कलेक्टर ऋचा ने CSEB की ली समीक्षा बैठक… बारिश से पहले मरम्मत कार्य, 30 मिनट के भीतर निर्बाध बिजली व्यवस्था दुरूस्थ करने दिए निर्देश… बिजली संबंधित शिकायत के लिए टोल फ्री नम्बर पर कर सकते है संपर्क

दुर्ग। कलेक्टर ऋचा प्रकाश चौधरी की अध्यक्षता में आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में छत्तीसगढ़ स्टेट इलेक्ट्रिकल बोर्ड के अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। इस दौरान उन्होंने वर्तमान में विद्युत आपुर्ति व्यवस्था, सुरक्षा के प्रबंध एवं ट्रांसफार्मरों की उपलब्धता की जानकारी ली। बैठक में उपस्थित अधिकारियों ने बताया कि मेंटेनेन्स का कार्य किया जा चुका है। डैमेज पार्ट्स बदलने का कार्य किया जा रहा और वर्तमान मे केबल बदलने का कार्य अभी शेष है। कलेक्टर ने शेष कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर चौधरी ने बारिश से पूर्व बिजली संबंधित सभी मरम्मत कार्यों का शीघ्र पूर्ण करने विद्युत विभाग के अधिकारी को निदेर्शित किया। साथ ही उन्होने ग्रामीण क्षे़त्र मे सुधारने लायक ट्रांसफार्मर को सुधारे जाने का कार्य किया जाना सुनिश्चित करें ताकि उन्हे बिजली के चलते कृषि कार्य में असुविधा ना हो। इसके साथ आवश्यकता अनुसार ट्रांसफार्मर बदलने का कार्य भी किया जाना सुनिश्चित किया जायें। उन्होंने जल जीवन मिशन में बिजली कनेक्शन हेतु लंबित कनेक्शन तत्काल पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बिजली लाइनों के 10 फ़ीट या उससे कम के दायरे में आने वाले पेड़ों की शाखाओं को चिन्हांकित कर उन्हे बारिश के पहले काटा जाएं। कलेक्टर ने शहरी एवं ग्रामीण दोनों इलाकों में बारिश के पहले बिजली व्यवस्था दुरूस्थ किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बिजली विभाग द्वारा जारी टोल फ्री नं. 1912 से प्राप्त शिकायतों का तत्परता से निदान पर बल देने कहा। साथ ही अघोषित बिजली कटौती की शिकायत मिलते ही 30 मिनट के भीतर निर्बाध बिजली व्यवस्था दुरूस्थ किए जाने के निर्देश दिए। सभी स्थानों पर नियमित वोल्टेज एवं टांसफार्मरों की जांच कर खराब टांसफार्मरों को बदलने कहा। जिले के नागरिकों के लिए बिजली के शिकायत दर्ज कराने के लिए टॉल फ्री नंबर 1912 जारी किया गया है।

बैठक में बिजली विभाग के अधिकारी ने बताया कि भिलाई, रिसाली एवं नेहरूनगर क्षेत्र में मैन पॉवर की कमी होने के कारण कार्य में विलंब होता है। जिस पर कलेक्टर ने ठेकेदार के माध्यम से लाईन मेन की उपलब्धता सुनिश्चित कर इन क्षेत्रों में नियमित जांच एवं मेन्टेनेंस कार्य करवाने को कहा। उन्होंने हुकिंग कनेक्शन के द्वारा बिजली चोरी होने के मामले की भी समीक्षा की। इससे बचने के लिए उन्होंने विजिलेंस के माध्यम से फर्जी कनेक्शन का निरीक्षण कर उन्हे बंद करने एवं नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। डिजिटल मीटर लगवाना सुनिश्चित करने को कहा। बैठक मे जिले के सभी विकासखण्ड के विद्युत विभाग के अभियंता व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

छत्तीसगढ़ में साय कैबिनेट के अहम फैसले: छत्तीसगढ़ बेवरेज...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय की अध्यक्षता में बुधवार को मंत्रालय महानदी भवन में कैबिनेट की बैठक आयोजित की गई। बैठक में...

सीनियर IPS ऑफिसर रतन लाल डांगी बने डॉक्टर: हेमचंद...

रायपुर, दुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग के शोधार्थी स्तन लाल डांगी (वरिष्ठ आई. पी. एस) ने आज विश्वविद्यालय के टैगोर हॉल में अपने शोध-प्रबंध...

कैबिनेट बैठक के दौरान मंत्री पद से बृजमोहन अग्रवाल...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है। साय कैबिनेट की बैठक चल रही थी इसी दौरान्बृजमोहन...

नई दिल्ली में रिपब्लिक डे परेड में शामिल कैडेट्स...

अनुशासन, साहस और निस्वार्थ भाव से सेवा के लिए प्रेरित करता है एनसीसी: मुख्यमंत्री विष्णु देव साय रायपुर। नई दिल्ली में रिपब्लिक डे परेड में...

ट्रेंडिंग