दुर्ग के सांकरा पाटन में 120 करोड़ की लागत से बनेगा महात्मा गांधी उद्यानिकी और वानिकी विश्वविद्यालय का भव्य भवन… CM बघेल कल करेंगे शिलान्यास

  • विश्वविद्यालय के अंतर्गत 14 शासकीय एवं 4 अशासकीय महाविद्यालय संचालित

दुर्ग। छत्तीसगढ़ के VVIP जिले दुर्ग में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 21 मई को दुर्ग जिले के सांकरा पाटन में आयोजित भरोसे के सम्मेलन कार्यक्रम में महात्मा गांधी उद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय के भव्य प्रशासनिक एवं एकेडमिक भवनों सहित छात्रावास, अनुसंधान केन्द्र भवन, इंडोर स्टेडियम सहित अन्य भवनों के निर्माण का कार्य का शिलान्यास करेंगे। इस विश्वविद्यालय के विभिन्न भवनों का निर्माण 119 करोड़ 90 लाख 77 हजार रूपए की लागत से कराया जाएगा। यह लिए इस विश्वविद्यालय की शुरूआत 02 अक्टूबर 2020 को की गई थी। इस विश्वविद्यालय के अधीन राज्य में कुल 18 उद्यानिकी महाविद्यालय संचालित है, जिसमें 14 शासकीय एवं 4 अशासकीय महाविद्यालय हैं। विश्वविद्यालय के अधीन सांकरा में उद्यानिकी एवं वानिकी के पृथक-पृथक महाविद्यालय संचालित है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ की भौगोलिक स्थिति एवं जलवायु उद्यानिकी एवं वानिकी के लिए बेहद अनुकूल है। राज्य में उद्यानिकी एवं वानिकी को बढ़ावा देने के साथ ही इसके जरिए युवाओं को रोजगार का अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इसकी विशेष शिक्षा के लिए इस विश्वविद्यालय की स्थापना की गई। इस विश्वविद्यालय के अधीन संचालित महाविद्यालयों में अध्ययनरत स्नातक एवं स्नातकोत्तर उत्तीर्ण विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय द्वारा शीघ्र ही डिग्री भी दी जाएगी। विश्वविद्यालय द्वारा उद्यानिकी एवं वानिकी के क्षेत्र में पीएचडी भी कराई जा रही है। विश्वविद्यालय द्वारा हाल ही में स्नातक फाइनल ईयर का भी रिजल्ट जारी कर दिया गया है।

महात्मा गांधी उद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय पाटन सांकरा में 44.52 करोड़ रूपए की लागत से शैक्षणिक भवन, 10.01 करोड़ रूपए की लागत से संचालनालय भवन, 9.99 करोड़ रूपए की लागत से प्रशासनिक भवन, 95 लाख की लागत से कुलपति आवास तथा 6 करोड़ 7 लाख रूपए की लागत से आवासीय भवनों का निर्माण कराया जाएगा। विश्वविद्यालय परिसर में 3.47 करोड़ रूपए की लागत से 100 सीटर स्नातक बालिका छात्रावास, 4.77 करोड़ रूपए की लागत से 100 सीटर स्नातकोत्तर बालक छात्रावास, 3.47 करोड़ रूपए की लागत से 100 सीटर स्नातक बालक छात्रावास, 2.69 करोड़ की लागत से किसान छात्रावास, 48 लाख रूपए की लागत से सामुदायिक भवन, 56 लाख रूपए की लागत से बैंक एवं पोस्ट ऑफिस भवन, 7.6 करोड़ रूपए की लागत से इंडोर स्टेडियम, 7 करोड़ रूपए की लागत से उद्यानिकी महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र का प्रशासनिक भवन, 5.92 करोड़ रूपए की लागत से 75-75 सीटर बालक-बालिका छात्रावास तथा 12 करोड़ रूपए की लागत से वानिकी महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र के प्रशासनिक भवन सहित छात्रावास भवनों का निर्माण कराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

हौसलों की उड़ान: कभी स्कूटी नहीं चला पाती थी...

रायपुर। मजबूत इरादे और भरपूर आत्मविश्वास से ग्रामीण महिलाओं के लखपति दीदी बनने का सपना साकार हो रहा है। एक समय था जब मेरे...

शाला प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में शामिल हुए विधानसभा के पूर्व...

भिलाई नगर। शिक्षा का मूल उद्देश्य व्यक्ति के भीतर छिपी प्रतिभा को बाहर लाना है। हर बच्चे में बुद्धि होती है, लेकिन उसे सही...

भाजपाई कार्यकर्ताओं की समस्या सुनने पहुंचे वैशाली नगर MLA...

भिलाई नगर। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्य समिति की बैठक में दिए गए सुझाव अनुरूप वैशाली नगर विधायक रिकेश सेन प्रत्येक शनिवार जिला भिलाई...

बालोद अमलीडीह हत्याकांड : प्रेमी ने की थी शादीशुदा...

बालोद. छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के अमलीडीह हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा किया है. प्रेमी ने ही शादीशुदा महिला प्रेमिका की हत्या की थी. वारदात...

ट्रेंडिंग