महादेव बुक मामले में जेल में बंद सस्पेंडेड आरक्षक भीम सिंह बर्खास्त: दुर्ग SP जीतेन्द्र शुक्ला ने जारी किया आदेश… दो दिन पहले अर्जुन सिंह को भी किया गया था सर्विस से डिसमिस; प्रमोटर रवि उप्पल पर भी इनाम घोषित

आरोपी भीम सिंह, दुर्ग SP IPS जीतेन्द्र शुक्ला

भिलाई। महादेव बुक केस में सस्पेंड आरक्षक भीम सिंह को दुर्ग के नए पुलिस कप्तान IPS जीतेन्द्र शुक्ला ने नौकरी से बर्खास्त कर दिया है। आपको बात दें, भीम सिंह मनी लॉन्ड्रिंग मामले जेल में बंद है। अब उनको पुलिस सर्विस से डिसमिस कर दिया गया है। SP जितेंद्र शुक्ला ने गुरुवार को बर्खास्तगी का आदेश जारी किया है। भीम सिंह को नवंबर 2023 में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में ED ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद से ही वह जेल में बंद है। नवपदस्थ IG रामगोपाल गर्ग और दुर्ग SP जीतेन्द्र शुक्ला ऑनलाइन सट्टा महादेव बुक के खिलाफ सख्ती से पेश एते नजर आ रहे है।

अर्जुन सिंह यादव

अर्जुन सिंह यादव को भी किया गया था बर्खास्त
आनलाइन सट्टा महादेव एप मामले में फरार चल रहा आरक्षक अर्जुन सिंह यादव को एसपी दुर्ग ने पहले पुलिस की सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। मंगलवार को कार्यभार ग्रहण करते ही पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला ने जांच प्रतिवेदन के आधार पर आरक्षक को पुलिस की सेवा से बर्खास्त करने के आदेश पर हस्ताक्षर किए। आरक्षक के खिलाफ विभागीय जांच चल रही थी। जिसके आधार पर 27 फरवरी 2023 को दुर्ग आरआइ की तरफ से आरोप पत्र जारी किया गया था। उसके बाद ये कार्रवाई की गई है। अर्जुन सिंह यादव वह भीम सिंह यादव सगे भाई हैं। 2022 में महादेव बुक मामले में ही भीम सिंह और अर्जुन सिंह का भाई सिपाही सहदेव को संलिप्तता के चलते सस्पेंड किया गया था। उस पर आरोप था कि वह साल 2021 से कई महीने तक बिना किसी सूचना के गायब रहा।

सिपाही सहदेव

रवि उप्पल पर भी ईनाम घोषित
महादेव बुक के संचालक सौरभ चंद्राकर के बाद पुलिस ने अब रवि उप्पल के सिर पर भी इनाम की घोषणा कर दी है। दुर्ग रेंज के आइजी राम गोपाल गर्ग व एसपी जितेंद्र शुक्ला ने रवि उप्पल को पकड़वाने वाले को 35 हजार का इनाम दिए जाने की घोषणा की है। जानकारी देने वाले का नाम पता गोपनीय रखा जाएगा। आपको बता दें कि महादेव बुक के संचालक सौरभ चंद्राकर के ऊपर आईजी दुर्ग ने दो दिन पहले ही 25 हजार रुपए का ईनाम घोषित किया था। अब यह ईनाम रवि उप्पल को पकड़वाने वाले के लिए घोषित किया गया है। जो भी व्यक्ति रवि के बारे ठोस जानकारी देगा उसे पुलिस 35 हजार रुपए इनाम देगी। दुर्ग रेंज के आइजी राम गोपाल गर्ग ने कहा कि महादेव सट्टा एप का प्रकरण काफी गंभीर है। इसके मुख्य आरोपी सौरभ चंद्राकर व रवि उप्पल फरार हैं। उनके बारे में कोई भी जानकारी जो भी व्यक्ति देगा और उनकी गिरफ्तारी कराएगा उसे घोषित किया गया ईनाम दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

बिलासपुर लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी तोखन साहू ने भरा...

डेस्क। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय बिलासपुर पहुंचे। सीएम साय बिलासपुर लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी तोखन साहू के नामांकन में शामिल हुए।...

मतदान में हर पल पर रहेगी पैनी नजर: CEO...

रायपुर। लोकसभा निर्वाचन 2024 अंतर्गत प्रदेश में प्रथम चरण में बस्तर लोकसभा क्षेत्र में हो रहे मतदान की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखने...

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को तगड़ा झटका: बस्तर में वोटिंग...

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बस्तर में वोटिंग के एक दिन पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। भारतीय जनता पार्टी की रीति-नीति से प्रभावित होकर...

अनोखी पहल: रायपुर जिले के सात विधानसभा के एक-एक...

रायपुर। आगामी लोकसभा चुनाव-2024 में जिले के सभी विधानसभा के एक-एक बूथ दिव्यांग कर्मचारी संभालंेगे। जिनमें पीठासीन अधिकारी सहित पी-01, पी-02 एवं पी-03 सभी...

ट्रेंडिंग