झारखंड सरकार पर भी संकट, विधायकों का रायपुर कूच: झारखंड के UPA विधायक स्पेशल फ्लाइट से देर शाम तक पहुंचेंगे छत्तीसगढ़, ये रही वजह

रायपुर: झारखंड में चल रही राजनीतिक अस्थिरता को लेकर झारखंड पुलिस अलर्ट है। राजभवन के फैसले के बाद कहीं कोई विधि व्यवस्था संबंधित संकट उत्पन्न ना हो जाए उस पर राज्य की खुफिया एजेंसी की भी नजर है। सभी जिलों को यह निर्देश दिया गया है कि कहीं कोई विधि व्यवस्था संबंधित संकट की सूचना मिल रही हो तो त्वरित कार्रवाई करें। कानून हाथ में लेने वालों से सख्ती से निपटें। इंटरनेट मीडिया पर भी नजर रखें और अफवाह फैलाने वालों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करें।

वहीं एक बड़ी खबर आ रही है। झारखंड के विधायक रायपुर आ रहे हैं। झारखंड में चल रही राजनीति अस्थिरता के बीच देर शाम तक झारखंड के UPA गठबंधन के विधायक रायपुर पहुंच जायेंगे। सूत्रों के अनुसार चार्टर विमान से विधायक रायपुर जायेंगे। रांची एयरपोर्ट से विधायकों के लिए इंडिगो की स्पेशल फ्लाइट मंगायी गयी। सूत्रों के अनुसार चार्टर विमान से विधायक रायपुर जायेंगे। रांची एयरपोर्ट से विधायकों के लिए इंडिगो की स्पेशल फ्लाइट मंगायी गयी। शाम 4.15 बजे बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर फ्लाइट पहुंचेगी। यूपीए का कहना है कि राज्यपाल फैसले में जानबूझकर देरी करेंगे, क्योंकि जितनी देर होगी खरीद फरोख्त की संभावनाएं उतनी ज्यादा बढेगी। वहीं 5 छोटे बड़े दलों को संभालना भी मुश्किल होगा।

यह फ्लाइट रांची एयरपोर्ट से शाम 4:15 बजे रायपुर के लिए उड़ान भरेगी। अब सवाल है कि किसने और क्यों बुक कराया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस कमेटी की तरफ से फ्लाइट को बुक कराया गया है। यह भी जानकारी मिल रही है कि सियासी हालात से निपटने के लिए यूपीए के सभी विधायकों को रायपुर ले जाया जाया जा रहा है।

आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से झारखंड की राजनीति गरमायी हुई है। ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में राजभवन की तरफ से अब तक स्थिति स्पष्ट नहीं किए जाने के कारण झारखंड में राजनीतिक अस्थिरता का माहौल है। सत्ताधारी दल ने राज्यपाल से स्थिति स्पष्ट करने की मांग की है। सूत्रों के मुताबिक चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को विधायक पद से अयोग्य करार देने की सिफारिश की है।

इस बीच पिछले 25 अगस्त से मुख्यमंत्री आवास पर सत्ताधारी दल के विधायकों की समय-समय पर बैठकें चल रही हैं। कांग्रेस के विधायकों को एकजुट रखने के लिए खुद प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने मोर्चा संभाल रखा है। सबसे खास बात है कि राजनीतिक अस्थिरता की वजह से झारखंड का विकास कार्य प्रभावित हुआ है, सचिवालय में गतिविधियां ठप थीं, हालांकि सोमवार को सचिवालय में हलचल देखने को मिली थी।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

रायपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी पर CM विष्णु देव...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के दो बड़े कारोबारियों को मारने आए लॉरेंस-अमन गैंग के 4 शूटर को गिरफ्तार कर रायपुर पुलिस ने एक बहुत बड़े षड़यंत्र...

छत्तीसगढ़ के डिप्टी CM शर्मा ने तमिलनाडु पहुंचकर बस्तर...

कोयंबटूर, रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विजय शर्मा ने बस्तर रेंज पुलिस IG पी सुंदरराज के पिता को श्रद्धांजलि देने तमिल नाडु पहुंचे। पुलिस के...

भिलाई में युवती ने किया सुसाइड: प्रापर्टी खरीदी-बिक्री करने...

भिलाई। भिलाई में एक युवती ने मौटी को गले लगा लिया है। प्रॉपर्टी कंसल्टेंसी में कार्य करने वाली युवती ने रविवार को सुसाइड कर...

डिप्टी CM शर्मा ने PCC चीफ बैज से किया...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के उप मुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री विजय शर्मा ने कहा कि आज बस्तर नक्सल उन्मूलन की दिशा में बहुत आगे बढ़ चुका है।...

ट्रेंडिंग