Bhilai Times

दुर्ग में 1.5 करोड़ की लागत से 3 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र होंगे अपडेट… CCTV से होगी शहर की निगरानी; राशन कार्ड KYC के लिए वार्डों में कैम्प लगाने के लिए MLA अरुण वोरा ने दिए निर्देश

दुर्ग में 1.5 करोड़ की लागत से 3 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र होंगे अपडेट… CCTV से होगी शहर की निगरानी; राशन कार्ड KYC के लिए वार्डों में कैम्प लगाने के लिए MLA अरुण वोरा ने दिए निर्देश

  • कैमरों से शहर के चौक चौराहों की होगी मॉनिटरिंग
  • चार वर्षों में शहर में किया गया स्वास्थ्य सेवाओं में अभूतपूर्व विस्तार: MLA वोरा

दुर्ग। दुर्ग शहर में दुर्ग में 1.5 करोड़ की लागत से 3 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अपडेट होंगे। स्वास्थ्य सेवाओं एव जनस्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु किए जा रहे कार्यों की वरिष्ठ कांग्रेस विधायक एव राज्य भंडारगृह निगम के अध्यक्ष अरुण वोरा ने समीक्षा की। सीएमएचओ डॉ जे पी मेश्राम, सिविल सर्जन वाय के शर्मा, डॉ राजेन्द्र खंडेलवाल समेत सीजीएमएससी एव स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ वोरा ने स्वास्थ्य सेवाओं के अपग्रेडेशन पर विस्तार से चर्चा की। विगत 4 वर्षों में दुर्ग जिले के सबसे बड़े शासकीय अस्पताल के उन्नयन एवं शहर के सभी कोने में स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ करने के लिए लगभग 100 करोड़ की राशि खर्च की गई है जिस कड़ी में कार्य लगातार प्रगतिरत हैं।

जिला अस्पताल जैसी सुविधाएं विकसित करने के लिए शहर में बघेरा, पोटिया एवं धमधा नाका स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का अब हमर अस्पताल के रूप में उन्नयन किया जा रहा है। 50-50 लाख की राशि खर्च कर अब प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में सोनोग्राफी, एक्स रे, डेंटल क्लिनिक, फिजियोथेरेपी सुविधाओं के साथ 24 घंटे ओपीडी एवं भर्ती की सुविधा उपलब्ध रहेगी साथ ही चौबीसों घंटे एमबीबीएस डॉक्टरों की मौजूदगी रहेगी। वोरा ने कहा कि 15 वर्षों के भाजपा शासन में दुर्ग शहर में स्वास्थ्य सेवाएं केवल जर्जर जिला अस्पताल के भरोसे चल रही थीं लेकिन कांग्रेस सरकार आने के बाद विगत 4 वर्ष में ना सिर्फ जिला अस्पताल को मेट्रो सिटी की तर्ज पर स्मार्ट बनाया गया है बल्कि हर वार्ड में जनता के लिए घर के द्वार पर मुफ्त एवं बेहतर इलाज उपलब्ध कराया गया है।

500 बिस्तर वाला दुर्ग जिला अस्पताल मध्य आय वर्ग एवं गरीबों के इलाज का बड़ा सहारा है जहां गुणवत्तायुक्त बेहतर चिकित्सा आम जनों को प्राप्त हो इसे लक्ष्य बना कर कार्य किया जा रहा है। आज हमर लैब में 214 तरह की जांच मुफ्त में कराई जा सकती है। सर्जिकल वार्ड, ट्रामा सेंटर, डेंटल ओपीडी, वायरोलॉजी लैब, ऑक्सीजन प्लांट, मेडिकल गैस पाइप लाइन की सुविधा से युक्त शासकीय अस्पताल पूरी तरह से अपग्रेड हो गया है साथ ही नया टीबी अस्पताल एवं क्रिटिकल केयर यूनिट का निर्माण जारी है। वोरा ने सीजीएमएससी के अधिकारियों से प्रगतिरत कार्यों को समय सीमा में पूर्ण कराने के निर्देश दिए। अधिकारियों ने बताया कि शहर के 21 वार्डों में 36-36 लाख से हमर क्लिनिक निर्माण स्वीकृत है जिनमें से 10 वार्डों में क्लिनिक का स्वयं का भवन जल्द तैयार कर लिया जाएगा।

राशन कार्ड KYC के लिए लगाएं वार्डों में कैम्प
वोरा ने खाद्य विभाग के अधिकारियों को वन नेशन वन कार्ड के अंतर्गत राशन कार्ड में केवायसी जोड़ने के लिए नागरिकों को हो रही परेशानी को देखते हुए हर वार्ड में कैम्प लगाने के निर्देश दिए हैं ताकि लोगों को राशन दुकानों में सर्वर धीमे होने की समस्या से निजात मिल सके।

कैमरों से शहर के चौक चौराहों की होगी मॉनिटरिंग
ट्रैफिक विभाग के अधिकारियों से भी वोरा ने चर्चा की एवं शासन से स्वीकृत 1.5 करोड़ की राशि से 12 चौक चौराहों में लगाए जाने वाले सीसी टीवी, एफ आर, पीटीजेड, बुलेट एवं अन्य कैमरों को जल्द से जल्द लगाने निर्देशित करते हुए कहा कि 12 चौक चौराहों में 132 कैमरों की निगरानी से शहर और भी सुरक्षित होगा।

इस दौरान सीजीएमएससी के एसडीओ इरशाद खान, ईई विक्रम गांधी, ललित वर्मा, स्वास्थ्य विभाग से टार्जन आदिले, खाद्य विभाग से सी दीपांकर, भौमिक बघेल, रेणु जांगड़े, प्रकृति चंद्राकर एल्डरमैन राजेश शर्मा, अंशुल पांडेय ट्रैफिक डीएसपी सतीश ठाकुर, विंध्याचल, टीआई संग्राम सिंह उपस्थित थे।


Related Articles