शिवनाथ नदी में एक और छात्र तेज बहाव में बहा: दोस्त के साथ नहाने गया था नाबालिग… हो गया हादसे का शिकार… कई घंटों के बाद भी कोई सुराग नहीं, 10वीं का छात्र था अनुराग

डेस्क। शिवनाथ नदी में नहाने गया एक छात्र तेज बहाव में बह गया है। जिसका अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है। मामला राजनांदगांव जिले के डोंगरगांव इलाके का है। बताया जा रहा है की नाबालिग छात्र अपने दोस्त के साथ नहाने के लिए गया था। उसी दौरान यह हादसा हो गया। मगर हादसे के कई घंटे बीत जाने के बाद भी लड़के का कुछ पता नहीं चला सका है। उसकी तलाश जारी है।

मिली जानकारी के मुताबिक विजयलक्ष्मी नगर में रहने वाला अनिरुद्ध पाठक(16) अपने दोस्त निखिल हेमनानी के साथ बरगाह पुल के पास शिवनाथ नदी के तट पर रविवार दोपहर को नहाने गया था। दोनों नहाने के लिए नदी में गए थे। मगर अचानक से अनिरुद्ध तेज बहाव वाले क्षेत्र में चल गया और डूबने लगा था।

यह देखकर उसके दोस्त निखिल ने उसे बचाने का प्रयास किया। उसका हाथ भी पकड़ा, लेकिन तेज बहाव के कारण उसका हाथ छूट गया और वह बह गया। घटना के बाद निखिला ने तुरंत इस बात की जानकारी परिजनों को दी थी। पुलिस को घटना की खबर दी गई थी।

सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। साथ में होमगार्ड के जवान भी आए थे। फिर लड़के की तलाश शुरू की गई, लेकिन देर शाम तक उसका कुछ पता नहीं चला था। अब सोमवार को फिर से अनिरुद्ध की तलाश शुरू कर दी गई है। नाबालिग को खोजने के लिए स्थानीय गोताखोर की मदद भी ली जा रही है। हादसे के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाला है। अनिरुद्ध 10वीं का छात्र था।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा “राइट टू तो एजुकेशन” के तहत...

रायपुर। छत्तीसगढ़ लोक शिक्षण संचालनालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम (आरटीई) अंतर्गत वर्ष 2022-23 में निजी विद्यालयों...

शराब भट्टी में लगा धक्का तो कर दिया जानलेवा...

भिलाई। शहर में अलग-अलग दारू भट्टी में आए दिन विवाद के मामले सामने आते हैं ताजा मामला सुपेला थाना क्षेत्र के देशी दारू भट्टी...

सावधान! भिलाई में खड़ी कार का शीशा तोड़कर चोरी…...

भिलाई। अगर आप भी कार अपने घर के बाहर खड़ी करते हैं तो यह खबर आपके लिए है जी हां भिलाई में खड़ी कार...

भिलाई निगम क्षेत्र में बकायदारों ने नोटिस के बाद...

भिलाई। भिलाई निगम क्षेत्र में ऐसे संपत्ति करदाता जो मार्च अप्रैल में संपत्ति कर जमा नहीं किए थे, उन्हें नगर निगम अधिनियम 1956 के...

ट्रेंडिंग