CG बिग ब्रेकिंग: सतनामी समाज का बड़ा प्रदर्शन… कलेक्ट्रेट में तोड़फोड़ कर लगाई आग… SP कार्यालय में खड़ी गाड़ियों को किए आग के हवाले, कई पुलिसकर्मी जख्मी, जानिए क्या है पूरा मामला

बलौदाबाजार। छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार से बड़ी खबर सामने आ रही है। जैतखाम में तोड़फोड़ को लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सतनामी समाज के लोगों ने उग्र प्रदर्शन कर दिया। सतनामी समाज के प्रदर्शनकारियों ने कलेक्टर परिसर में आग लगा दी है। भीषण आगजनी के बीच कई कर्मचारी भी अंदर फंस गये थे जिन्हे पीछे के रस्ते से बहार निकाला गया है। दरअसल तोड़फोड़ विभाग के बाद सतनामी समाज के प्रदर्शनकारियों ने आज कलेक्टर कार्यालय के घेराव की कोशिश की थी।

पुलिस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के साथ भी झूमाझटकी की। इस दौरान कई पुलिसकर्मीयों को चोट आने की भी खबर मिल रही है। फिलहाल, पुलिस टीम द्वारा प्रदर्शनकारियों को शांत कराने का काम जारी है।

जानकारी के मुताबिक, गिरौधपुरी में जैतखाम तोड़े जाने के विरोध में समाज के करीब हजारों लोग दशहरा मैदान में कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे थे। मंगलवार को यह भीड़ कलेक्ट्रेट और जिला पंचायत कार्यालय का घेराव करने पहुंच गए। कुछ देर में ही प्रदर्शनकारी उग्र हो गए।

लोगों ने कलेक्ट्रेट में खड़े वाहनों में पथराव कर दिया। वहां खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ और आगजनी करने के बाद कलेक्टर कार्यालय और जिला पंचायत कार्यालय में आग लगा दी। समाज के लोगो का आरोप है कि पुलिस ने जैतखाम में तोड़फोड़ के मामले में जिन 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, वो असली अपराधी नहीं हैं।

क्या है पूरा मामला –

दरअसल, गिरौदपुरी धाम के पास मानाकोनी में एक पुरानी गुफा है। जिसे बाघिन गुफा के नाम से भी जाना जाता है। यहा पर जैतखाम भी है, जिसे सतनामी समाज के द्वारा पूजा की जाती है। 15-16 मई 2024 की रात में किसी ने जैतखाम को क्षति पहुंचाते हुये तोड़फोड़ की थी। सुबह जब इस घटना की जानकारी समाज के लोगों को हुई तो बड़ी संख्या में लोगों ने वहां पहुंचकर प्रदर्शन किया था। घटना के बाद से अबतक के पुलिस द्वारा मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की गई थी। इस घटना से समाज के लोग काफी नाराज थे। आज समाज के हजारों लोग कलेक्टोरेट परिसर का घेराव किये और परिसर में रखी गाड़ियो में आग लगा दी। अभी भी उग्र प्रदर्शन जारी है। पुलिस लगातार भीड़ को समाझाने में लगी हुई है।

बता दें कि आज ही गृहमंत्री विजय शर्मा ने जांच के आदेश दिये हैं और कड़ी कार्रवाई की बात की थी। गृहमंत्री ने कहा..सतनामी समाज के विभिन्न संगठनों एवं प्रतिनिधियों की मांग पर गिरौदपुरी धाम के पवित्र अमरगुफा के नजदीक जैतखांभ में हुई तोड़फोड़ पर मुख्यमंत्री विष्णु देव साय के निर्देशानुसार उपमुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री विजय शर्मा ने इस पूरे मामले के लिए न्यायिक जांच कराने की घोषणा की है। उन्होंने दो टूक कहा की प्रदेश में कही भी सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वाली घटनाओं को बर्दाश्त नही की जाएगी ऐसे कृत्य करने वाले दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सभी से सामाजिक साैहार्द्र बनाए रखने की अपील भी की है। गौरतलब है की विगत दिनों 15-16 मई रात को पूज्य जैतखांभ को क्षति पहुंचाने की कोशिश की गई थी।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

छत्तीसगढ़ में साय कैबिनेट के अहम फैसले: छत्तीसगढ़ बेवरेज...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय की अध्यक्षता में बुधवार को मंत्रालय महानदी भवन में कैबिनेट की बैठक आयोजित की गई। बैठक में...

सीनियर IPS ऑफिसर रतन लाल डांगी बने डॉक्टर: हेमचंद...

रायपुर, दुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग के शोधार्थी स्तन लाल डांगी (वरिष्ठ आई. पी. एस) ने आज विश्वविद्यालय के टैगोर हॉल में अपने शोध-प्रबंध...

कैबिनेट बैठक के दौरान मंत्री पद से बृजमोहन अग्रवाल...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है। साय कैबिनेट की बैठक चल रही थी इसी दौरान्बृजमोहन...

नई दिल्ली में रिपब्लिक डे परेड में शामिल कैडेट्स...

अनुशासन, साहस और निस्वार्थ भाव से सेवा के लिए प्रेरित करता है एनसीसी: मुख्यमंत्री विष्णु देव साय रायपुर। नई दिल्ली में रिपब्लिक डे परेड में...

ट्रेंडिंग