CG के CM भूपेश ने ED-IT को बताया लोकतंत्र के लिए खतरा: “भाजपा राजनतिक फायदे के लिए कर रही एजेंसियो का इस्तेमाल”, ऑनलाइन सट्टा ऐप मामले के बारें में ये कहा… देखिये ये वीडियो

रायपुर। छत्तीसगढ़ में लगातार ED (प्रवर्तन निदेशालय) और IT (आयकर विभाग) की दबिश जारी है। जैसे प्रदेश में चुनाव नजदीक आते जा रहे है वैसे ही इनकी कार्रवाई को लेकर राजनीतिक गलियारे में भी माहौल गर्म हो गया है। चाहें बात भाजपा की हो या कांग्रेस की जाए। छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल के राजीतिक सलाहकार और OSD के घर ED का छापा पड़ा तब से लगातार दोनों पार्टी एक दूसरे के ऊपर हमलावर है। रविवार को मुख्यमंत्री बघेल भाटापारा रवाना होने से पहले रायपुर में मीडिया से बात कर रहे थे। इस दौरान CM बघेल ने मीडिया से बातचीत करते हुए एक बार फिर से ED की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए इसे लोकतंत्र पर खतरा बताया है। उन्होंने महादेव ऑनलाइन बुक के मामले में हुई कार्रवाई पर भी प्रतिक्रिया दी है।

देखिये वीडियो:-

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ऑनलाइन सट्‌टा ऐप मामले में भी ED पर सरकार को बदनाम करने का आरोप लगाया। कहा कि, ये लोग एक विभाग में जाते हैं, फिर दूसरे में जाते हैं और फिर वहां कुछ नहीं मिलने पर तीसरे विभाग में चले जाते हैं, लेकिन वहां भी इन्हें कुछ नहीं मिलता। अभी ऑनलाइन ऐप पर उनका चल रहा है। जिस पर राज्य सरकार पहले ही कार्रवाई कर चुकी है और लुक आउट सर्कुलर भी जारी किया है। सीएम ने ED पर कहा कि, इनका मकसद राजनीति है। मुख्य आरोपियों पर कार्रवाई करना इनका उद्देश्य नहीं है। शराब मामले में भी डीलर्स के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की, ना उनकी संपत्ति जब्त की ना उनकी गिरफ्तारी हुई जबकि मेन खिलाड़ी तो वही है।

CM बघेल ने कहा कि, ऑनलाइन सट्‌टा ऐप मामले सरकार ने लगातार कार्रवाई कर बहुत सारे मोबाइल, लैपटॉप, गैजेट्स, रुपए बरामद किए और कई लोगों की गिरफ्तारी हुई है। इस मामले में जो दो लोग बाहर हैं, ईडी उनको पकड़ने के लिए ताकत नहीं लगा रही है। छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश सभी जगह से उन्होंने हजारों करोड़ लिया है, लेकिन केवल कार्रवाई यहां क्यों? सीएम ने कहा कि वे मुख्य आरोपी को पकड़ने की कोशिश नहीं कर रहे हैं बल्कि सरकार को बदनाम करना, सरकार और कांग्रेस पार्टी में जो लोग काम कर रहे हैं, उसको बाधित करने का काम ED कर रही है।

