भाजपा के दिग्गज नेता प्रीतपाल बेलचंदन गिरफ्तार: घोटाले के आरोप में हुई थी FIR, जिला सहकारी बैंक दुर्ग के पूर्व अध्यक्ष हैं बेलचंदन, क्या है पूरा मामला; पढ़िए खबर

भिलाई। बड़ी खबर राजनीतिक गलियारे से आ रही है। भाजपा नेता और जिला सहकारी बैंक के पूर्व अध्यक्ष प्रीतपाल बेलचंदन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आपको बता दें कि, घोटाले के आरोप में बेलचंदन के खिलाफ एफआईआर हुई थी। हाईकोर्ट के आदेश के बाद पुलिस ने हिरासत में लिया है। 2014 से 2020 के बीच का यह मामला है। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष रहे हैं और 2008 में विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं बेलचंदन। दुर्ग कोतवाली थाना क्षेत्र में मामला पंजीबद्ध था।

क्या है पूरा मामला, पढ़िए खबर…
छत्तीसगढ़ के दुर्ग स्थित जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित में 14.89 करोड़ रुपए से ज्यादा के गबन का मामला सामने आया था। इसे लेकर दो साल पहले बैंक के मुख्य कार्यपालन अधिकारी (CEO) पंकज सोढी ने दुर्ग कोतवाली में FIR दर्ज कराई थी। बैंक के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व BJP नेता प्रीतपाल बेलचंदन सहित संचालक मंडल पर बिना अनुमति अनुदान राशि और एकमुश्त समझौता योजना में छूट देने का आरोप था।


जिला सहकारी केंद्रीय बैंक में प्रीतपाल बेलचंदन और निर्वाचित संचालक मंडलजून 2015 से जून 2020 तक कार्यरत थे। आरोप है कि अप्रैल 2014 से मई 2020 के बीच पंजीयक सहकारी संस्थाएं से बिना अनुमति लिए 234 मामलों में 1313.50 लाख की अनुदान राशि गोदाम निर्माण के लिए दी गई। ऐसे ही अगस्त 2016 से जून 2019 तक एकमुश्त समझौता योजना में नियमों के विपरीत जाकर 186 मामलों में 175.61 लाख की छूट प्रदान की गई।

बैंक के पूर्व अध्यक्ष प्रीतपाल बेलचंदन और निर्वाचित संचालक मंडल पर धोखाधड़ी का आरोप था। कलेक्टर से की गई शिकायतों के आधार पर तत्कालीन ADM बिरेन्द्र बहादुर पंचभाई, उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं विनोद कुमार बुनकर, ऑडिटर अजय कुमार और कोऑपरेटिव इंस्पेक्टर एके सिंह की संयुक्त जांच टीम गठित की गई थी। टीम ने जांच कर 248 पन्नों की रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपी और इसमें बैंक के आर्थिक नुकसान की बात कही गई।

सहकारिता के चाणक्य माने जाने वाले प्रीतपाल बेलचंदन ने करीब ढाई साल पहले BJP से इस्तीफा दे दिया था। वे करीब 20 साल से भाजपा में सक्रिय थे। साल1997 में पहली बार बैंक के संचालक मंडल में चुनकर आए। 2004 में पुनर्गठन समिति के अध्यक्ष बने। 2008 से लगातार जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष रहे। इस दौरान भी उनके ऊपर बैंक गतिविधियों पर अनियमितता के भी आरोप लगे थे। तब उन्हें पद से हटाने के आदेश दिए गए।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

मंत्री ओपी के साथ 16वें वित्त आयोग के प्रतिनिधि...

रायपुर। 16वें वित्त आयोग के अध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया के नेतृत्व में सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल ने नालंदा परिसर की लाईब्रेरी का देर रात पहुंचकर अवलोकन...

15 जिलों को मिली सौगात: CM साय ने अत्याधुनिक...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने यातायात विभाग को सौगात दी है। रायपुर समेत 15 जिलों को नए इंटरसेप्टर वाहनों की सौगात मिली...

CG – TI सस्पेंड: कांग्रेस नेता पर CHO ने...

कांग्रेस नेता पर CHO ने लगाया 3 साल से दुष्कर्म करने का आरोप महासमुंद। छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले से दुष्कर्म का मामला सामने आया है।...

CG – IAS-पटवारी विवाद: पटवारी ने SDM पर लगाया...

CG - IAS-पटवारी विवाद दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में एसडीएम और पटवारी के बीच कथित मारपीट का मामला थाना पहुंच गया है। पटवारी ने...

ट्रेंडिंग