Bhilai Times

सुपेला संडे बाजार को करे व्यवस्थित : जनहित संघर्ष समिति ने निगम आयुक्त को सौंपा ज्ञापन, सर्वे बोले-जल्द इस दिशा में की जाएगी पहल, शारदा ने कार्यवाही न होने पर आंदोलन की दी चेतावनी…

सुपेला संडे बाजार को करे व्यवस्थित : जनहित संघर्ष समिति ने निगम आयुक्त को सौंपा ज्ञापन, सर्वे बोले-जल्द इस दिशा में की जाएगी पहल, शारदा ने कार्यवाही न होने पर आंदोलन की दी चेतावनी…

भिलाई। जनहित संघर्ष समिति के संयोजक शारदा गुप्ता व संरक्षक महेश वर्मा के नेतृत्व में आज नगर निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे को ज्ञापन सौंपकर फिर व्यवस्थित करने की मांग की गई। समिति के पारस जंघेल महेश वर्मा व शारदा गुप्ता ने संयुक्त रूप से कहा कि 100 फीट की चौड़ी सड़क संडे बाजार 10 फीट में सिमट जाती है। रोज गुजर रहे हजारों वाहन से संडे बाजार से फिर चरमरा गई है।

सुपेला चौक से लेकर राजेंद्र प्रसाद चौक तक जाम की स्थिति बनने लग गई है। ग्राहक गाड़ियों को सड़क पर ही पार्किंग कर रहे हैं । इस अवैध पार्किंग से सड़क केवल 10 सीट ही चलने योग्य बच जाती है। व्यापारी अपने सामान को दिन- प्रतिदिन आगे बढ़ाते जा रहे हैं। पटरी पार के लोगों के लिए यह एक ही रास्ता है, जहां से लोग आईआईटी व रुंगटा कॉलेज जैसे महत्वपूर्ण संस्थानों में आना-जाना करते हैं। यहीं से संयंत्र कर्मी आना-जाना करते हैं और पटरी पार सेक्टर बच्चे ट्यूशन के लिए आना-जाना करते हैं।

पटरी पार के लोगों के लिए यही एक रास्ता है और दूसरा कोई रास्ता नहीं है। इसी रोड पर दो-दो शराब की दुकानें हैं, जहां से महिलाएं भी आना-जाना नहीं करती हैं। शराब दुकान के कारण भी जाम लगता है। जनहित संघर्ष समिति के संयोजक शारदा गुप्ता ने इस रोड पर फ्लाईओवर की भी मांग की थी, किंतु प्रशासन ने फ्लाईओवर को अनसुना करते हुए अंडर ब्रिज को प्राथमिकता दी।

वह भी अभी तक शुरुआत नहीं हो पाई है। रोज जाम से लोग हलकान हैं। फोरलेन की भी यही स्थिति है। कुछ फीट केवल लोगों के आवागमन के लिए साधन बचा हुआ है। इसमें भी लोग गिरकर चोटिल हो रहे हैं। ट्रैफिक पुलिस केवल वसूली अभियान में लगी हुई है। पुलिस को ट्रैफिक को कंट्रोल करना चाहिए।

ट्रैफिक कंट्रोल न करते हुए वसूली पर ज्यादा ध्यान दे रही है। ट्रैफिक डीएसपी को ट्रैफिक व्यवस्था संचालन से कोई मतलब नहीं है। सड़क के दोनों तरफ दुकान हैं। यहां आने-जाने वाले अपने वाहन को सड़क पर ही खड़े कर देते हैं। इसके साथ ही दोनों और ठेले खोमचे वाले अतिक्रमण कर चुके हैं। अतिक्रमण के खिलाफ निगम भी कार्रवाई करता नहीं है। यातायात प्रभारी रोज हवा -हवाई अपना बयान दे रहे हैं कि यातायात व्यवस्था सुदृढ़ की जा रही है।

पूर्व में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशिमोहन सिंह के अथक प्रयास से संडे बाजार को व्यवस्थित किया गया था, किंतु फिर से अतिक्रमणकारियों के हौसले बुलंद हैं। जनहित संघर्ष समिति इसके लिए फिर से आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा। पूर्व में ही जनहित संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने धरना-प्रदर्शन करके इस रोड को जाम से मुक्ति दिलाया था ।

शीघ्र ही कलेक्टर, एसपी से मिलकर जनता की समस्याओं से रूबरू कराया जाएगा अन्यथा रोड की लड़ाई लड़ी जाएगी। मांग करने वाले में जनहित संघर्ष समिति के संयोजक प्रभु नाथ मिश्रा, पार्षद पारस जंघेल, महेश वर्मा, प्रवीण पांडे, शारदा गुप्ता, नीशु पांडे, पूर्व पार्षद डॉ. दिवाकर भारती, पूर्व पार्षद राजेश प्रधान, उमेश तिवारी, राम हिंद आर्य, राजेश सिंह, हरिशंकर चतुर्वेदी, श्री निवास मिश्रा, इंद्रजीत सिंह, नरेश शिवशंकर यादव, गिरीश खापर्डे, रामअवतार जंघेल, खूबचंद साहू बंटी, नाहर, नवेन्द्र राजपूत, मानिक साहू, मुन्ना राजपूत, गंगा सिंह राजपूत, भास्कर राव व नरेश सहित अन्य कार्यकर्ता शामिल थे।


Related Articles