CAG की रिपोर्ट कहती है कि 2019-20 और 2021 में कोई गड़बड़ी नहीं हुई। वो भी भारत सरकार की एजेंसी है, लेकिन ED के नियम में जो संशोधन किया गया, उसके बाद उनको असीमित अधिकार मिल गया है। ED किसी को भी गिरफ्तार कर सकती है। किसी की चल-अचल संपत्ति जब्त कर सकती है। चल-अचल संपत्ति की छूटने की कोई संभावना नहीं है। अगर एक बार जेल गए तो बेल होने कोई गुंजाइश नहीं है। डरा धमका कर मारपीट कर रात-रात भर जगाकर पूछताछ करते हैं। उसके बाद कहते हैं कि आपको जेल जाना है या जो पहले से टाइप किया हुआ पेपर है उसमें साइन करना है। इस तरह की स्थिति इन्होंने बनाकर रखी है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आगे कहा अभी आपने देखा एसईसीएल जो खुद ही कोयला का उत्खनन करता है। आज अडानी को रायगढ़ में 20 सालों के लिए खदान दिया गया है। छत्तीसगढ़ में बहुत सारी खदान है, जो उन्हें दी गई है। CM ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को वोट देना सीधी-सीधी बात है अडानी को छत्तीसगढ़ को सौंप देना। चाहे वो कोयला खदान हो, आयरन ओर हो, चाहे ट्रेन या एयरपोर्ट हो सबके लिए यही स्थिति बन रही है। सीएम ने कहा कि आज जो कार्रवाई हो रही है केवल इसीलिए कि उनको हम कोयला खदान नहीं दे रहे।

सीएम ने चिटफंड घोटाले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह पर आरोप लगाया है। सीएम ने कहा कि चिटफंड घोटाले की जांच को लेकर उन्होंने ED के अधिकारियों को कई बार पत्र लिखा है। गृहमंत्री, वित्त मंत्री, प्रधानमंत्री सबको पत्र लिखा। सीएम ने कहा कि रमन सिंह ने खुद कार्यालय खुलवाया था, बीजेपी के नेता ओपी चौधरी,कलेक्टर थे और रोजगार मेले का आयोजन किया गया था। सबको रोजगार मेले का सर्टिफिकेट बांटा गया और आम जनता का पैसा लूट कर लोगों को बाहर भगा दिया गया। भूपेश बघेल ने कहा कि कार्रवाई हमारे शासनकाल में हुई 700 से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारी हुई और उस पैसे और संपत्ति को कुर्क करके वापस दिलाने का काम किया लेकिन वे लोग यहां से पैसा लेकर और दूसरे प्रदेशों में इन्वेस्ट किए हैं तो मनी लांड्रिंग का सबसे बड़ा केस तो यही है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बीजेपी बिल्कुल मुद्दा विहीन हो गई है और वे अपनी हार स्वीकार कर ली है। भारतीय जनता पार्टी के दो मजबूत प्रकोष्ठ हैं ED और IT, उसके जरिए चुनाव लड़ाई लड़ रही है। जिस प्रकार से बातें चल रही है पाटन में विजय बघेल चुनाव लड़ेंगे। उसके बाद जिस तरह से 23 अगस्त की कार्रवाई हुई। ED कार्यालय से पाटन क्षेत्र के लोगों को फोन जा रहा है, उससे स्पष्ट हो गया है कि ED और IT ही पाटन में लड़ेगी और ना केवल पाटन में पूरे छत्तीसगढ़ में ED और IT ही चुनाव लड़ेगी।

इनपुट- दैनिक भास्कर डिजिटल

खबरें और भी हैं...
संबंधित

बिलासपुर लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी तोखन साहू ने भरा...

डेस्क। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय बिलासपुर पहुंचे। सीएम साय बिलासपुर लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी तोखन साहू के नामांकन में शामिल हुए।...

मतदान में हर पल पर रहेगी पैनी नजर: CEO...

रायपुर। लोकसभा निर्वाचन 2024 अंतर्गत प्रदेश में प्रथम चरण में बस्तर लोकसभा क्षेत्र में हो रहे मतदान की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखने...

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को तगड़ा झटका: बस्तर में वोटिंग...

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बस्तर में वोटिंग के एक दिन पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। भारतीय जनता पार्टी की रीति-नीति से प्रभावित होकर...

अनोखी पहल: रायपुर जिले के सात विधानसभा के एक-एक...

रायपुर। आगामी लोकसभा चुनाव-2024 में जिले के सभी विधानसभा के एक-एक बूथ दिव्यांग कर्मचारी संभालंेगे। जिनमें पीठासीन अधिकारी सहित पी-01, पी-02 एवं पी-03 सभी...

ट्रेंडिंग