7 साल बाद हुआ सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा: गर्लफ्रेंड के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़े जाने पर दोस्त को मारा डाला, पुलिस ने इस तरह से किया पर्दाफाश, पढ़िए ये क्राइम स्टोरी

7 साल बाद हुआ सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा

क्राइम डेस्क। दमोह जिले के हटा में एक सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा हुआ है. पुलिस ने इस मामले में मृतक के दो दोस्तों को गिरफ्तार किया है.आरोपियों से पूछताछ के दौरान ऐसे खुलासे हुए हैं जिसे सुनकर अधिकारी भी चौक गए. आरोपियों की निशानदेही पर मृतक के कंकाल गौरी शंकर मंदिर के पीछे से जमीन से निकाला गया.

क्या है पूरा मामला
दमोह के एसपी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि 2016 में हटा क्षेत्र में रहने वाले अनिकेत मिश्रा की गुमशुदगी दर्ज हुई थी. यह बताया गया था कि वह बुंदेली मेले में घूमने के लिए गया था.इसके बाद उसका कहीं कोई पता नहीं चल पाया.परिवार के लोगों ने यह भी बताया कि वह टीकाराम और एक अन्य युवक के साथ मेले में गया था. जब पुलिस ने उस समय टीकाराम और उसके एक अन्य नाबालिक साथी को बुलाकर पूछताछ की तो दोनों ने अनिकेत मिश्रा के अपने साथ नहीं होने की बात बताई. पुलिस ने मामूली पूछताछ के बाद दोनों को छोड़ दिया.इसके बाद अनिकेत मिश्रा के लापता होने का मामला ठंडे बस्ते में चला गया. उस समय हटा में थाना प्रभारी के रूप में वीरेंद्र बहादुर सिंह मौजूद थे. इस मामले में अब पुलिस ने अंधे कत्ल का खुलासा करते हुए अनिकेत मिश्रा का शव बरामद कर लिया है.संयोग की बात है कि अभी भी वीरेंद्र बहादुर सिंह दमोह में ही पदस्थ हैं और वर्तमान में एसडीओपी के पद पर कार्यरत हैं. यही वजह है कि उन्हें थोड़ी सी जानकारी लगने पर पूरे मामले का पर्दाफाश हो गया.

अवैध संबंध में गई जान
पुलिस कप्तान ने बताया कि अनिकेत मिश्रा, टीकाराम और एक अन्य नाबालिग एक ही मकान में किराए से रहते थे. इसी मकान के समय एक युवती रहती थी. उससे टीकाराम के साथ अवैध संबंध थे.टीकाराम को यह शक था कि अनिकेत मिश्रा उसके अवैध संबंधों की बात लोगों को बता रहा है. दरअसल अनिकेत मिश्रा ने टीकाराम और उक्त युवती को संदिग्ध अवस्था में देख लिया था.इसी के चलते टीकाराम आग बबूला हो गया और उसने दोस्त को ठिकाने लगा दिया.

पुलिस कप्तान ने बताया कि टीकाराम अपने एक नाबालिक दोस्त के साथ अनिकेत मिश्रा को लेकर गौरी शंकर मंदिर के पीछे श्मशान वाले इलाके में पहुंचाय वहां अनिकेत मिश्रा का गला काट कर उसकी हत्या कर दी गई.इसके बाद समीप ही एक नाले में उसके शव को दफना दिया गया.

ऐसे मिला अंधे कत्ल का सुराग
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि टीकाराम के साथ एक नाबालिक लड़का भी वारदात में शामिल था. वर्तमान में वह बालिग हो चुका है. उसने एक हफ्ते पहले शराब के नशे में अनिकेत मिश्रा को मारकर गाड़ देने की बात किसी व्यक्ति के सामने बोल दी थी.किसी माध्यम से पुलिस के पास सुराग पहुंच गया. पुलिस ने अनिकेत के दोस्त टीकाराम और एक अन्य को उठाकर सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने वारदात कबूल कर ली.इसके बाद उनकी निशानदेही पर कंकाल भी बरामद कर लिया गया. कंकाल को डीएनए टेस्ट के लिए भेजा जा रहा है.

खबरें और भी हैं...
संबंधित

भिलाई में मॉल के सामने सड़क पर अवैध कब्जाधारियों...

भिलाई। भिलाई के जुनवानी स्थित सूर्या मॉल के सामने अवैध कब्जाधारियों के ऊपर नगर निगम ने आज कार्रवाई की है। निगम को लगातार शिकायत...

शहर में ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले ऑटो चालकों के...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में SSP संतोष सिंह के निर्देश पर ट्रैफिक पुलिस ने नो पार्किंग में खड़ी 248 ऑटो के चालकों पर...

बस्तर के इस जिले में 33 नक्सलियों ने किया...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के बीजापुर जिले में 33 नक्सलियों ने हथियार छोड़ सरेंडर किया हैं। बीजापुर जिले में 33 नक्सलियों द्वारा आत्मसमर्पण...

बिलासपुर से जगदलपुर के लिए 1 से शुरू होगी...

रायपुर। छत्तीसगढ़ में फ्लाइट कनेक्टिविटी में विस्तार होने जा रहा है। बिलासपुर से बस्तर के जगदलपुर एयरपोर्ट तक डायरेक्ट फ्लाइट सेवा 1 जून से...

ट्रेंडिंग