भिलाई MLA देवेंद्र ने जय हनुमान सेवा वाहिनी के साथ निकाली कांवड़ यात्रा: शिवनाथ में स्नान कर कांवड़ में जल लेकर प्राचीन मंदिर देव बलौदा में रूद्राभिषेक करने पैदल निकले विधायक… देशवासियों की सुख शांति और समृद्धि की कामना की

भिलाई। भिलाई और पूरे छत्तीसगढ़ की जनता, किसान, मजदूर, आम नागरिकों के हित और विकास के साथ ही सभी की सुख-शांति और समृद्धि की कामना लेकर सोमवार को भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव ने भव्य कावड़ पद यात्रा की शुरूआत की। हजारों भक्तों के साथ जय-जय महाकाल, बोल बम के जयकारे के साथ कांवड़ यात्रा निकाली गई है।

सबसे पहले सुबह करीब 6 बजे पवित्र शिवनाथ नदी दुर्ग में भक्तों ने स्नान किया। शिवनाथ तट पर स्थित शिवालय में भगवान शंकर की आराधना की। शिवलिंग में दूध और जल से महाअभिषेक किया गया। इसके बाद संकल्प लेकर देवबलौदा स्थित भोलेबाबा की प्राचीन मंदिर में जल चढ़ाने के लिए भक्तों के साथ पैदल कांवड़ में जल लेकर निकले। इस बार 1 हजार से अधिक महिलाएं भी कांवड़ यात्रा में शामिल हुए। नंगे पैर बारिश में भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव हजारों भक्तों के साथ कांवड़ यात्रा कर रहे है।

कांवड़ यात्रा का पूरे शहर भर में जगह-जगह पर हर चौक में भव्य स्वागत किया गया। शिवनाथ नदी के निकलने के बाद गंजपारा चौक में सैकड़ों भक्तों ने कांवड़यात्रियों पर पुष्प वर्षा कर भव्य स्वागत किया। फल-जूस आदि वितरण किए। डीजे की धुन में हर हर महादेव,मेरा भोला है भंडारी जैसे भक्तिगीत में भक्त झूमते नाचते यात्रा कर रहे है

मुस्लिस, सिख, इशाई सभी धर्म के लोगों ने किया कांवड़ यात्रा भव्य स्वागत
कांवड़ यात्रा दुर्ग शिवनाथ नदी से गंज पारा से सीधे सांइस कालेज होते हुए वायशेप ब्रिज से होकर सेक्टर 9 चौक पहुंची। जहां शहर के मुस्लिम समाज के प्रभूत्वजनों सम्मानित नागरिकों ने कांवड़ यात्रा का भव्य स्वागत किया। कांवड़ यात्री का फूलों का हार पहनाएं और पुष्प वर्षा कर स्वागत किये। बाबा भोलेनाथ के भक्तों को फल और जूस वितरण किए और भाईचार, सदभावना का परिचय दिए। सिर्फ यही नहीं ईसाई,सिक्ख समाज के अलावा यादव,कुर्मी क्षत्रिय समाज, सतनामी, देवांगन समाज, बड़बलिजा जातीय संगम के सम्मनित नागरिकों ने जमकर स्वागत किया। बाबा भोलेनाथ के भक्तों को शीतल जल,फल,पुष्प अर्पित किए और हर हर महादेव के जयकारे के साथ कांवड़ यात्रियों के साथ महादेव की आराधना की।

सेक्टर 4 में महादेव के 11 ज्योतिलिंग के एक साथ हुए दर्शन
इस यात्रा में बेहद आकर्षक झांकी भी है। जिसे देखने के लिए हजारों लोगों की भीड़ उमड़ी रही। पूरा शहर शिवमय हो गया है। चारो आरे सिर्फ हर हर महादेव के जय कारे सुनाई दे रहे हैं। डीजे में बाबा भोलेनाथ के भक्ति गीत से भक्त झूम रहे है। चारो ओर सिर्फ बोल बम के जयकारे सुनाई दे रहे है। पहली बार कांवड़ यात्रा में भी में एक साथ 11 ज्योर्तिलिंगों के एक साथ दर्शन भी हो रहे है। सेक्टर 4 चौक में भक्तों ने झांकी बनाई है जो भक्तों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

दुर्ग महापौर ने किया स्वागत, फल बांटे
दुर्ग के महापौर धीरज बाकलीवाल ने कांवड़ यात्रियों का भव्य स्वागत किये। भक्तों को फल, जल, वितरण किए। सभी भक्तों को पुष्प की माला पहनाया।
इनके साथ ही महाराष्ट्र मंडल, भिलाई तेलगा समाज सेक्टर 4 जगन्नाथ सेवा समिति, सेवा परमो धर्म, नव उपासना सेवा समिति सेक्टर 5 ने भी जमकर स्वगत किया।

हजारों भक्तों ने पाया बाबा का महा प्रसाद
भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव द्वारा भव्य कावड़ यात्रा निकाली जा रही है। सुबह 6 बजे शिवनाथ नदी से निकली कावड़ यात्रा सेक्टर 4 चौक पार कर चुकी है। कावड़ यात्रा का भव्य स्वागत सत्कार करने बाबा भोलेनाथ के भक्तों की सेवा करने के लिए जगह-जगह चौक चौराहों पर पंडाल लगाए गए हैं। अलग-अलग संस्था समाज के द्वारा लगाए गए इन पंडालों में बाबा के भक्तों को महा प्रसादी का वितरण किया जा रहा है। कहीं पर फल,शरबत, तो कहीं पर पोहा, साबूदाना,जूस आदि भक्तों को प्रसाद के रूप में वितरण किया जा रहा है। हजारों की संख्या में भक्त इस यात्रा में शामिल हुए हैं।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा “राइट टू तो एजुकेशन” के तहत...

रायपुर। छत्तीसगढ़ लोक शिक्षण संचालनालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम (आरटीई) अंतर्गत वर्ष 2022-23 में निजी विद्यालयों...

शराब भट्टी में लगा धक्का तो कर दिया जानलेवा...

भिलाई। शहर में अलग-अलग दारू भट्टी में आए दिन विवाद के मामले सामने आते हैं ताजा मामला सुपेला थाना क्षेत्र के देशी दारू भट्टी...

सावधान! भिलाई में खड़ी कार का शीशा तोड़कर चोरी…...

भिलाई। अगर आप भी कार अपने घर के बाहर खड़ी करते हैं तो यह खबर आपके लिए है जी हां भिलाई में खड़ी कार...

भिलाई निगम क्षेत्र में बकायदारों ने नोटिस के बाद...

भिलाई। भिलाई निगम क्षेत्र में ऐसे संपत्ति करदाता जो मार्च अप्रैल में संपत्ति कर जमा नहीं किए थे, उन्हें नगर निगम अधिनियम 1956 के...

ट्रेंडिंग