Bhilai Times

बैंकों के बंद होने से व्यापार जगत को हो रही भारी परेशानी: भिलाई चेम्बर ने केंद्रीय वित्तमंत्री को लिखा पत्र…वित्तीय वर्ष के अंतिम सप्ताह में हड़ताल और अन्य कारणों से बंद चल रहे बैंक…

बैंकों के बंद होने से व्यापार जगत को हो रही भारी परेशानी: भिलाई चेम्बर ने केंद्रीय वित्तमंत्री को लिखा पत्र…वित्तीय वर्ष के अंतिम सप्ताह में हड़ताल और अन्य कारणों से बंद चल रहे बैंक…

भिलाई। छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज, भिलाई इकाई द्वारा केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर व्यापारियों को हो रही परेशानी से अवगत कराया गया है। वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंतिम सप्ताह में हड़ताल और अन्य कारणों से बैंकों में कामकाज बंद से व्यापार जगत को बहुत-सी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। चेम्बर ने मांग की है कि बैंकिंग सेवा को आवश्यक सेवा के अंतर्गत रखते हुए बैंकों में कामकाज सुचारू रूप से बनाये रखने के लिए 31 मार्च तक प्रतिदिन दो से तीन घंटे अतिरिक्त कार्य अवधि बधाई जाए।

चेम्बर के प्रदेश महामंत्री अजय भसीन ने बताया कि अगले तीन दिनों में वित्तीय वर्ष 2021-22 की समाप्ति हो रही है, लेकिन इसी बीच बैंकों में हड़ताल और अन्य कारणों से कामकाज बंद है। इसके चलते व्यापार जगत को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कैश जमा, चेक क्लियरिंग जैसे कई बैंकिंग कार्य रूके हुए हैं एवं टैक्स भुगतान में भी दिक्कत आ रही है।

भसीन ने बताया कि व्यापारियों का एक बड़ा वर्ग ऐसा भी है जो दैनिक कारोबार में मिलने वाले कैश जमा करवाने के लिए बैंक पर निर्भर है। ऐसे में बैंकों के बंद होने से लगभग 2 हजार से ढाई हजार करोड़ का लेनदेन प्रभावित हो गया है।

चेम्बर के भिलाई इकाई अध्यक्ष गारगी शंकर मिश्र ने बताया कि चालू वित्त वर्ष कोविड महामारी के कारण वैसे ही उतार चढ़ाव भरा रहा है। व्यापार बुरी तरह प्रभावित हुआ है और इससे सालभर की आर्थिक गतिविधियों भी प्रभावित हुई है।

वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर व्यापार और लेनदेन सामान्य दिनों की तुलना में वैसे भी 25 फीसदी तक बढ़ जाते हैं। ऐसे में वित्त वर्ष की समाप्ति पर कामकाज के सुचारू संचालन के लिए बैंकिंग कार्यअवधि बढ़ाये जाने की आवश्यकता थी बावजूद इसके बैंक बंद पड़े हुए हैं। इससे व्यापार बुरी तरह प्रभावित हो रहा है।


Related Articles