Click to Get Latest Covid Updates

भिलाई में कोरोना से लड़ने संसाधन बढ़ा रहा BSP: इस सेक्टर के हॉस्टल को बनाया जाएगा 200 बेड का कोविड केयर सेंटर...इधर, सेक्टर-9 को मिले 5 नए वेंटिलेटर्स

भिलाई में कोरोना से लड़ने संसाधन बढ़ा रहा BSP: इस सेक्टर के हॉस्टल को बनाया जाएगा 200 बेड का कोविड केयर सेंटर...इधर, सेक्टर-9 को मिले 5 नए वेंटिलेटर्स  

May 1, 2021

भिलाई। कोरोना से लड़ने सेल-बीएसपी महत्वपूर्ण रोल अदा कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर और केंद्रीय मंत्री, पेट्रोल, प्राकृतिक गैस और स्टील धर्मेंद्र प्रधान के मार्गदर्शन में भिलाई स्टील प्लांट लगभग 500 बिस्तरों की जम्बो चिकित्सा सुविधा स्थापित करने की योजना पर कार्य कर रहा है। भिलाई स्टील प्लांट के जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय और अनुसंधान केन्द्र, सेक्टर-9 में वर्तमान में उपलब्ध सुविधाओं के अलावा इस नई सुविधा में कोविड की उपचार गैसीय ऑक्सीजन (जीओएक्स) के सहयोग से किया जायेगा।
पहले चरण में सेक्टर 03 में मैनेजमेंट ट्रेनी हॉस्टल नंबर 03 में 200 बेड कोविड केयर सेंटर स्थापित करने की योजना है। प्लांट में सबसे उपयुक्त बिंदु से पाइप लाइन के माध्यम से गैसीय ऑक्सीजन हॉस्टल तक लाया जाएगा। हॉस्टल के 75 कमरों में 150 बिस्तर और दो हॉल में लगभग 25-25 बेड होंगे। प्रारंभिक योजना के अनुसार यह नया कोविड केंद्र मई 2021 के अंत तक तैयार हो जाने की योजना है।

इस नई कोविड उपचार केन्द्र के निर्माण से न सिर्फ जिले में कोविड उपचार के बिस्तरों की संख्या में इजाफा होगा बल्कि लिक्विड मैडिकल आॅक्सीजन की बचत भी होगी। यह बचत विभिन्न अस्पतालों को भेजी जा रही आॅक्सीजन, समय और परिवहन व्यय आदि में भी होगी।

इधर, सेक्टर-9 अस्पताल के आईसीयू में कोविड मरीजों को बेहतर चिकित्सा प्रदान करने हेतु  5 नए वेंटिलेटर्स लगाए गए
सेल-भिलाई इस्पात सयंत्र ने कार्मिकों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने हेतु निरंतर प्रयास कर रही है। कोविड-19 के इस दौर में संयंत्र प्रबंधन ने अपने मुख्य चिकित्सालय में कई सुविधाओं में वृद्धि की है। कोविड-19 के गंभीर मरीजों के लिए संयंत्र प्रबंधन ने लगातार नई मशीनें वह वेंटिलेटर की व्यवस्था की है जिससे लोगों को उत्कृष्ट चिकित्सा प्राप्त हो सके। इसी प्रयास के तहत आज दिनांक 1 मई 2021 को पांच नए वेंटिलेटर सेक्टर 9 अस्पताल के आईसीयू में स्थापित किए गए।

विदित हो कि गम्भीर कोविड पेशेंट के ट्रीटमेंट हेतु इमरजेंसी के आधार पर 5 नए वेंटिलेटर खरीदे हैं जो आज जे एल एन हॉस्पिटल को हैंड ओवर किया गया। हॉस्पिटल की तात्कालिक जरूरतों के मद्देनजर इन 5 अतिरिक्त वेंटिलेटर की खरीदी को सयंत्र के मटेरियल मैनेजमेंट विभाग ने इमरजेंसी बेसिस पर प्रोसेस किया। आज  इन 5 अतिरिक्त वेंटिलेटर्स को जे  एल एन हॉस्पिटल में असेम्बल कर हॉस्पिटल के आई सी यू मे स्थापित किया है। इन नए वेंटिलेटर के लगने के पश्चात अब जे एल एन हॉस्पिटल में वेंटिलेटर की कुल संख्या अब 24 हो गयी है। इसके अतिरिक्त, कोविड के गंभीर मरीजों के ट्रीटमेंट हेतु हॉस्पिटल में 20  सी-पेप और 10 बाई-पेप मशीनें भी लगाई जा चुकी हैं।

इसके साथ ही बीएसपी के सेक्टर 9 अस्पताल में कोविड-19 गंभीर मरीजों को और अधिक उत्कृष्ट व गहन चिकित्सा प्राप्त हो सकेगी। ये वेंटीलेटर्स मरीजों के जीवन रक्षा में महत्वपूर्ण साबित होंगी।



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन


समाचार और भी...