अवैध प्लॉटिंग पर ताबड़तोड़ कार्रवाई: प्लॉटिंग करने वालों पर FIR के बाद 6 की गिरफ्तारी, दुर्ग-भिलाई में हो रही सिर्फ खानापूर्ति

भिलाई। छत्तीसगढ़ में आज अवैध प्लॉटिंग पर जांजगीर-चांपा जिले में हुई कार्रवाई की चर्चा है। जांजगीर कलेक्टर तारनप्रकाश सिन्हा ने इस पर बड़ी कार्रवाई की है। एफआईआर के बाद 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अवैध प्लॉटिंग पर इससे पहले इतनी बड़ी कार्रवाई कहीं नहीं हुई है। अवैध प्लॉटिंग करने वालों को सीधे जेल भेजा गया है।

जबकि, इससे पहले दुर्ग-भिलाई में भी पिछले दिनों प्रशासन ने कार्रवाई की थी। उसके बाद से मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। मनोज राजपूत, देवभूमि समेत अन्य के खिलाफ कार्रवाई हुई थी। फिर अब सब नॉर्मल हो गया है। जबकि, जांजगीर-चांपा की कार्रवाई ने भू-माफियाओं को हीला दिया है।

जांजगीर-चांपा जिले में क्या कार्रवाई हुई है, यह भी जानिए
अवैध प्लाटिंग के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। कलेक्टर तारनप्रकाश सिन्हा द्वारा गठित टीम की रिपोर्ट के बाद पुलिस ने पांच लोगों को धोखाधड़ी के जुर्म में गिरफ्तार किया है। कलेक्टर ने नगर पालिका क्षेत्र जांजगीर नैला में अवैध प्लाटिंग और अवैध कॉलोनी निर्माण पर रोक लगाने व कार्रवाई करने के लिए एसडीएम जांजगीर और चांपा के नेतृत्व में 02 जांच दल का गठन किया था। इस टीम में तहसीलदार, सहायक संचालक नगर एवं ग्राम निवेश और नगर पालिका परिषद जांजगीर नैला व चांपा सीएमओ को सदस्य बनाया था।

जांच दल ने शहर के विभिन्न स्थलों में जाकर निरीक्षण किया। इसमें अनवर खान द्वारा पेंड्री खार, नकुल कहरा द्वारा पेंड्री रोड, पुष्पेंद्र कुमार आदित्य द्वारा नैला रेल्वे फाटक के पास, राकेश साहू द्वारा नैला रेलवे फाटक के पास और अर्जुन थवाईत द्वारा जोबी खार में बिना सक्षम अधिकारी की स्वीकृति और अनुमति के जमीन की प्लाटिंग करने का मामला सामने आया।

प्रथम दृष्टया आरोपियों द्वारा की जा रही प्लाटिंग कॉलोनी निर्माण हेतु प्रतीत होने और कॉलोनी विकास के लिए नगर पालिका से अनुमति नहीं लेने से मुख्य नगर पालिका अधिकारी द्वारा आरोपियों के विरुद्ध जांजगीर थाने में अलग-अलग अपराध दर्ज कराया गया।

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए थाना जांजगीर, चौकी नैला और सायबर सेल की संयुक्त टीम द्वारा आरोपियों को उनके घर में रहने की सूचना प्राप्त होने पर घेराबंदी कर आरोपियों को उनके घर से गिरफ्तार कर पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पूछताछ में आरोपियों ने जमीन प्लाटिंग कर बेचने के संबंध में कोई वैध दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया। साथ ही, प्लांटिग करना स्वीकार किया।

गवाहों ने बताया कि आरोपियों द्वारा प्लॉट की बिक्री ग्राहकों को यह कहकर किया गया है कि प्लॉट बिक्री पूर्व शासन के सभी नियम का पालन किया गया है और कॉलोनी निर्माण के लिए सक्षम अधिकारी से अनुमति प्राप्त किया गया है। इस तरह आरोपियों द्वारा आम लोगों के साथ धोखा कारित कर छल पूर्वक प्लॉट की बिक्री करने की पुष्टि होने पर धारा 420 के तहत अपराध दर्ज किया गया।

इसके बाद पुलिस ने अनवर खान (उम्र 44 वर्ष) निवासी वार्ड नंबर 15 बाजार पारा जांजगीर, नकुल कहरा (उम्र 37 वर्ष) निवासी दीनदयाल उपाध्याय नगर जांजगीर, पुष्पेन्द्र कुमार आदित्य (उम्र 40 वर्ष) निवासी समलाई चौक खोखरा, राकेश साहू (उम्र 45 वर्ष) निवासी वार्ड नंबर 09 जांजगीर और अर्जुन थवाईत (उम्र 70 वर्ष) निवासी वार्ड नंबर 06 जांजगीर को गिरफ्तार किया गया है।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

भिलाई में मॉल के सामने सड़क पर अवैध कब्जाधारियों...

भिलाई। भिलाई के जुनवानी स्थित सूर्या मॉल के सामने अवैध कब्जाधारियों के ऊपर नगर निगम ने आज कार्रवाई की है। निगम को लगातार शिकायत...

शहर में ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले ऑटो चालकों के...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में SSP संतोष सिंह के निर्देश पर ट्रैफिक पुलिस ने नो पार्किंग में खड़ी 248 ऑटो के चालकों पर...

बस्तर के इस जिले में 33 नक्सलियों ने किया...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के बीजापुर जिले में 33 नक्सलियों ने हथियार छोड़ सरेंडर किया हैं। बीजापुर जिले में 33 नक्सलियों द्वारा आत्मसमर्पण...

बिलासपुर से जगदलपुर के लिए 1 से शुरू होगी...

रायपुर। छत्तीसगढ़ में फ्लाइट कनेक्टिविटी में विस्तार होने जा रहा है। बिलासपुर से बस्तर के जगदलपुर एयरपोर्ट तक डायरेक्ट फ्लाइट सेवा 1 जून से...

ट्रेंडिंग