Click to Get Latest Covid Updates

दुर्ग विधायक अरूण वोरा के तीखे तेवर: सड़कों में गड्‌ढे और कचरा देख अधिकारियों पर भड़के वोरा...अधिकारियों से दो टूक- पैचवर्क से काम नहीं चलेगा, तत्काल सड़कों का करे डामरीकरण

दुर्ग विधायक अरूण वोरा के तीखे तेवर: सड़कों में गड्‌ढे और कचरा देख अधिकारियों पर भड़के वोरा...अधिकारियों से दो टूक- पैचवर्क से काम नहीं चलेगा, तत्काल सड़कों का करे डामरीकरण  

October 11, 2021

दुर्ग। दुर्ग शहर विधायक अरूण वोरा के तीखे तेवर से सब वाकिफ है। तभी तो अपने ही सरकार के अधिकारियों पर सोमवार को भी बरस पड़े। दरअसल, दुर्ग विधायक वोरा जम्मू-कश्मीर दौरे से लौटते ही शहर का निरीक्षण करने निकले। फिर वही गड्‌ढे वाली सड़के और कचरे से अटा पड़ा मोहल्ला देख विधायक वोरा भड़क गए।

निगम आयुक्त से लेकर पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की जमकर क्लास ली। वोरा की ओर से प्रेस रिलीज जारी हुई है। जिसमें कहा गया है कि नवरात्र पर्व के दौरान भी शहर की सफाई व्यवस्था चाक चौबंद नहीं हो पाई है। निगम प्रशासन द्वारा बेहतर सफाई के दावों के बावजूद प्रमुख सड़कों सहित वार्डों के भीतर सफाई न होने की लगातार शिकायतें मिल रही है। वरिष्ठ विधायक अरुण वोरा ने नाराजगी जताते हुए निगम कमिश्नर हरेश मंडावी को सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। शहर की खस्ताहाल सड़कों पर पैचवर्क का पैबंद लगाने से काम नहीं चलेगा।

वोरा ने कलेक्टर से आग्रह किया है कि पीडब्लूडी अफसरों को निर्देश देकर शहर की खस्ताहाल सड़कों का डामरीकरण तत्काल शुरू कराएं। पिछले 5 दिनों से जम्मू कश्मीर के दौरे पर गए वोरा ने दुर्ग लौटने के बाद आज सुबह से ही शहर की व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने निकल गए। वोरा ने कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे से आग्रह किया है कि शहर की सफाई व्यवस्था, स्ट्रीट लाइट व्यवस्था, खस्ताहाल सड़कों का डामरीकरण कराने के साथ ही यहां हो रहे विकास कार्यों में तेजी लाने विभागीय अधिकारियों को कड़े निर्देश दें। कलेक्टर स्वयं सभी कार्यों की मॉनिटरिंग करें ताकि आम जनता को विकास कार्यों की सौगात मिल सके।

वोरा ने कहा कि जिन कार्यों के प्रस्ताव नहीं बने हैं, उनके प्रस्ताव तत्काल बनाकर शासन से मंजूरी लेकर विकास कार्य शुरू कराए जाएं। स्वीकृत किये गए विकास कार्यों को पेंडिंग रखने से विकास अवरुद्ध होगा। इसके अलावा कछुआचाल से चल रहे विकास कार्यों को तेजी से पूरा किया जाना चाहिये। विकास कार्यों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वोरा ने कहा कि जीई मार्ग के उन्नयन और सौंदर्यीकरण के साथ ही अमृत मिशन प्रोजेक्ट, यूनिशेड निर्माण, ऑडिटोरियम निर्माण, ठगड़ा बांध सौंदर्यीकरण सहित सभी कार्यों को तेजी से पूरा किया जाए। वार्डों में मंजूर किये गए कार्यों को भी तत्काल शुरू कराया जाना चाहिये।

कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने हाल ही में शहर के विकास कार्यों का निरीक्षण किया था। उन्होंने विकास कार्यों में तेजी लाने के निर्देश भी दिये। कलेक्टर के शहर का निरीक्षण करने के बाद दिये गए कड़े निर्देशों के बावजूद विकास कार्यों में अपेक्षित गति नहीं आई है। हालत ये है कि कलेक्टर के निर्देशों के बावजूद पेयजल व्यवस्था में लगातार रुकावटें आ रही हैं। जल कार्य विभाग के अफसरों की कार्यशैली को लेकर लगातार सवालिया निशान लग रहे हैं।

कलेक्टर व कमिश्नर के निर्देशों का पालन न करने सहित हर काम में ढिलाई के कारण जल कार्य विभाग की फजीहत हो रही है। पद्मनाभपुर में पानी की किल्लत के बाद अब पूरे शहर में पानी सप्लाई में आ रही रुकावटों को लेकर लोग परेशान हैं। सफाई व्यवस्था का भी बुरा हाल है। बारिश की शुरुआत से ही सड़कों की दुर्गति से पूरा शहर त्रस्त है। पीडब्लूडी और निगम प्रशासन द्वारा किये गए पैचवर्क से सड़कों की हालत और बदतर हो गई। कलेक्टर द्वारा शहर का निरीक्षण करने के बावजूद कामकाज में कोई विशेष असर न होने पर आज विधायक वोरा ने इस मामले को लेकर नाराजगी जताई और नागरिक सुविधाओं को दुरुस्त करने कहा है।



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

समाचार और भी...