Bhilai Times

अयोध्या में प्राण-प्रतिष्ठा की खुशी मनाने भिलाई के बैकुंठधाम मैदान में लाखों लोग होंगे एकत्रित: रात भर आतिशबाजी के साथ बहेगी भक्ति की बयार… गाजे बाजे के साथ घर-घर अक्षत पहुंचा निमंत्रण दे रही हैं महिलाओं की टोली

अयोध्या में प्राण-प्रतिष्ठा की खुशी मनाने भिलाई के बैकुंठधाम मैदान में लाखों लोग होंगे एकत्रित: रात भर आतिशबाजी के साथ बहेगी भक्ति की बयार… गाजे बाजे के साथ घर-घर अक्षत पहुंचा निमंत्रण दे रही हैं महिलाओं की टोली

भिलाई। सोमवार यानि कल 22 जनवरी को अयोध्या में राम जन्म भूमि में प्रभु श्रीरामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा होगी। इस ऐतिहासिक दिन को यादगार बनाने के लिए विश्व स्तर पर रामभक्तों द्वारा वृहद पैमाने पर तैयारी की जा रही है एवं जन जन प्रभु श्रीराम की सेवा में तत्पर हैं। बच्चों से लेकर बड़े बुजुर्ग बहन बेटी माताएँ इस दिन के एक एक पल को यादगार बनाने भिन्न भिन्न प्रकार के आयोजन कर रहे हैं। भिलाई के बैकुंठधाम मैदान में वैशाली नगर विधायक रिकेश सेन द्वारा बैकुंठ धाम समिति के सहयोग से 22 जनवरी को मध्यान्ह बाद से अगली सुबह तक भव्य आतिशबाजी, श्रीरामलला दरबार रंगोली प्रतियोगिता, विभिन्न लोक कलाकारों की प्रस्तुति समेत आकर्षक झांकियों के साथ भजन मंडली और मंडई मेला का विशेष आयोजन किया जा रहा है।

जिसके लिए निगम के सभी वार्ड में बनाए गए विधायक प्रतिनिधि, भाजपा पार्षद और विभिन्न समाज के प्रतिनिधिगण अपनी-अलग अलग टोलियों के साथ घर-घर पहुंच रघुनंदन वंदन के इस विशाल आयोजन में शामिल होने लोगों को अक्षत लेकर न्यौता दे रहे हैं। महिलाओं की टोली गाजे बाजे के साथ घर-घर पहुंच लोगों को इस आयोजन में शामिल होने निमंत्रण दे रही हैं। अयोध्या में होने वाले रामलला के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर शहर में जगह-जगह झांकी और शोभायात्रा भी निकलेगी। इसके लिए श्री राम के बाल स्वरूप, वनवासी और राजसी राम, माता सीता, भाई लक्ष्मण आऔर हनुमान की वेशभूषा, गदा, मुकुट, धनुष, माला, बालियां, बाजूबंद, विग एवं अन्य आभूषणों सहित पूरे समाज सज्जा के साथ झांकियां भी तैयार की जा रही हैं।

आपको बता दें कि बैकुंठ धाम मैदान में कल शाम लगभग 5000 दीपक के माध्यम से अयोध्या में भगवान श्रीराम की प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव का अभिनंदन किया जायेगा। इसी कड़ी में राधिका नगर की विधायक प्रतिनिधि अन्नू राणा ने दीनदयाल कालोनी की मंदिर में पूजा अर्चना कर वार्डवासियों को निमंत्रण देना प्रारंभ किया। उनके साथ सविता देवी, ज्योती राव, गिरिजा नामदेव, रंजीता यादव, ज्योत्सना नशीने, रश्मि चतुर्वेदी, संगीता पुताम्बेकर, चांदनी गुप्ता, वृंदावती, प्रेमा प्रेमनाथ, प्रेरणा माहेश्वरी, रोशनी साहू, सत्यभामा नागर, प्रमिला तिवारी, रानी शर्मा, नीतू यादव, निशा प्रसाद, लता विश्वकर्मा, मानूसा वेन्दम, मानी थापा, पी ज्योती सहित अनेक महिलाएं घर-घर निमंत्रण दे रही हैं।

