भिलाई में बड़ी वारदात की थी तैयारी, दुर्ग पुलिस ने किया खुलासा…पिस्टल समेत 3 जिंदा कारतूस बरामद, 3 आरोपी गिरफ्तार

भिलाई। इंस्टाग्राम में पिस्टल के साथ फोटो खींचकर पिस्टल के साथ वायरल कर लोगो मे खौफ पैदा करने के मामले में पुलिस ने तीन युवकों को पकड़ा है। आरोपियो को एंटी क्राइम की टीम ने दबिश देकर पकड़ा है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक हथखोज ट्रांसपोर्ट नगर से गुरविंदर और हाऊसिंग बोर्ड कुरूद से दो युवकों को गिरफ्तार किया है।

तीनो युवकों के पास से पुलिस ने तीन बोर पिस्टल बरामद हुआ है। यह पिस्टल कहा से सप्लाई की जा रही है इसके बारे में पुलिस खोजबीन जारी है। एंटी क्राइम की टीम को इंस्टाग्राम से क्लू मिलने के बाद युवकों को पकड़ने के लिए जाल बिछाया और तीनों युवक पकड़े गए। एन्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट दुर्ग व थाना पुरानी भिलाई की संयुक्त कार्यवाही।

पुलिस की तरफ से जारी प्रेस रिलीज में क्या लिखा है –
मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है के विगत कुछ समय से जिले में असमाजिक तत्वों द्वारा अवैध रूप से अपने कब्जे में फायर आर्मा रखने को सूचना प्राप्त हो रही थी, जिसे अत्यंत ही गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय डॉ अभिषेक पल्लव (भा.पु.से.) के द्वारा अवैध फायर आन्स रखने वालों के विरूद्ध त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपियों की शीघ्र पतासाजी एवं फायर आ बरामदगी हेतु निर्देश प्राप्त हुए थे,

जिसके पतन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) संजय ध्रुव (रा.पु.से.), अति पुलिस अधीक्षक (दुर्ग) विश्वास चन्द्राकर (रा.पु.से.), उप पुलिस अधीक्षक (अपराध) नसर सिद्धिकी (रा.पु.से.) के मार्गदर्शन में ए.सी.सी. यू प्रभारी निरीक्षक संतोष मिश्रा, थाना प्रभारी पुरानी भिलाई निरीक्षक मनीष शर्मा के नेतृत्व में ए.सी.सी. यू एवं थानों की एक संयुक्त टीम गठित कर टीम को कार्यवाही हेतु लगाया गया था।

टीम द्वारा संदेहियों पर सतत् निगाह रखी जा रही थी, विशेष सूत्र भी लगाये गये थे। जेल से रिहा हुए पूर्व के आदतन अपराधियों पर भी निगाह रखी जा रही थी। विशेष सूत्रों से पता चला कि हथखोज इंजीनियरिंग पार्क बालाजी फैक्ट्री के पीछे तीन व्यक्ति जो अपने पास अवैध रूप से रखे फायर आर्म्स एवं जिन्दा कारतूस को, लोगों को दिखाकर क्षेत्र में भय व्याप्त कर रहे हैं, कि सूचना पर टीम द्वारा हथखोज इंजीनियरिंग पार्क बालाजी फैक्ट्री के पीछे पहुंचकर आरोपी मोहम्मद अरशद, गुरविन्दर सिंह व रिहान खान को घेरा बंदी कर पकड़ा गया।

आरोपियों के कब्जे से टीम द्वारा 01 नग पिस्टल व 03 नग 7.65 एम. एम. का जिन्दा कारतूस बरामद किया गया। जिसके सम्बन्ध में आरोपियों द्वारा कोई वैध दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया गया। आरोपियों के विरुद्ध अग्रिम कार्यवाही थाना पुरानी भिलाई से की जा रही है।

उक्त कार्यवाही में थाना पुरानी भिलाई से सउनि राजेश पाण्डेय, प्र.आर. राकेश सिंह, आरक्षक विजय कुमार एवं एन्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट दुर्ग से आरक्षक सत्येन्द्र महरिया, अरविन्द मिश्रा, डी.प्रकाश एवं राकेश चौधरी की उल्लेखनीय भूमिका रही।

गिरफ्तार आरोपी
01. मोहम्मद अरशद पिता मोहम्मद असलम उम्र 23 वर्ष निवासी हाउसिंग बोर्ड जामुल जिला दुर्ग 02. गुरविन्दर सिंह पिता दलवीर सिंह उम्र 20 वर्ष निवत्ती इंदिरा नगर हथयोग जिला दुर्ग 03. रिहान खान पिता रियाज खान उम्र 24 वर्ष निवासी ढांचा भवन के पास कुरूद जामुल जिला दुर्ग

खबरें और भी हैं...
संबंधित

दुर्ग में खौफनाक वारदात: पहले पत्नी ने अपनी पत्नी...

दुर्ग। दुर्ग जिले के उतई के पास खोपली गांव में शुक्रवार रात बड़ा कांड हो गया है। खोपली गांव के रहने वाले हेंगल बंजारे...

छत्तीसगढ़ में पुलिस और नक्सलियों के बीच एनकाउंटर: 8...

File Photo नारायणपुर। छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ की खबर सामने आ रही है। मिली जानकारी के अनुसार, छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र राज्य की सीमा...

छत्तीसगढ़ में अवैध कोल लेवी वसूली मामला: EOW ने...

रायपुर। प्रदेश में 570 करोड़ के कोल लेवी वसूली मामले EOW ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। 13 जून को ईओडब्ल्यू ने बिलासपुर...

CG – दो कांस्टेबल सस्पेंड: सिख बस ड्राइवर से...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक सिख बस चालक के साथ दुर्व्यवहार करने का मामला सामने आया है। ये दुर्व्यवहार दो कांस्टेबल ने...

ट्रेंडिंग