Bhilai Times

अग्निपथ पर दुर्ग में सियासत: कांग्रेस के कल होने वाले प्रदर्शन पर भाजपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र का तंज…बोले-देश के युवाओं को दिग्भ्रमित कर रही कांग्रेस

अग्निपथ पर दुर्ग में सियासत: कांग्रेस के कल होने वाले प्रदर्शन पर भाजपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र का तंज…बोले-देश के युवाओं को दिग्भ्रमित कर रही कांग्रेस

दुर्ग। सेना की अग्निपथ योजना को लेकर सियासत जारी है। कांग्रेस कल 27 जून को आंदोलन कर रही है। उससे पहले भाजपा दुर्ग के जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा का बयान आया है। जितेंद्र वर्मा ने कहा कि, कांग्रेस ने शुरू से देश के युवाओं को दिग्भ्रमित करने का काम किया है।

अब अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस 27 जून से पूरे छत्तीसगढ़ में सत्याग्रह करने जा रही है जो कि सीधे तौर पर युवाओं को दिग्भ्रमित करने की एक असफल कोशिश है। जो कभी सफल नहीं होगी।

वर्मा ने कहा कि देश के युवाओं से अपील करता हूँ कि कांग्रेस के बहकावे में ना आए। केंद्र सरकार ने हमेशा से हर वर्ग की जरूरतों का ख्याल रखा है। तभी देश की जनता लगातार दूसरी बार सरकार चलाने का पूर्ण बहुमत से समर्थन दिया है। आज कांग्रेस की स्तिथि यह है कि वह दो राज्यों में सिमटकर रह गई आने वाले दिनों में उन राज्यों से भी बिदाई हो जाएगी।

वर्मा ने देश के युवाओं से निवेदन किया है कि अग्निपथ योजना को पूरी गहराई से समझे और देशभक्ति का जज्बा अपने मन मस्तिष्क में लाए। वर्मा ने कहा कि यह योजना देश की सेवा करने के इच्छुक भारतीय युवाओं को कम अवधि के लिए सशस्त्र बलों में भर्ती होने का अवसर प्रदान करती है। यह योजना सशस्त्र बलों के युवाओं के प्रोफाइल को बेहतर करती है।

इस प्रस्ताव के तहत युवाओं को कम अवधि के लिए सेना में कार्य करने का अवसर प्रदान करने की परिकल्पना की गई है। अग्निपथ योजना भारतीय सेना की ‘टूर ऑफ ड्यूटी एंट्री स्कीम’ को दिया गया एक नया नाम है. सशस्त्र बलों ने दो साल पहले टूर ऑफ ड्यूटी योजना पर चर्चा शुरू की थी. इस योजना के तहत सैनिकों को एक शॉर्ट टर्म कॉन्ट्रैक्ट पर भर्ती किया जाना है।

भर्ती होने वाले युवाओं को ट्रेनिंग की जाएगी और फिर अलग-अलग फील्ड में तैनात किया जाएगा। सशस्त्र बलों के पास स्पेशल वर्क के लिए स्पेशलिस्ट युवाओं की भर्ती करने का ऑप्शन भी होगा. इसके तहत सेना के तीनों विंग में भर्ती की जाएगी। यहां गौर करने वाली बात ये है कि सेना में शामिल होने वाले युवाओं को चार साल तक सेवा करने के बाद सम्मानजनक पारितोषिक वेतन के साथ रिटायर किया जाएगा।

इसके अलावा, सरकार उनके आगे के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए उन्हें डिप्लोमा और सर्टिफिकेट से सम्मानित करेगी.आर्मी में सैनिक (जवान), नेवी में नाविक और एयरफोर्स में एयरमैन की जो भर्ती है, वो भर्तियां अब इस योजना के तहत होंगी। जो सैनिक भर्ती होंगे, उन्हें अग्निवीर नाम दिया जाएगा।


Related Articles