Bhilai Times

VIDEO-छत्तीसगढ़ और यूपी पुलिस में छीनाझपटी: ZEE NEWS के एंकर को गिरफ्तार करने दिल्ली पहुंची है छत्तीसगढ़ पुलिस…घर के बाहर हो गया बवाल, Twitter पर चल रहा है वार, देखिए ये वीडियो

VIDEO-छत्तीसगढ़ और यूपी पुलिस में छीनाझपटी: ZEE NEWS के एंकर को गिरफ्तार करने दिल्ली पहुंची है छत्तीसगढ़ पुलिस…घर के बाहर हो गया बवाल, Twitter पर चल रहा है वार, देखिए ये वीडियो

दिल्ली। जी न्यूज के एंकर व पत्रकार को गिरफ्तार करने के लिए छत्तीसगढ़ की रायपुर पुलिस दिल्ली पहुंच गई है। ये सुबह का बड़ा अपडेट है। ये टीम सुबह-सुबह पत्रकार रोहित रंजन के घर पहुंची। जहां बवाल हो रहा है। बताया जा रहा है कि छत्तीसगढ़ पुलिस मंगलवार सुबह एक टीवी चैनल के एंकर घर पहुंची है। टीवी एंकर को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम बाहर खड़ी है।

दरअसल, इस कार्रवाई के लिए माना जा रहा है कि राहुल गांधी के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश करने के मामले में उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इस सिलसिले में छत्तीसगढ़ पुलिस यहां आई है।


टीवी चैनल के एंकर रोहित रंजन ने मंगलवार सुबह 6.16 बजे ट्वीट किया, “छत्तीसगढ़ पुलिस स्थानीय पुलिस को बताए बिना मुझे गिरफ्तार करने के लिए मेरे घर के बाहर खड़ी है। क्या यह कानूनी रूप से सही है। ” रोहित ने इस ट्वीट को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, एसएसपी गाजियाबाद और एडीजी जोन लखनऊ को भी टैग किया है।

हालांकि, सरकार या पुलिस ने ट्वीट पर अभी कोई टिप्पणी नहीं की है. रोहित रंजन के ट्वीट पर दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने लिखा, ‘कृपया शलभमणि त्रिपाठी जी की मदद करें. बग्गा के इस ट्वीट के जवाब में शलभमणि त्रिपाठी ने लिखा, ”हां.

जानिए क्या बोली छत्तीसगढ़ पुलिस ?
छत्तीसगढ़ की रायपुर पुलिस ने एंकर रोहित रंजन के इस ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, “सूचना देने के लिए ऐसा कोई नियम नहीं है। फिर भी, अब उन्हें सूचित कर दिया गया है. पुलिस टीम ने आपको अदालत का गिरफ्तारी वारंट दिखाया है. वास्तव में सहयोग करें, जांच में शामिल हों और कोर्ट में अपना पक्ष रखें.”

जानिए कहां-कहां केस दर्ज ?
कांग्रेस का आरोप है कि हाल ही में एंकर रोहित रंजन ने अपने खास टीवी शो में वरिष्ठ नेता औऱ लोकसभा सांसद राहुल गांधी के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया. इससे उनकी छवि धूमिल हुई है. इस मामले में छत्तीसगढ़ में प्राथमिकी दर्ज की गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राजस्थान में भी कई थानों में FIR दर्ज है.


Related Articles