अनोखा मामला: छात्रा के प्यार में करवाया जेंडर चेंज, महिला टीचर बनी पुरुष, मां से बनी दो बच्चों का पिता, अब शिक्षा विभाग…

छात्रा के प्यार में करवाया जेंडर चेंज, महिला टीचर बनी पुरुष

हनुमानगढ़। राजस्थान में अनोखा मामला सामने आया है। यहां अपना जेंडर बदलकर एक महिला सरकारी शिक्षक पुरुष बन गई। अब इसके पुरुष बनने के बाद विभाग भी गफलत में है क्योंकि महिला ने नौकरी तो महिला श्रेणी में हासिल की लेकिन वही महिला अब दो बच्चों का पिता भी है। सबसे चौंकाने वाली बात तो यह है कि सरकारी दस्तावेजों में तो वह पुरुष है लेकिन शिक्षा विभाग के रिकॉर्ड में टीचर का नाम अभी भी महिला ही है। इसे बदलवाने के लिए वह पिछले 5 साल से चक्कर काट रहा है लेकिन विभाग यही सोचने में लगा है कि आखिर महिला को पुरुष कैसे बनाएं।

लड़की के प्यार की खातिर महिला टीचर बनी मर्द
जेंडर चेंज करवाने वाले टीचर का कहना है कि हनुमानगढ़ जिले में पैदा हुई। जैसे-जैसे बड़ी हुई मैं लड़के जैसी लगने लगी। मुझे हर काम लड़कों की तरह ही करना पसंद था। मेरी क्लास में पढ़ने वाली एक छात्रा मुझे बॉयफ्रेंड के रूप में देखती थी। उसी ने अपना पूरा जीवन मेरे नाम कर दिया। आखिरकार 18 लाख खर्च करके मैं पुरुष बन गया।

शिक्षा विभाग के रिकॉर्ड में नहीं चेंज हुआ जेंडर
दोनों के दो बच्चे हैं। फिलहाल 2016 से राजधानी जयपुर की एक स्कूल में नौकरी कर रहा हूं। 5 साल से चक्कर लगाने के बाद अभी तक शिक्षा विभाग के रिकॉर्ड में मेरा जेंडर चेंज नहीं हुआ है। मैं अब पुरुष हूं और मेरा हक लेकर रहूंगा।

अधिकारी बोले-फाइल में जेंडर बदलना चुनौती भरा काम है…
वहीं विभाग के बड़े अधिकारियों का कहना है कि यह मामला बहुत ही ज्यादा पेचीदा है क्योंकि जब टीचर की नौकरी लगी तो वह महिला श्रेणी में थी लेकिन अब वह पुरुष बन चुकी है। और उसकी करीब 10 साल की सर्विस भी हो चुकी है। ऐसे में इस अंतर को खत्म करना बेहद चुनौती भरा काम है।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

बलौदाबाजार कलेक्टर दीपक सोनी की अपील: DM ने जिलेवासियों...

बलौदाबाजार। बलौदाबाजार कलेक्टर दीपक सोनी ने सोमवार को अवैधानिक, गैर कानूनी अथवा लोक शांति भंग करने वालों की जानकारी कंट्रोल रूम में देने की...

CM साय अपने चचेरे भाई के दशगात्र कार्यक्रम में...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय सोमवार को अपने गृह जिले जशपुर के ग्राम बन्दरचुंआ पहुंचे। यहां वे अपने चचेरे भाई एवं जशपुर नगर...

बस्तर संभाग के इन तीन जिलों के तेन्दूपत्ता संग्राहकों...

सुकमा, बीजापुर और नारायणपुर जिले के तेन्दूपत्ता संग्राहकों को किया जाएगा नगद भुगतान इन जिलों में बैंकों की शाखाएं दूर होने की वजह से CM...

100 साल से अधिक पुराना हुआ दुर्ग का हिन्दी...

दुर्ग। दुर्ग में संभागीय आयुक्त कार्यालय का पता अब बदलने वाला है। आपको बता दें, 29, अप्रैल 2014 से दुर्ग संभाग नव गठित होकर...

ट्रेंडिंग