Bhilai Times

डॉ. परदेशीराम वर्मा लोक साहित्य रत्न सम्मान से सम्मानित; कवि लोक साहित्य परिषद बिलासपुर द्वारा 22 लेखकों को उनकी श्रेष्ठ पुस्तक के लिए किया गया सम्मानित

डॉ. परदेशीराम वर्मा लोक साहित्य रत्न सम्मान से सम्मानित; कवि लोक साहित्य परिषद बिलासपुर द्वारा 22 लेखकों को उनकी श्रेष्ठ पुस्तक के लिए किया गया सम्मानित

बिलासपुर। कवि लोक साहित्य परिषद बिलासपुर द्वारा 05 नवम्बर 2023 को आयोजित समारोह में डॉ. परदेशीराम वर्मा को लोक साहित्य रत्न सम्मान प्रदान किया गया टी. जानकारी राव की स्मृति में यह सम्मान दिवाकर मुक्तिबोध, मीर अलीमीर, सुजश कुमार, एम.पी. द्विवेदी ने प्रदान किया। बिलासपुर के रेलवे कॉलोनी स्थित सभागार में इस अवसर पर सतीश जायसवाल ने उद्बोधन देते हुए डॉ. परदेशीराम वर्मा के रचनाशील व्यक्तित्व एवं निरंतर छः दशकों के लेखन को रेखांकित किया।

लोक साहित्य परिषद द्वारा इस अवसर पर विभिन्न विधाओं के 22 लेखकों को उनकी श्रेष्ठ पुस्तक के लिए सम्मान प्रदान किया गया। वरिष्ठ रचनाकार डॉ. परदेशीराम वर्मा सम्मानित पुस्तकों के निर्णायक मंडल के सदस्य भी थे। सम्मान के अवसर पर छत्तीसगढ़ जनवादी लेखक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ. परदेशीराम वर्मा ने कहा कि छत्तीसगढ़ी और हिन्दी के साधक साहित्यकारों ने बिलासपुर को देश भर में चर्चित किया है।

यहाँ बालपुर में हिन्दी के छायावादी दौर के अग्रिम कवि मुकुटधर पाण्डे से लेकर रचनाशील नक्षत्रों से साहित्य का आकाश सदा जगमग रहता है। आज भी बिलासपुर की नई पीढ़ी अपनी चमक के साथ सक्रिय है। इस अवसर पर प्रदेश भर के चुनिंदा रचनाकार सभागार में उपस्थित थे। भिलाई से लेखक बद्री प्रसाद पारकर तथा शहीद दुर्वाशालाल निषाद के पिता मुनीलाल एवं समाजसेवी खड़ानंद वर्मा उपस्थित थे। 


Related Articles