Lockdown से लेकर अब तक 42 लीटर 'Breast Milk' डोनेट कर चुकी है ये फिल्ममेकर, बताई वजह

 Lockdown से लेकर अब तक 42 लीटर 'Breast Milk' डोनेट कर चुकी है ये फिल्ममेकर, बताई वजह  

November 18, 2020

मुंबई। इस वक्त सोशल मीडिया पर 42 साल की फिल्ममेकर और प्रोड्यूसर निधि परमार हीरनंदानी जबरदस्त चर्चा का विषय है, वजह है उनका वो काम जिसके बारे में बात करने में भी लोग हिचकते हैं। दरअसल निधि की बातें लोगों के बीच उनके 'ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन' की वजह से हो रही हैं, हाल ही में मातृ्त्व का सुख पाने वाली निधि परमार इन दिनों 'ब्रेस्ट मिल्क' डोनेट कर रही हैं,आपको जानकर हैरत होगी कि निधि ने लॉकडॉउन के बाद से अब तक 42 लीटर 'ब्रेस्ट मिल्क' दान किया है।

'वाइस इंडिया' से बात करते हुए निधि परमार ने कहा कि मां बनने के बाद मुझे लगा कि मेरे पास काफी मात्रा में 'ब्रेस्ट मिल्क' स्टोर्ड है, मैं इसको लेकर काफी परेशान थी कि इसका मैं क्या करूं, मैंने कई लोगों से बात भी की लेकिन किसी की बात मुझे समझ में नहीं आई, फिर मैंने इंटरनेट पर इसको लेकर सर्च करना शुरू किया, तो मेरी नजर अमेरिका में चल रहे कई 'ब्रेस्ट मिल्क बैंक' पर पड़ी, जहां न्यू बार्न बेबी की लिए 'Breast Milk' का डोनेशन होता है।

इसके बाद मैंने अपने शहर में इस बारे में पता लगाने की कोशिश की तो मुझे अपनी गायनोकोलॉजिस्ट से पता चला कि मुंबई का एक अस्पताल (सूर्या अस्पताल) पिछले एक साल से 'ब्रेस्ट मिल्क बैंक' चला रहा है, बस फिर मैं वहां पहुंची और अपने बारे में बात की, जिस पर बैंक ने मुझे धन्यवाद देते हुए मेरे फैसले का स्वागत किया लेकिन इसके बाद ही देश में लॉकडाउन लग गया, तो मैं थोड़ा परेशान हो गई थी, तब बैंक ने कहा कि वह उनके घर आ जाएगा, जहां मैं जीरो कॉन्टैक्ट के जरिए डोनेट कर सकती हूं, जिसके बाद निधि ने डोनेशन शुरू किया और लॉकडाउन से लेकर अब तक हीरनंदानी ने 42 लीटर 'ब्रेस्ट मिल्क' का दान सूर्या अस्पताल के नियोनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट को दिया है।


'ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन' के बारे में सबको सोचना चाहिए बता दें कि इसअस्पताल में 65 बेड हैं और यहां प्री-मैच्योर शिशुओं की संख्या बहुत ज्यादा है,निधि इस अस्पताल में भी गई थीं कि ये पता लगाने कि उनके दान किए दूध का क्या हो रहा है लेकिन अस्पताल जाकर उन्हें खुशी हुई कि उनका डोनेट किया मिल्क नन्हें बच्चों के काम आ रहा है। निधि ने कहा कि 'ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन' सब्जेक्ट पर हमारे यहां खुलकर बातें नहीं होती है, जबकि इस बारे में सबको पता होना चाहिए क्योंकि ये बात हेल्थ से संबंधित हैं लेकिन अफसोस ये है कि हमारे यहां लोग इसे टैबू की तरह लेते हैं, फिलहाल निधि को अपने इस डोनेशन से बहुत सुकून मिला है। मालूम हो कि निधि परमार 'सांड की आंख' जैसी चर्चित फिल्मों से जुड़ी रही हैं।

जानिए 'ब्रेस्ट मिल्क बैंक' के बारे में खास बातें

  • मां का दूध (Breast Milk) सभी बच्चों को मिल सके इसके लिए ऐसे विशेष बैंक (Human milk bank) खोले जा रहे हैं, जहां मां का दूध उपलब्ध हो।
  • केंद्र सरकार इस प्रकार के बैंक बनाने के लिए धनराशि व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवा रहा है।
  • मां का दूध उपलब्ध करवाने वाले बैंक, ब्लड बैंक की तरह काम कर रहे हैं।
  • यहां महिलाएं अपना दूध वंचित बच्चों के भरण पोषण हेतु दान कर सकती हैं।
  • वैज्ञानिक प्रक्रिया के जरिए इस दूध को सामान्य से अधिक अवधि तक के लिए सुरक्षित रखा जाता है और जरूरतमंद बच्चे को पीने के लिए दिया जाता है।


विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन


समाचार और भी...