Bhilai Times

जिम में फिजिकल ट्रेनिंग, प्रोटीन के नाम पर घोड़े का इंजेक्शन लगाया… फिर ट्रेनर नाबालिग का करता रहा रेप… फोटो-वीडियो बना कर ब्लैकमेलिंग का खेल, पहले से शादीशुदा निकला आरोपी, अब तेजाब से नहलाने की धमकी

जिम में फिजिकल ट्रेनिंग, प्रोटीन के नाम पर घोड़े का इंजेक्शन लगाया… फिर ट्रेनर नाबालिग का करता रहा रेप… फोटो-वीडियो बना कर ब्लैकमेलिंग का खेल, पहले से शादीशुदा निकला आरोपी, अब तेजाब से नहलाने की धमकी

जिम में फिजिकल ट्रेनिंग, प्रोटीन के नाम पर घोड़े का इंजेक्शन लगाया… फिर बनाकर ट्रेनर नाबालिग का करता रहा रेप

कानपुरः यूपी के कानपुर से एक शर्मनाक घटना सामने आई है। नाबालिक ने ट्रांसपोर्टर पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़िता का आरोप है कि ट्रांसपोर्टर अर्जुन सिंह ने घोड़े को लगने वाले इंजेक्शन लगाकर यौन शोषण किया। इसके बाद बंधक बना कर रेप करता रहा। इस दौरान उसने पीड़िता के अश्लील वीडियो और फोटो बनाकर वायरल करने की धमकी देकर लगातार रेप करता रहा। नाबालिग ने आरोपी के खिलाफ मार्च 2023 में एफआईआर दर्ज कराई थी। आरोपी अब पीड़िता को एसिड से नहलाने की धमकी दे रहा है। पीड़िता ने सीपी से न्याय की गुहार लगाई है।

फजलगंज थाना क्षेत्र स्थित दर्शनपुरवा क्षेत्र में रहने वाली नाबालिग ने फरवरी 2021 में एचएच जिम ज्वाइन किया था। इसी दौरान नाबालिग की मुलाकात चकेरी के मंगला विहार निवासी अर्जुन सिंह से हुई थी। अर्जुन सिंह का खुद का ट्रांसपोर्टर है। पीड़िता का आरोप है कि फिजिकल ट्रेनिंग के दौरान अर्जुन सिंह प्रोटीन खाने की सलाह देने लगा। इस दौरान उसने नाबालिगता और अपरिपक्वता का फायदा उठाकर कई तरह के इंजेक्शन लगाने लगा। इसमें से एक इंजेक्शन ऐसा था जो घोड़ों को लगाया जाता था। इंजेक्शन के नशे का फायदा उठाकर उसने कई बार रेप किया, और उसने अश्लील वीडियो और फोटो बना लिए।

पहले से था शादीशुदा, हैवानियत की हदें पार
पीड़िता ने बताया कि जबकि अर्जुन पहले से शादीशुदा था। उसके दो बच्चे भी थे, अर्जुन ने पत्नी को छोड़ रखा था। अर्जुन यह कभी नहीं बताया कि वह पहले से शादीशुदा है। अर्जुन का एक घर किदवई नगर में भी है। उसने किदवई नगर वाले घर में बंधक बनाकर कई दिनों तक रेप करता था। इस दौरान अर्जुन हैवानियत की सारी हदें पार कर देता था। इंजेक्शन की वजह से मेरी सोचने-समझने की क्षमता खत्म हो गई थी।

शादी के कूटरचित दस्तावेज तैयार कराए
पीड़िता ने बताया कि मैं कभी भी किसी मंदिर या फिर आर्यसमाज के मंदिर नहीं गई। अर्जुन ने शादी के कूटरचित दस्तावेज तैयार करा लिए। मेरी समझ में आ गया कि अर्जुन अब खुद बचाने के लिए इस तरह का षड्यंत्र रच रहा है। नशे की हालत में उसने मेरे शादी के दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करा लिए। जब मैंने इसका विरोध किया तो, उसने मेरे हाथों में ब्लेड से कट के निशान बनाए, जिसके निशान आज भी मेरे हाथों में हैं। इंजेक्शन और दवाएं देकर मानसिक विक्षिप्त दर्शाने की कोशिश की।

गंभीर धाराओं में दर्ज है केस
फजलगंज थाने में पीड़िता ने मार्च 2023 को अर्जुन सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। वहीं, पुलिस ने अर्जुन के खिलाफ आईपीएस की धारा 376, 323, 504, 506, 328, 342, 420, 468, 471, 467, बाल अधिनियम 3,4 और 67 में दर्ज किया है। हैरानी की बात यह है कि पुलिस तीन महीने बाद भी अर्जुन सिंह को अरेस्ट नहीं कर पाई है। अब आरोपी पीड़िता को तेजाब से नहलाने की धमकी दे रहा है। परिवार को जान से मारने की धमकी दे रहा है।

एसिड अटैक की धमकी
वकील साक्षी विद्यार्थी ने बताया कि अर्जुन सिंह ने एक नाबालिग बच्ची से रेप किया है। प्रतिबंधित इंजेक्शन जो घोड़ों को लगाए जाते हैं, उन्हें लगाकर अपनी गिरफ्त में लिया था। आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो चुकी है। उसने पीड़िता को कई बार जान से मारने की कोशिश कर चुका है। बीते 6 जून को आरोपी ने धमकी दी है कि यदि वह घर से निकली एसिड अटैक कर देंगे। सीपी से न्याय मांगने आए हैं कि ऐसे अपराधी खुले आम क्यों घूम रहे हैं।

एसीपी को अलग से टीम बनाने के निर्देश
पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड के मुताबिक मैंने एसीपी से इस संबंध में वार्ता की है। बीते 15 मार्च 2023 को 376 का मुकदमा दर्ज हुआ था। इसमें अभियुक्त की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इसकी लोकेशन यूपी के बाहर की मिल रही थी। पीड़िता ने बताया कि 6 जून आरोपी फिर मिला था। लेकिन इसकी जानकारी पुलिस को नहीं हो पाई थी। आरोपी के नंबर सर्विलांस पर लगाए जाएंगे। एसीपी को निर्देश दिए हैं कि अलग से टीम बनाई जाए। इंजेक्शन वाली जो बात आ रही है, उस संबंध में 328 धारा लगाई गई है।


Related Articles