखिल राखेचा ने बताया की करीबन रात 2:00 बजे यह घटना की जानकारी पुलिस को मिलती है। जिसके बाद पुलिस की 102 तुरंत मौके पर पहुंच जाती है। पुलिस को देखकर आरोपी घबराने लगते हैं। पुलिस की टीम ने सभी आरोपियों को अरेस्ट कर लिया है।

पुलिस ने क्या बताया ?
नेहरू नगर भिलाई ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि इनका नेहरू नगर भिलाई में आई.टी. आफिस है। जहां पर डाटा एंट्री का काम होता है। दिनांक 11/08/2023 को रात 02.00 बजे ड्यूटी में उपस्थित कर्मचारी काम कर रहे थे उसी दौरान एक स्कार्पियों वाहन से 06 लड़के बेसबाॅल, डंडा लेकर आफिस का ताला तोड़कर कर अंदर घुस गये और कर्मचारियों से गाली-गलौज कर मारपीट करने लगे। आरोपी पुलिस को देखकर भागने लगे जिन्हे पुलिस द्वारा घेरा बंदी कर पकड़ा गया।

आरोपीगणों से पूछताछ करने पर बताया गया कि उनका सरगना जो नाबालिग है एवं आई.टी. कंपनी के पास ही उसका होटल है। उसके द्वारा यह प्लान बनाया गया था कि आई.टी. कंपनी में महादेव पैनल का दो आई.डी. चलता है और रात्रि में 15-20 लाख रूपये होने की संभावना थी और ये पैसा जाकर ले लेते तो कंपनी वाले जुआ का पैसा होने के कारण रिपोर्ट नही करते। अपने बनाये जाल में पुलिस की सक्रियता से खुद ही फंस गये। आरोपीगणों को आज को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया एवं विधि से संघर्षरत बालक को बाल संप्रेक्षण गृह भेजा गया। आरोपियों के खिलाफ धारा- 147, 148, 294, 506, 323, 427, 458 IPC के तहत कार्रवाई की गई है।

आरोपियों के नाम :-

(1) जी. वेंकटेश पिता जी. लक्ष्मण उम्र 34 साल निवासी गणेश चैक गुरूद्वारा के पीछे सुपेला,
(2) देवेन्द्र चैधरी पिता रामप्रवेश चैधरी उम्र 21 साल निवासी सेक्टर-7 भिलाई।
(3) सत्येन्द्र चैधरी पिता स्व. राम प्रवेश चैधरी उम्र 24 साल निवासी सेक्टर-7 भिलाई।
(4) रूपेश थानेकर पिता गजानंद थानेकर उम्र 24 साल निवासी गणेश चैक गुरूद्वारा के पीछे सुपेला
(5) चंद्रहास चैधरी पिता केशव प्रसाद उम्र 22 साल निवासी सेक्टर-7 भिलाई जिला-दुर्ग
(6) एक विधि से संघर्षरत बालक


Related Articles