BREAKING: CG ओलम्पिक संघ के महासचिव पद से गुरुचरण सिंह होरा का रिजाइन CM बघेल ने किया स्वीकार… भिलाई नगर MLA देवेंद्र यादव होंगे नए GS; कथित ऑडियो टेप लीक के बाद क्या कुछ हुआ जानिए…?

रायपुर, भिलाई। छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा है। अब छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के सचिव पद से गुरुचरण सिंह होरा का रिजाइन मंजूरकर लिया गया है। सूबे के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ओलम्पिक संघ के अध्यक्ष की शाक्ति से ये इस्तीफा एप्रूव किया है। आपको बता दें कि, खेल एवं युवा कल्याण विभाग ने मंत्रालय ने इसकी जानकारी इंडियन ओलिंपिक एसोसिएशन की अध्यक्ष पीटी उषा को भी दे दी है। जिसेक बाद छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव अब गुरुचरण सिंह होरा की जगह भिलाई नगर के विधायक देवेंद्र यादव होंगे।

बतातें चले कि, एक विवादित ऑडियो टेप आने के बाद 20 सितम्बर 2022 को गुरुचरण सिंह होरा ने अपना इस्तीफा दे दिया था हांलाकि इस्तीफे में स्वास्थ्य कारणों का हवाला उन्होनें दिया था। काफी दिनों तक जब होरा का इस्तीफा मंजूर नहीं हुआ,तब ओलम्पिक संघ के सदस्यों ने बैठक बुलाकर अविश्वास प्रस्ताव लाया और होरा को पद से हटाकर देवेंद्र यादव को नया महासचिव बनाया था। संघ से हटाने की भनक लगने पर होरा ने बैठक को असंवैधानिक करार देते हुए, ओलम्पिक संघ के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पास जाने की बात कही थी लेकिन अब CM बघेल ने ही होरा के इस्तीफे पर अपनी स्वीकृति दे दी है।

अप्रैल में MLA देवेंद्र यादव चुने गए नए सचिव
अप्रैल में ही ओलम्पिक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष बशीर अहमद खान ने एक बैठक बुलाकर पूर्व महासचिव गुरुचरण सिंह होरा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया था। इस बैठक में 29 में से 20 सदस्य शामिल हुए और सभी ने इस पर सहमति जताई थी और होरा को हटाकर भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव को महासचिव बनाया जाए। अविश्वास प्रस्ताव इसलिए लगाया गया क्योंकि 8 अगस्त 2020 से होरा महासचिव के पद पर निर्विरोध चुने गए थे लेकिन उन्होंने अब तक ना कार्यकारिणी की मीटिंग बुलाई और ना ही सामान्य सभा बैठक ली थी। जबकि नियमानुसार साल में एक बार सामान्य सभा आयोजित करने का नियम है। होरा पर आरोप था कि संघ के आय-व्यय की ऑडिट रिपोर्ट कार्यकारिणी और सामान्य सभा में पेश नहीं की गई। इसके अलावा उन्होंने कोषाध्यक्ष पद के इस्तीफे के स्वीकृत हुए बिना ही अपनी मनमानी से उस पद पर दूसरे व्यक्ति को बैठा दिया था। होरा के खिलाफ यह भी कम्प्लेन आई थी कि उन्होंने नेशनल में गई टीम में भी खेलों के कोच और मैनेजर की जगह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भेज दिया था और दोस्तों रिश्तेदारों के रुकने के लिए आलिशान होटल बुक किया गया था जबकि खिलाड़ियों के रुकने की बेहतर व्यवस्था नहीं की गई थी।

क्या था वायरल ऑडियो क्लिप में…
दैनिक भास्कर डिजिटल की एक रिपोर्ट के अनुसार, प्रदेश के केबल टीवी कारोबार पर एकाधिकार को लेकर एक ऑडियो टेप वायरल हुआ था। उसमें कई मौकों पर बातचीत की रिकॉर्डिंग थी। इसमें कथित रूप से होरा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम का इस्तेमाल दबाव बनाने के लिए कर रहे थे। इसमें दावा किया गया है, अफसर उनको पल-पल की रिपोर्ट देते हैं, एसएसपी-कलेक्टर से कौन, क्या बात कर रहा है यह सब जानकारी उनके पास पहुंचती है। वे नेताओं के भरोसे नहीं अफसरों के भरोसे यह सब कर रहे हैं। दावा ये भी किया जा रहा था कि, विधान सभा में बैठकर 11 केबल कारोबारियों के खिलाफ एक एफआईआर भी दर्ज करायी गयी थी। रायपुर के सभी कांग्रेसी विधायक उसके विरोध में थे,यह भी दावा है कि वे भाजपा के आदमी हैं। मोहन भागवत से उनका सीधा संपर्क है, और यह बात मुख्यमंत्री भी अच्छी तरह जानते हैं। इस कथित ऑडियो टेप के आने के बाद होरा ने सफाई भी दी थी और ऑडियो टेंपेरिंग कराने की बात कही थी।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

छत्तीसगढ़ में 15 नक्सलियों की गिरफ्तारी: CM साय ने...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के नक्सल प्रभावित जिले दंतेवाड़ा के गिरसापारा की पहाड़ियों में सुरक्षाबल के जवानों ने पंद्रह नक्सलियों को गिरफ्तार कर...

भिलाई में दहेज प्रताड़ना की वजह से नवविहाहिता ने...

भिलाई। दुर्ग जिले में नवम्बे 2023 को नेवई थाना क्षेत्र में दहेज़ प्रताड़ना का एक मामला सामने आया था, जिसमें पुलिस ने आज मृतिका...

Chhattisgarh में IPS पोस्टिंग: IPS सुनील शर्मा होंगे राज्यपाल...

रायपुर। छत्तीसगढ़ में IPS अधिकारी की पोस्टिंग हुई हैं।छत्तीसगढ़ कैडर के 2017-बैच के IPS अधिकारी आईपीएस सुनील शर्मा को छत्तीसगढ़ के राज्यपाल के एडीसी...

लोकसभा चुनाव मतगणना: देश के विभिन्न क्षेत्रों में छत्तीसगढ़...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने रायपुर के नवीन विश्राम गृह में आयोजित मतगणना प्रेक्षकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित...

ट्रेंडिंग