Bhilai Times

राम कथा का समापन में बागेश्वर धाम वाले बाबा का बड़ा बयान: पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने रायपुर में कहा- “तुम मेरा साथ दो हम हिंदू राष्ट्र बनाएंगे… भारत के लोगों चूड़ियां पहनकर घर पर मत बैठो; देखिये वीडियो

राम कथा का समापन में बागेश्वर धाम वाले बाबा का बड़ा बयान: पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने रायपुर में कहा- “तुम मेरा साथ दो हम हिंदू राष्ट्र बनाएंगे… भारत के लोगों चूड़ियां पहनकर घर पर मत बैठो; देखिये वीडियो

रायपुर। देश में बागेश्वर धाम वाले पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की खूब चर्चा है। ऐ दिन उनके बयान सोशल मीडिया में वाइरल हो रहे है। साथ ही देश के मुख्य मीडिया में भी उनके बारे में ही चर्चा हो रही है। 17 से 23 जनवरी तक वे रायपुर शहर के गुढ़ियारी इलाके के दही हांड़ी मैदान में राम कथा का वाचन कर रहे थे। इस कार्यक्रम में लाखों लोग शामिल हुए थे। रायपुर में उनके कई बयानों की चर्चा देश में है।

बागेश्वर धाम वाले पं धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कल रायपुर में बयान दिया है, कि वो भारत को हिंदू राष्ट्र बना देंगे। ये कथा के समापन के दिन उन्होंने मंच से लोगों में जोश भरते हुए ये दावा किया। सबसे पहले पं. धीरेंद्र कृष्ण ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को याद किया। कहा- भारत देश के वीर सुभाष चंद्र बोस का नारा था तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा। हम आज नया नारा बोल रहे हैं- तुम मेरा साथ दो हम हिंदू राष्ट्र बनाएंगे… भारत के लोगों चूड़िया पहनकर घर में मत बैठो। इतना सुनते ही पं. शास्त्री के मंच के सामने बैठे लोग जय श्री राम के नारे लगाने लगे।

पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने आगे कहा- आज लोगों ने मेरे ऊपर उंगलियां उठाई है। आगे सभी सनातनी के साथ ऐसा करेंगे। अगर अपने घरों से नहीं निकले तो हम तुम्हें बुजदिल मानेंगे । पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा कि भारत में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है, जिस पर उंगली नहीं उठी हो। सभी लोगों को कसौटी पर खरा उतरना पड़ा है।

लोग हमसे पूछते हैं कि चमत्कार क्या है। पहला चमत्कार तो यही हो गया है कि भारत का हिंदू अब एक हो गया है। अगर दूसरा चमत्कार देखना है तो दरबार में आ जाना। उन्होंने कहा कि तीसरा चमत्कार यह है कि तुम प्रार्थना को बेकार मत जाने देना। बागेश्वर महाराज ने कहा कि हमें कोई राजनेता नहीं बनना है। हमें किसी पार्टी में नहीं जाना है।

बीते 17 जनवरी से रायपुर में पंडित धीरेंद्र शास्त्री महाराज राम कथा करने पहुंचे थे। ये कार्यक्रम 23 जनवरी तक शहर के गुढ़ियारी इलाके में चला। धीरेंद्र शास्त्री को नागपुर के सामाजिक कार्यकर्ता ने अंधविश्वास फैलाने का आरोप लगाया। ये विवाद तूल पकड़ता चला गया और हर दिन कार्यक्रम में लाखों लोगों की भीड़ आने लगी। 20 और 21 जनवरी को 4 लाख से ज्यादा लोग आए। पं धीरेंद्र शास्त्री ने भीड़ से लोगों को बुलाकर उनके बारे में बिना पूछे पर्चे में बातें लिखीं। दावा किया गया कि उन्हें ये सब पहले से पता नहीं है। मंच से धीरेंद्र शास्त्री ये भी कहते दिखे कि – मैं कभी नहीं कहता कि मैं कोई संत हूं, मैं साधारण आदमी हूं।

मध्यप्रदेश में बागेश्वर धाम एक चंदेलकालीन प्राचीन सिद्ध पीठ है। 1986 में ग्रामवासियों द्वारा मंदिर का जीर्णाेद्धार कराया गया था। उसके बाद सन 1987 के बीच में ग्राम गढ़ा के बाबा सेतुलाल महाराज उर्फ भगवानदास महाराज निर्मोही अखड़ा चित्रकूट से दीक्षा प्राप्त करके बागेश्वर धाम पहुंचे थे। इसके बाद सन 1989 में एक विशाल यज्ञ का आयोजन करवाया गया था।

26 साल के धीरेंद्र शास्त्री बताते हैं कि ये उनके दादा के जमाने से चला आ रहा है। यहां उनके पूर्वज दरबार लगाकर लोगों को उनकी समस्या समाधान बताते थे। बागेश्वर धाम ग्राम गढ़ा छतरपुर जिले में स्थित है। सोशल मीडिया पर धीरेंद्र शास्त्री के वीडियोज बीते दो सालों में काफी वायरल हुए और वे मशहूर हुए।

देखिये वीडियो :-


Related Articles