Click to Get Latest Covid Updates

VIDEO: मास्क को लेकर पुलिस वालों से भिड़ी महिला, कहने लगी - 'न मास्क पहनूंगी न चालान भरूंगी, यहीं करूंगी पति को KISS.. वायरल हो गया वीडियो

VIDEO: मास्क को लेकर पुलिस वालों से भिड़ी महिला, कहने लगी - 'न मास्क पहनूंगी न चालान भरूंगी, यहीं करूंगी पति को KISS.. वायरल हो गया वीडियो  

April 19, 2021

नई दिल्ली। 'दो गज़ की दूरी, मास्क है जरूरी'...कोरोना महामारी की शुरुआत से ही ये लाइनें लगातार सुनने को मिल रही है। इसका मकसद सीधा सा है कि लोग कोरोना को लेकर बने नियम कायदों का पालन करें। कोरोना से लड़ाई में सबसे बड़ा हथियार है मास्क। दुनियाभर के डॉक्टर-एक्सपर्ट्स यह कह चुके हैं कि अगर मास्क पहना है और लोगों से उचित दूरी बनाई हुई है तो कोरोना संक्रमण से काफी हद तक बचा जा सकता है।

हाल ही में हाई कोर्ट ने भी कहा था कि यदि कोई शख्स गाड़ी में अकेला है तो भी उसे मास्क पहनना जरूरी है। लेकिन यही मास्क पहनना एक महिला को इतना नागवार गुजरा कि उसने सड़क पर ही बवाल काट दिया। मामला दिल्ली का है, जहां गाड़ी में बैठे एक दंपती को जब मास्क पहना न देख पुलिस ने रोका तो पत्नी ने सड़क पर ही हंगामा खड़ा कर दिया।

मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। वीडियो में महिला अपने पति के साथ बिना मास्क और कर्फ्यू पास के दरियागंज इलाके में घूम रही थी। पुलिस वाले रोकते हैं तो वह बहुत ही अभद्र बरताव करती है।

वीडियो में सुना जा सकता है कि महिला कह रही है- तुमने मेरी कार रोकी कैसे? जो कोरोना के नाम पर तुम लोगों ने ड्रामा फैलाया है वो नहीं चलेगा, मैं चालान भी नहीं भरूंगी और यहीं सबके सामने पति को किस भी करूंगी। जो कर सकते हो कर लो।

महिला पुलिस आस पास न होने के चलते पुलिस थोड़ी असहाय दिखाई पड़ती है। हालांकि बाद महिला की बदतमीजी को देखते हुए महिला पुलिस को बुलाया जाता है। फिलहाल दोनों पति पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

वीडियो सामने आने पर सोशल मीडिया पर लोग महिला को जमकर भला बुरा कह रहे हैं। कई ट्विटर यूजर्स ने लिखा कि ऐसे लोगों के कारण ही कोरोना इतना अधिक फैल रहा है। 

वीडियो पर एक यूजर ने लिखा - ऐसी देवी जी को देश के कानून से सुरक्षा प्राप्त है। इसलिए ही ये कानून और वर्दी पहने कानून के रक्षकों के साथ अभद्र व्यवहार कर रही है। महिला आयोग आप कहते है महिला अबला है, देख कर तो लगता है हमारा कानून अबला है इन महिलाओ के आगे।

एक अन्य यूजर ने लिखा- ऐसे ही लोगो को छिछोरा बोला जाता है, सभ्य समाज को इनकी कोई जरुरत नहीं है, जिसकी अपनी कोई औकात नहीं होती वही दुसरो की औकात की बात करते है, कम से कम 3 महीने के लिए दोनों को अंदर करो।



विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन


समाचार और भी...