लव जिहाद के खिलाफ कानून बनने के बाद पहली FIR...हिंदू नाम बताकर युवक ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म

लव जिहाद के खिलाफ कानून बनने के बाद पहली FIR...हिंदू नाम बताकर युवक ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म  

January 19, 2021

भोपाल। लव जिहाद के खिलाफ मप्र में धार्मिक स्वतंत्रता कानून बनने के बाद प्रदेश का पहला मामला बड़वानी जिले में सामने आया है। मामला पलसूद थाना क्षेत्र का है। आरोपी ने सनी नाम बताकर शादी का झांसा देकर 4 साल तक युवती से दुष्कर्म किया। रविवार दोपहर युवती द्वारा बात करने से मना करने पर युवक ने मारपीट की। युवती की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी सोहेल उर्फ सनी पिता मंजूम मंसूरी निवासी पलसूद के खिलाफ नए कानून के तहत केस दर्ज किया है। रविवार रात पुलिस ने जीरो पर केस दर्ज पलसूद को केस डायरी भेज दी है।

22 वर्षीय युवती बड़वानी में एक दुकान पर काम करती है। आरोपी सोहेल उर्फ सनी पिता मंजूम मंसूरी निवासी पलसूद ने रविवार दोपहर युवती से फोन पर बात करने की कोशिश की, लेकिन युवती ने बात करने से मना कर दिया। दोपहर 3 बजे आरोपी ने दुकान पर जाकर गालीगलौज की। साथ ही, दाएं पैर में लट्‌ठ मारकर जान से मारने की धमकी दी। टीआई राजेश यादव ने बताया, युवती ने पुलिस को बताया कि सोहेल उर्फ सनी ने खुद के विशेष जाति होने की पहचान छिपाई। शादी का झांसा देकर संबंध बनाए। युवक की असलियत पता चला, तो युवती ने रिश्ता रखने से मना किया। इस पर सोहेल ने फोटो वायरल करने की धमकी दी। युवती ने घटना की जानकारी मां, भाई को दी। इसके बाद शहर कोतवाली में शिकायत की।

2016 में डीजे लेकर गांव में गया था युवक
युवती ने पुलिस को बताया, वर्ष 2016 के अगस्त महीने में सोहेल उर्फ सनी गांव में शिव डोला में डीजे लेकर आया था। सोहेल ने किसी से युवती का मोबाइल नंबर लेकर उसी रात सोशल मीडिया पर मैसेज भेजा। इसके बाद फोन पर हुई बात में उसने अपना नाम सनी बताया था। नाम से युवती को लगा कि वह हिंदू है। फोन पर बात शुरू हो गई। इसके बाद सनी ने प्रपोज किया। इसके बाद युवक ने उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। करीब छह माह बाद युवती के गुरु भाई ने बताया कि लड़का विशेष जाति का है। इस बात पर दोनों के बीच विवाद भी हो गया। कुछ दिनाें बाद वापस सुलह हो गई। शादी का झांसा देकर लगातार शारीरिक शोषण करता रहा। बाद में पता चला कि युवक शादीशुदा है। इस बात पर दोनों में फिर विवाद शुरू हो गया। युवती ने सनी से बातचीत करना बंद कर दिया। अब आरोपी ने युवती के फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म करता रहा।

इन धाराओं में दर्ज हुआ केस
युवती की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ भादवि धारा 376, 376(2)(एन), 294, 323, 506 व मध्यप्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 की धारा 3, 5 में केस दर्ज किया गया है।



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन


समाचार और भी...