दुर्ग रेंज IG राम गोपाल गर्ग के “ऑपरेशन ईगल” को बड़ी कामयाबी: संभाग, प्रदेश सहित अन्य राज्यों से स्थाई वारंटियों की धड़पकड़ के लिए चलाया गया अभियान… 500 से ज्यादा वारंट पर एक्शन

दुर्ग। दुर्ग रेंज IG IPS राम गोपाल गर्ग द्वारा चलाए जा रहे “ऑपरेशन ईगल” को बड़ी कामयाबी मिली है। इस ऑपरेशन के तहत पुलिस ने दुर्ग संभाग में कुल 572 स्थाई वारंट पर एक्शन लिया गया है। इस अभियान में खास बात ये रही कि, पुलिस महानिरीक्षक ने विभिन्न प्रकार के वारंटों का वर्गीकरण करके साइंटिफिक तरीके से उनका विश्लेषण किया। सबसे पहले IG गर्ग ने जिलों को टारगेट बेस्ड एप्रोच के जरिए मॉडर्न तकनीक अपनाते हुए वारंट तामील करने के लिए निर्देशित किया। सालों से दूसरे जिला सहित राज्य जिसमें मध्य प्रदेश, उड़ीसा, तमिलनाडु, पंजाब, पश्चिमबंगाल, बिहार में छिपे वारंटियों पर पुलिस ने नकेल कसा है।

पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज राम गोपाल गर्ग द्वारा रेंज में चलाए जा रहे अभियान-ऑपरेशन ईगल के तहत वर्षों से छिपे कर रह रहे वारंटियों पर नकेल कसते हुए आधुनिक तकनीकियों का उपयोग एवं लगातार सुपरवीजन से आरोपियों की धरपकड़ की गई, उन्होंने विभिन्न प्रकार के वारंटों का वर्गीकरण करके साइंटिफिक तरीके से उनका विश्लेषण किया। जिलों को टारगेट बेस्ड एप्रोच के जरिए मॉडर्न तकनीक अपनाते हुए वारंट तामील करने के लिए निर्देशित किया। बालोद, बेमेतरा, दुर्ग के राजपत्रित पुलिस अधिकारियों की देख रेख मे जिला मुख्यालय एवं प्रत्येक थाना स्तर पर थाना प्रभारियो को अपने-अपने क्षेत्र में लंबित स्थाई वारंटियों एवं गिरफ्तारी वारंटियों के विरुद्ध अभियान चलाकर शीघ्र धरपकड़ कर न्यायालय मे पेश करने हेतु दिशा निर्देश दिए गए थे।

इसी क्रम में दुर्ग रेंज के जिला दुर्ग पुलिस द्वारा “ऑपरेशन ईगल” के तहत वारंटियों की धर पकड़ की गई। 1 मार्च 2024 से 31 मार्च 2024 तक की स्तिथि मे दुर्ग जिले के समस्त थानों से कुल 356 स्थाई वारंटों की तामिल-निराकरण किया गया है। इसी क्रम में जिला बेमेतरा पुलिस द्वारा अभियान ईगल के तहत वारंटियों की धर पकड़ की गई, 1 मार्च 2024 से 31 मार्च 2024 तक की स्तिथि मे जिले के समस्त थानों से कुल 55 स्थाई वारेंटो की तामिल/निराकरण किया गया है।

इसी क्रम में रेंज के जिला बालोद पुलिस द्वारा अभियान ईगल के तहत वारंटियों की धर पकड़ की गई, 1 मार्च 2024 से 31 मार्च 2024 तक की स्तिथि मे तक जिले के समस्त थानों से कुल 161 स्थाई वारेंटो की तामिल/निराकरण किया गया है। उल्लेखनीय है कि दुर्ग रेंज में वारंट तामिली मे सर्वाधिक 204 वारंट धारा 138 (एन आई एक्ट) में की तामिली और 96 स्थाई वारंट मारपीट से संबंधित धारा के तहत तामिल किये गए है। इसके साथ ही चोरी/नकबजन के 62 वारंटो की तामिली में दुर्ग रेंज पुलिस को सफलता मिली है। वारंटियों के खिलाफ यह अभियान निरंतर जारी रहेगा। इस अभियान में दीगर राज्य जिसमें मध्य प्रदेश, उड़ीसा, तमिलनाडु, पंजाब,पश्चिमबंगाल, बिहार, महाराष्ट्र आदि राज्यों के वारंटों को न्यायालय में पेश करने में सफलता मिली है।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

15 अप्रैल को नामांकन भरेंगे दुर्ग लोकसभा प्रत्याशी राजेंद्र...

दुर्ग। 7 मई को होने जा रहे मतदान के लिए दुर्ग लोकसभा के कांग्रेस प्रत्याशी राजेंद्र साहू कल यानी 15 अप्रैल को अपना नामांकन...

कांग्रेस की आमसभा के दौरान PM मोदी के खिलाफ...

बिलासपुर। मस्तूरी क्षेत्र के भदौरा में कांग्रेस के एनएसयूआइ के राष्ट्रीय प्रभारी व राष्ट्रीय प्रवक्ता कन्हैया कुमार की सभा के बाद मीडिया से चर्चा...

दुर्ग में डायल 112 पर बदमाशों का हमला: अकेले...

दुर्ग। दुर्ग में पुलिस के ऊपर हमला करने वाले चार आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़े है। चारों के खिलाफ धारा IPC की धारा 294,...

शासकीय संयुक्त कर्मचारी संघ ने मनाया डॉ. भीमराव अंबेडकर...

रायपुर। नवा रायपुर अटल नगर में आज शासकीय संयुक्त कर्मचारी संघ द्वारा बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई गई। इस अवसर पर...

ट्रेंडिंग