Click to Get Latest Covid Updates

रायपुर जिला अस्पातल में बच्चों के मौत का मामला: प्रबंधन ने किया दावा - 24 घंटे में ब्रेन हाईपोक्सिया से हुई 2 बच्चों की मौत, परिजनों ने लापरवाही का लगाया आरोप, बोले - हमने 6 से ज्यादा शवों को बाहर जाते देखा

रायपुर जिला अस्पातल में बच्चों के मौत का मामला: प्रबंधन ने किया दावा - 24 घंटे में ब्रेन हाईपोक्सिया से हुई 2 बच्चों की मौत, परिजनों ने लापरवाही का लगाया आरोप, बोले - हमने 6 से ज्यादा शवों को बाहर जाते देखा  

July 21, 2021

रायपुर। कल देर शाम रायपुर जिला अस्पताल में एक ही दिन में 7 बच्चों की मौत के आरोपों से हंगामा मचा हुआ है। परिजन के आरोपों के बाद जिला अस्पताल प्रबंधन ने सफाई दी है। उसका कहना है कि मंगलवार सुबह 8 बजे से 24 घंटे के दौरान केवल दो ही बच्चों की मौत हुई है। इससे उलट अस्पताल में अभी भी भर्ती बच्चों के परिजन ने एक बार फिर दावा किया है कि उन्होंने कल 6 से ज्यादा शवों को बाहर आते देखा है। डॉक्टर झूठ बोल रहे हैं।

इस पर मेकाहारा अधीक्षक डॉ विनित जैन ने बताया की -
"लापरवाही का मसला ही नहीं है, कई बार बच्चे जन्मगत बेहद असामान्य स्थितियों में होते हैं, दोनों बच्चों के साथ यही स्थिति थीहमारी ओर से पूरा प्रयास होता है कि जीवन दिया जा सके, उसके लिए हर संभव कोशिश होती है। यहाँ भी हुई लेकिन कॉंप्लिकेशन इतने थे कि हमारे प्रयास नाकाफ़ी साबित हुए।"

भास्कर.कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. पीके गुप्ता ने कहा-

"रात में उन्होंने रजिस्टर चेक किया। कल की तारीख में केवल दो बच्चों की मौत हुई है। एक मौत सुबह हुई और दूसरी रात को 8 बजे। नवजात शिशु इकाई के प्रभारी डॉ. ओंकार खंडवाल ने भी कहा, कल सुबह 8 बजे से आज सुबह 8 बजे तक केवल 2 बच्चों की मौत हुई है। 19 जुलाई को यहां तीन बच्चों की मौत हुई थी, जबकि 18 तारीख को कोई मौत नहीं थी। डॉ. खंडवाल ने बताया, SNCU की क्षमता 45 बच्चों की है, अभी 37 का इलाज हो रहा है।"



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन


समाचार और भी...