वैशाली नगर की वार्ड विधायक प्रतिनिधि नमिता हांडा ने बताया कि उन्होंने वैशाली नगर के घर-घर निमंत्रण पत्र अपनी टीम के साथ पहुंचाया है। वार्ड के आलावा विधानसभा के सभी धार्मिक प्रांगणों से भी लोगों को निमंत्रित किया जा रहा है। उनके वार्ड में लोग झालर और तोरण लगा कर घरों को सजा रहे हैं। लगभग 500 साल बाद भगवान श्रीराम की अयोध्या में वापसी और मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के क्षण का हम सभी साक्षी बन रहे हैं। भिलाई के बैकुंठ धाम में वैशाली नगर के नागरिक पहुंच कर भव्य आतिशबाजी के साथ इस खुशी के पल में सहभागी बनेंगे।

आपको बता दें कि 22 जनवरी को रामलला अपने भव्य मंदिर में विराजमान होंगे। उस अद्भुत, अलौकिक और अविस्मरणीय पल का साक्षी बनने पूरा शहर बेताब है। दीवाली के बाद एक और दीपोत्सव को यादगार बनाने के लिए लोग अपने घर आंगन को रंगोली और बंदनवार से सजा रहे हैं। हर छोटे- बड़े मंदिरों में आकर्षक साज-सज्जा की जा रही है। हर तरफ लोगों का हुजूम नजर आ रहा है। चारों तरफ दीवाली सदृश्य वातावरण है। सड़कों से लेकर मंदिरों तक हर तरफ राम भजन सुनाई दे रहा है। सोमवार को अयोध्या में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दिन जिले के 390 गांवों और दुर्ग-भिलाई के 130 वार्डों के लगभग 6000 छोटे-बड़े मंदिरों में विशेष पूजा पाठ, हवन, भजन, कीर्तन की तैयारी की चल रही है। हर मंदिर में सुन्दर कांड और हनुमान चालीसा पाठ जैसे अन्य धार्मिक कार्यक्रम होंगे। भव्य श्रीराम संध्या आयोजित की जाएगी। 108 से लेकर 21000 दी प्रज्जवलित करने की योजना मंदिरों में है।

बैकुंठधाम मंदिर कैंप-2, राम मंदिर इंदिरा नगर सुपेला, बघवा मंदिर, परदेशी चौक सुपेला, मंदिर मैत्री नगर, श्रीराम मंदिर दुर्ग, श्री हनुमान मंदिर जवाहर नगर, महामृत्युंजय मंदिर आदर्श नगर, संकट मोचन मंदिर हाउसिंग बोर्ड में विशेष आयोजन होंगे। इन दिनों फूलों की डिमांड दीवाली से भी ज्यादा बढ़ गई है। इस दिन करीब 20 क्विंटल गेंदे की लड़ी की खपत होगी। सभी मंदिरों में स्थानीय लोगों के सहयोग से ही कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है। जिले में करीब 5000 मानस और भजन मंडलियां हैं। 22 जनवरी को सभी अपने गांव और मोहल्ले के मंदिरों में ही सेवाएं देंगी। कहीं संगीतमय रामकथा की तैयारी चल रही है तो तो कहीं बालकांड और सुंदर कांड के सस्वर सामूहिक पाठ की।

वैशाली नगर विधानसभा में बैकुंठधाम में हो रहे बड़े आयोजन की तैयारियां भी लगभग पूरी हो चुकी हैं। वैशाली नगर विधायक रिकेश सेन ने सभी लोगों को आयोजन में शामिल हो पांच दीप प्रभु श्रीराम के लिए अवश्य जलाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि हम सभी लोग बड़े भाग्यशाली हैं कि लगभग 500 वर्ष बाद श्रीरामलला की अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा हो रही है और हम सब लोग इस दिन के साक्षी बनने जा रहे हैं।


Related Articles