Bhilai Times

Nasal Vaccine Price: नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन की कीमत तय, जानें कैसे करती है काम….

Nasal Vaccine Price: नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन की कीमत तय, जानें कैसे करती है काम….

नाक से दी जाने वाली भारत बॉयोटेक (Bharat Biotech) की नेजल वैक्सीन के कीमतों का खुलासा हो गया है. बूस्टर डोज के तौर पर दी जाने वाली कंपनी की इंट्रानेजल वैक्सीन ‘इनकोवैक (iNCOVACC-r) निजी वैक्सीनेशन सेंटर पर 800 रुपये की कीमत में उपलब्ध होगी. वहीं सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर पर स्लॉट बुक कराए लोगों को 325 रुपये की कीमत में मिलेगी. हैदराबाद की कंपनी में बनी नेजल वैक्सीन बुकिंग के लिए को-विन (Co-Win) प्लेटफार्म पर उपलब्ध है. वैक्सीन की कीमत टैक्स छोड़कर बताई गई है. भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने मंगलवार को यह जानकारी दी है.

जनवरी 2023 के चौथे सप्ताह में उपलब्ध होगी नेजल वैक्सीन
मंगलवार को भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने कहा कि उसकी नाक से दी जाने वाली कोविड-19 रोधी नेजल वैक्सीन ‘इनकोवैक’ (iNCOVACC-r) की कीमत प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटर के लिए 800 रुपये (जीएसटी को छोड़कर) और सरकारी वैक्सीन वैक्सीनेशन सेंटर के लिए 325 रुपये (जीएसटी को छोड़कर) रखी गई है. नेजल वैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने बताया है कि जनवरी 2023 के चौथे सप्ताह से उपलब्ध होगी. फिलहाल नेजल वैक्सीन कोविन पोर्टल पर बुकिंग के लिए उपलब्ध है.

बूस्टर डोज के तौर पर इस्तेमाल करने की मिल चुकी है मंजूरी
कंपनी ने दावा है कि इनकोवैक दुनिया की पहली नाक से दी जाने वाली कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीन है. भारत बॉयोटेक के नेजल वैक्सीन को बूस्टर डोज के तौर पर इस्तेमाल की जाने की सरकार ने मंजूरी दी है. जानकारी के मुताबिक कोविड-19 के खिलाफ दिए जाने वाले दोनों प्राइमरी डोज के लिए भी अप्रूवल दी गई है. बूस्टर डोज के मामले में दोनों प्राइमरी डोज से अलग खुराक दी जा सकती है.

इस महीने की शुरुआत में भारत बायाटेक को बूस्टर डोज के तौर पर इनकोवैक वैक्सीन इस्तेमाल करने की भारत के सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (CDSCO) से मंजूरी मिल चुकी है. भारत बायोटेक के कार्यकारी अध्यक्ष कृष्णा इल्ला ने बताया कि हमने दो अलग-अलग आपूर्ति प्रणाली के साथ दो अलग-अलग मंच से दो कोविड-19 संक्रमण के खिलाफ टीका- कोवैक्सीन और इनकोवैक विकसित की है. कंपनी ने बताया कि इनकोवैक (दो खुराक के बराबर) वैक्सीन की तीसरे फेज की ट्रायल की गई है. भारत बॉयोटेक ने आगे जानकारी देते हुए कहा कि इनकोवैक वाशिंगटन यूनिवर्सिटी, सेंट लुइस के साथ मिलकर विकसित की गई है.

नेजल वैक्सीन (Nasal Vaccine) इंट्रा नेजल (Intranasal) यानी नाक के जरिए ड्रॉप डालकर इस वैक्सीन को बूस्टर डोज के तौर पर दिया जाएगा। वैक्सीन की 2-2 ड्रॉप नाक के दोनों छेद में डाली जाएगी। बता दें कि इस वैक्सीन को लगाने में किसी तरह का दर्द नहीं होगा।


Related Articles