CG – मंदिर में प्राचीन मूर्ति की लूट: कट्टा दिखाकर पुजारी को बनाया बंधक… फिर भगवान गणेश की प्राचीन प्रतिमा लूट ले भागे बदमाश… पुलिस जांच में जुटी

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से बड़ी खबर आ रही है। यहां एक मंदिर में भगवान गणेश की प्राचीन मूर्ति की लूट की बड़ी वारदात हुई है। बंदूक की नोंक पर लूट की ये पूरी वारदात हुई है। घटना मस्तूरी इलाके के इटवा पाली स्थित भंवर गणेश की मूर्ति लूट से इलाके में हड़कंप मच गया है। घटना के बाद स्थानीय लोगों में भी आक्रोश है। दरअसल इस गणेश के प्रति स्थानीय लोगों की गहरी आस्था थी।

जानकारी के मुताबिक मस्तूरी थाना क्षेत्र के ग्राम इटवापाली में प्राचीन भंवर गणेश का मंदिर है। यहां सातवीं से दसवीं सदी के बीच की ग्रेनाइट की बनी गणेश जी की मूर्ति हैं स्थापित है। यह गांव मस्तूरी थाना से दस किलोमीटर दूर स्थित है। कल रात मंदिर के पुजारी महेश केंवट मंदिर में ही सो रहे थे। तभी चार युवक मंदिर पहुँचे। और उनकी पिटाई करते हुए उनके हाथ पांव बांध कर उनके मुंह मे टेप चिपका दिया। जिसके बाद बेशकीमती मूर्ति को उन्होंने उखाड़ने की कोशिश की। इसके लिए तैयारी के साथ आये बदमाश अपने साथ औजार भी लेकर आये थे। उन्होंने मूर्ति के न उखड़ने पर औजार से तोड़ कर ले गए। जब भक्त सुबह मंदिर पहुँचे तो उन्हें पुजारी बंधा मिला। उसके हाथ पांव व मुँह खोल कर ग्रामीणों ने घटना की जानकारी ली और पुलिस को सूचना दी।

सूचना मिलते ही एसएसपी पारुल माथुर, एडिशनल एसपी राहुल शर्मा व गरिमा द्विवेदी, एसीसीयू प्रभारी हरविंदर सिंह, मस्तूरी टीआई प्रकाश कांत गांव पहुँच गए। गांव वालों से जानकारी लेकर व डॉग स्क्वायड के माध्यम से आरोपियों की जानकारी जुटाई जा रही है। इसके साथ ही पुजारी का बयान भी लिया गया है। बताया जाता है कि प्राचीन ग्रेनाइट से बनी मूर्तियां बेशकीमती होती है। और जितनी अधिक ये प्राचीन होती है उतनी ही इसकी विदेशो में कीमत होती है। घटना के सम्बंध में जानकारी लगने पर मस्तूरी विधायक डॉक्टर कृष्ण मूर्ति बंधी भी मौके पर पहुँचे हैं।

डिंडेश्वरी मंदिर से भी प्रतिमा ले उड़े थे चोर
गाँव के लोगो का कहना है कि भंवर गणेश जी को मस्तूरी क्षेत्र के मल्हार ऐतिहासिक स्थल का केंद्र डिंडेश्वरी माता मंदिर के समकक्ष माना जाता था भंवर गणेश जी देवी के भाई के रूप में पूजे जाते थे, वही मान्यता है कि भगवान गणेश के मंदिर में लगाई हर अर्जी पूरी होती है। चोरी की खबर सुन कर भक्त काफी संख्या में मंदिर पहुँच गए हैं। कुछ वर्ष पूर्व मल्हार की प्रसिद्ध डिंडेश्वरी देवी की मूर्ति भी चोरी हो गई थी। जो काफी चर्चित मामला रहा था।और पुलिस ने अथक प्रयासों से यूपी से मूर्ति को बरामद किया था। पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए चारों तरफ नाकेबंदी भी कर दी हैं।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

भिलाई में मॉल के सामने सड़क पर अवैध कब्जाधारियों...

भिलाई। भिलाई के जुनवानी स्थित सूर्या मॉल के सामने अवैध कब्जाधारियों के ऊपर नगर निगम ने आज कार्रवाई की है। निगम को लगातार शिकायत...

शहर में ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले ऑटो चालकों के...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में SSP संतोष सिंह के निर्देश पर ट्रैफिक पुलिस ने नो पार्किंग में खड़ी 248 ऑटो के चालकों पर...

बस्तर के इस जिले में 33 नक्सलियों ने किया...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के बीजापुर जिले में 33 नक्सलियों ने हथियार छोड़ सरेंडर किया हैं। बीजापुर जिले में 33 नक्सलियों द्वारा आत्मसमर्पण...

बिलासपुर से जगदलपुर के लिए 1 से शुरू होगी...

रायपुर। छत्तीसगढ़ में फ्लाइट कनेक्टिविटी में विस्तार होने जा रहा है। बिलासपुर से बस्तर के जगदलपुर एयरपोर्ट तक डायरेक्ट फ्लाइट सेवा 1 जून से...

ट्रेंडिंग