दुर्ग निगम चलाएगा वाटर टैक्स वसूली अभियान: सर्वे में जल कर जमा नहीं करने वाले और अवैध कनेक्शन वाले घर हो रहे चिन्हांकित… होगी सख्त कार्यवाही; ठेकेदारों पर भी गिरेगी गाज

दुर्ग। दुर्ग निगम के शहरी क्षेत्र में जल कर (वाटर टैक्स) वसूली अभियान चलाने की तैयारी में है। शहर क्षेत्र में पानी आपूर्ति नगर निगम द्वारा की जा रही है। पानी के बदले में निगम द्वारा शुल्क लिया जाता है। वहीं कुछ लोग जल कर अदा नही कर रहे है। जिससे जल कर की राशि बकाया बढ़ता जा रहा है। निगम द्वारा लोगो को नियमित रूप से जलापूर्ति की जा रही है। आयुक्त लोकेश चन्द्राकर के दिशा निर्देश पर सहायक राजस्व अधिकारी शुभम गोइर ने जानकारी देते हुए बताया कि जलकार्य निरीक्षक राजू चन्द्राकर द्वारा घर-घर सर्वे कर अवैध नल कनेक्शन व जल कर जमा नही करने वालो को चिन्हित किया जा रहा है।

सर्वे के समय प्रपत्र में इस बात का साफ उल्लेख करना होगा कि अमृत मिशन के तहत किये गए कनेक्शन वैध है या अवैध। अवैध कनेक्शन पाए जाने पर उस मकान मालिक के खिलाफ निगम नोटिस जारी कर अर्थदंड के साथ साथ नल कनेक्शन को वैध किए जाने की कार्रवाही करेगी। बहाना बनाने वालों के खिलाफ कार्रवाही होगी। आयुक्त लोकेश चन्द्राकर ने कहा कि ऐसे मकान मालिकों को चिन्हित किया जाये।जिनके यहाँ पूर्व से नल कनेक्शन होने के बाद भी जल आपूर्ति पर्याप्त नहीं होने या फिर नल से पानी नही आने का बहाना बनाकर जलकर की राशि निगम कोष में जमा नहीं किया जा रहा है। ऐसे हितग्राहियों को भी जल कर की बकाया राशि को जल्द जमा करने के लिए नोटिस जारी किया जाएगा।

शहर क्षेत्र में सर्वे का कार्य सभी जोन के वार्डो में शुरू कर कार्रवाही किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक नल का उपयोग कर नल टैक्स नही देने वाले हितग्राही के विरुद्ध कार्यवाही होगी। निगम के डिमांड रजिस्टर में 8458 नल का डिमांड दर्ज है परन्तु इनके द्वारा जलकर का टैक्स जमा नही किया जा रहा हैं। जिसके कारण निगम को जलकर की राशि प्राप्त नही हो रही है। सभी को नोटिस जारी किया जाएगा। इसके अलावा अवैध कनेक्शन तथा ऐसे करदाता भी है जो स्वयं के बोर का पानी के उपयोग करने एवम पानी कम आने के नाम पर जलकर की राशि का भुगतान नहीं कर रहे है।

बता दे कि बिना अनुमति के नल कनेक्शन देने वाले ठेकेदार के विरुद्ध लायसेंस निरस्त करने तथा ब्लेक लिस्ट करने की कार्यवाही किया जाएगा। नगर निगम द्वारा शहर क्षेत्र के जलकर दाताओं से अपील कर कहा कि कार्यवाही से बचना हो तो जलकर की राशि नगर निगम के कोष में जमा कर देवे जिसके लिए वार्ड क्रमांक 01 से 60 तक के समस्त जनप्रितिनिधियों से भी विनम्र निवेदन है कि अपने वार्ड में अवैध नल कनेक्शन की जानकारी हो तो जलकार्य निरीक्षक राजूलाल चंद्राकर से या अपने वार्ड के सहायक राजस्व निरीक्षको से सम्पर्क करते हुए वैध करा कर रशीद प्राप्त करने प्रेरित करें।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

Durg Crime : दिनदहाड़े युवक की हत्या से इलाके...

दुर्ग। धमधा थाना क्षेत्र के ग्राम मुड़पार में दिनदहाड़े युवक की हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई है। धारदार हथियार से युवक पर...

दुर्ग क्षेत्र में लूट के आरोपी गिरफ्तार, चार दोस्तों...

भिलाई। उतई थाना क्षेत्र के महकाखुर्द में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही धर...

CG – नाबालिग प्रेमियों के प्यार का हुआ अंत:...

नाबालिग प्रेमियों के प्यार का हुआ अंत छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में नाबालिग लड़के ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया है। ये सुनते ही एक...

भिलाई स्टील प्लांट में घुसकर तोड़फोड़, सुरक्षा पर उठे...

भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट में तोड़फोड़ का मामला सामने आया है। सीआईएसएफ का सुरक्षा घेरा तोड़कर एक मानसिक रोगी प्लांट के अंदर घुस गया...

ट्रेंडिंग