Bhilai Times

दुर्ग में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक: JRD स्कूल मैदान में होंगे पारंपरिक खेल…विधायक वोरा और मेयर बाकलीवाल करेंगे शुभारंभ, आप होना चाहते हैं इसमें शामिल तो नियम-कायदे जान लीजिए

दुर्ग में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक: JRD स्कूल मैदान में होंगे पारंपरिक खेल…विधायक वोरा और मेयर बाकलीवाल करेंगे शुभारंभ, आप होना चाहते हैं इसमें शामिल तो नियम-कायदे जान लीजिए

दुर्ग। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर खेल एवं युवा कल्याण विभाग, रायपुर ने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक को छह चरणों में आयोजित करने की जिम्मेदारी नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग को सौंपी है। कार्यक्रम की तैयारी को लेकर नगर निगम के आयुक्त प्रकाश सर्वे ने अधिकारी व कर्मचारियों को 6 अक्टूबर से छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक की शुरुआत होगी। इसके लिए उन्होंने कार्यक्रम के रूपरेखा शीघ्र तैयार करने के निर्देश दिये।

6 अक्टूबर से छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक 2022-23 का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम की तैयारी को लेकर आयुक्त प्रकाश सर्वे के निर्देश पर नगर निगम के डाटा सेंटर सभागार में कार्यपालन अभियंता एस.डी. शर्मा एवं प्रशिक्षण नोडल अधिकारी प्रकाशचंद थावनी ने उपअभियंता,सहायक ग्रेट 3 और सहायक राजस्व निरीक्षकों के साथ बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक 2022-23 का आयोजन जेआरडी स्कूल मैदान में विधायक अरुण वोरा और महापौर धीरज बाकलीवाल करेंगे खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ किया जाएगा। वार्ड जोन स्तर पर छत्तीसगढ़ की पारंपरिक खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।

प्रशिक्षण नोडल अधिकारी प्रकाशचंद थावनी ने बैठक में जानकारी देते हुए कहा निगम कर्मचारीयो को जोन स्तर पर वार्डो के पार्षदों के माध्यम से खेलो के प्रति लोगों को जागरूक करेंगे। बैठक में उपअभियंता,सहायक ग्रेट 3 और सहायक राजस्व निरीक्षक मौजूद थे।बच्चों से बुजुर्ग तक प्रत्येक आयु वर्ग ले सकेंगे हिस्सा, राज्य स्तर पर 6 जनवरी 2023 को समाप्त होगी।

टीम और सिंगल कैटेगरी में 14 तरह के पारंपरिक खेलों को शामिल किया गया है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की दूरदर्शिता के अनुरूप छत्तीसगढ़ के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में पारंपरिक खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने की पहल की गयी है. छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक से एक ओर जहां प्रतिभागियों को मंच मिलेगा।

वहीं दूसरी ओर खेलों के प्रति जागरूकता बढ़ेगी और खेल भावना का विकास होगा। छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक के आयोजन के लिए नगर पालिक निगम के कार्यपालन अधिकारी एस.डी. शर्मा, नोडल अधिकारी प्रकाशचंद थावनी ने बनाया की छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक के संबंध में जारी दिशा-निर्देश एवं कार्ययोजना के अनुसार 14 प्रकार के खेलों में दो श्रेणियों में छत्तीसगढ़ की पारंपरिक खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा।

प्रतियोगिता का आयोजन स्थल जेआरडी स्कूल के पीछे मैदान में किया गया है।

6 अक्टूबर को होने वाले छत्तीसगढ़ की पारंपरिक खेल प्रतियोगिता का आयोजन का शुभारंभ शहर विधायक अरुण वोरा,महापौर धीरज बाकलीवाल,शिक्षा विभाग एवं खेल खुद विभाग प्रभारी मनदीप सिंह भाटिया और एमआईसी सदस्य एवं पार्षदों,अधिकारी, कर्मचारियों,खेल खिलाड़ी प्रेमिया सहित नागरिको के मौजूदगी के बीच किया जाएगा।वार्ड जोन स्तर पर छत्तीसगढ़ की पारंपरिक खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।
-जिसमें खेलकूद की दृष्टि से पार्टी एवं एकल वर्ग का निर्धारण किया गया है. गिल्ली डंडा, पिट्टूल, सांखली, लंगड़ी रन, कबड्डी, खो-खो, टोइंग और बंटी (कांचा) आदि खेल विषयों को शामिल किया गया है, जबकि एकल श्रेणी के खेल विषयों में बिलास, फुगड़ी, गेदी दौड़, भंवरा, इसमें 100 मीटर दौड़ और लंबी कूद शामिल हैं।

छह चरणों में पूरा किया जाएगा। गांव में प्रथम स्तर राजीव युवा मितान क्लब का होगा। दूसरा स्तर ज़ोन है, जिसमें एक क्लब होगा जिसमें आठ राजीव युवा मितान क्लब होंगे। खेल प्रतियोगिताएं विकास खंड, शहरी क्लस्टर स्तर, जिला, संभाग और अंत में राज्य स्तर पर आयोजित की जाएंगी। छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक में -पहली बार राजीव 6 अक्टूबर से 11 अक्टूबर 2022 तक युवा क्लब स्तर पर होंगे।

वहीं 15 से 20 अक्टूबर तक जोन स्तर के आयोजन होंगे। 27 अक्टूबर से 10 नवंबर तक जिला स्तर पर प्रतियोगिताएं 17 नवंबर से 26 नवंबर तक होंगी। संभाग स्तर पर प्रतियोगिता 5 दिसंबर के बीच होगी। राज्य स्तर पर छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का अंतिम चरण 28 दिसंबर से खेला जाएगा. 2022 से 6 जनवरी 2023, जिसमें बुजुर्गों से लेकर बच्चे भाग ले सकेंगे।

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में आयु वर्ग को 3 श्रेणियों में बांटा गया है। जिसमें प्रथम श्रेणी 18 वर्ष की आयु तक तथा द्वितीय श्रेणी 18 से 40 वर्ष की आयु के लिए।इन प्रतियोगिता में पुरुष और महिला दोनों प्रतिभागी शामिल होंगे।


Related Articles