Click to Get Latest Covid Updates

बारिश अलर्ट: छत्तीसगढ़ सहित देश के कई राज्यों में जोरदार बारिश के आसार... मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट... प्रदेश में अब तक 1132.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज, जाने आपके जिले में कितनी हुई बरसात

बारिश अलर्ट: छत्तीसगढ़ सहित देश के कई राज्यों में जोरदार बारिश के आसार... मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट... प्रदेश में अब तक 1132.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज, जाने आपके जिले में कितनी हुई बरसात  

October 16, 2021

रायपुर। राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक 1 जून 2021 से अब तक राज्य में 1132.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 16 अक्टूबर तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार कोरबा जिले में सर्वाधिक 1534.4 मिमी और महासमुन्द जिले में सबसे कम 935.9 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

वहीं आज से मौसम का मिजाज पूरी तरह बदल जाएगा। पिछले एक सप्‍ताह से धूप और उमस भरी गर्मी से लोग परेशान हैं। आज दिल्ली-यूपी बिहार सहित कई राज्यों में बारिश हो सकती है। इसके साथ ही दिल्ली में सर्दियों का आगमन शुरू हो जाएगा और मौसम बदल जाएगा। यानी मौसम एक बार फिर से करवट लेना वाला है। पहले ही दिल्‍ली-एनसीआर में इस वक्‍त सुबह और शाम को हल्‍की ठंड देखने को मिल रही है। वहीं भारतीय मौसम विभाग (IMD) की तरफ से आज यानी शनिवार को दिल्‍ली सहित देश के कई राज्यों में हल्‍की बारिश के आसार जताए गए हैं। इसके अलावा रविवार और सोमवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विज्ञानियों से मिली जानकारी के अनुसार बंगाल की खाड़ी और उसके आसपास एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। इसके प्रभाव से 16 से 19 अक्टूबर तक प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश के आसार है। साथ ही अधिकतम व न्यूनतम तापमान में भी गिरावट रहेगी।

ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय भागों पर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने और पूर्वी हवाओं के रूप में बंगाल की खाड़ी से नमी के प्रवाह से देश के पूर्वी, मध्य और उत्तरी मैदानी इलाकों में व्यापक बारिश होगी। ये बेमौसम बारिश निश्चित रूप से कटाई को बाधित करेगी और खड़ी फसलों के साथ-साथ खेत में पड़ी हुई कटी फसलों को भी नुकसान पहुंचा सकती है।

स्काइमेट के मौसम विज्ञानियों के अनुसार, 16 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश के पूर्वी हिस्सों, तेलंगाना और विदर्भ के कई हिस्सों में बारिश होने की उम्मीद है। 17 अक्टूबर तक, हम उम्मीद करते हैं कि बारिश की गतिविधियां लगभग पूरे उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, मराठवाड़ा, पंजाब के कुछ हिस्से, हरियाणा और राजस्थान के पूर्वी हिस्से में देखने को मिलेंगी।

पूर्व बिहार झारखंड और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में खरीफ फसलों की कटाई चल रही हैं। पंजाब और हरियाणा में चावल की कटाई चल रही है। मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के किसान भी सोयाबीन और अन्य किस्म की फसलों की कटाई में लगे हैं। शुष्क मौसम की स्थिति के कारण अक्टूबर का महीना कटाई के लिए आदर्श हुआ करता था।

आपके जिले का हाल
राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सरगुजा में 952.6 मिमी, सूरजपुर में 1277.1 मिमी, बलरामपुर में 1077.9 मिमी, जशपुर में 1131.7 मिमी, कोरिया में 1031.5 मिमी, रायपुर में 969.2 मिमी, बलौदाबाजार में 1026.6 मिमी, गरियाबंद में 1081.4 मिमी, धमतरी में 1035.6 मिमी, बिलासपुर में 1122.3 मिमी, मुंगेली में 1134.7 मिमी, रायगढ़ में 943.5 मिमी, जांजगीर चांपा में 1158.2 मिमी, कोरबा में 1534.4 मिमी, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 1418.9 मिमी, दुर्ग में 1018.2 मिमी, कबीरधाम में 983.1 मिमी, राजनांदगांव में 1011.0 मिमी, बालोद में 949.4 मिमी, बेमेतरा में 1239.9 मिमी, बस्तर में 1185.1 मिमी, कोण्डागांव में 1129.9 मिमी, कांकेर में 1054.1 मिमी, नारायणपुर में 1323.1 मिमी, दंतेवाड़ा में 1250.7 मिमी, सुकमा में 1456.8 मिमी, और बीजापुर में 1273.0 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

समाचार और भी...