दुर्ग जिले में हत्या का सिलसिला जारी: भाई ने भाई को ही उतारा मौत के घाट… पत्नी को भी दिया जान से मारने की धमकी; ऐसे हुआ मामले का खुलासा

दुर्ग। दुर्ग जिले में लगातार हत्या के मामले सामने आ रहे है। भिलाई शहर के खुर्सीपार और कोहका के बाद अब मामला नेवई थाना क्षेत्र से आ रहा है। यहां एक भाई ने ही अपने भाई की हत्या कर दी है। आरोपी ने अपने भाई की हत्या करने के बाद साक्ष्य छिपाने डबरा के पानी में शव का पत्थर से बांध कर छिपा दिया था। नेवई पुलिस ने चंद घण्टों में हत्या की गुत्थी सुलझा ली। पुलिस ने आरोपी को भी अरेस्ट कर लिया है। आरोपी की पत्नी ने थाने में मामला दर्ज कराया तब जाकर मामला सामने आया।

पुलिस ने बताया क्या था पूरा मामला :-

पुलिस ने बताया कि,आरोपी की पत्नी ने थाना में मर्ग इंटीमेशन दर्ज कराया कि रविवार 17 सितंबर 2023 को सुबह वो अपने काम पर गई थी। शाम को घर वापस आई तो उसका देवर सन्नी उर्फ नेपाली रापजूत घर के बिस्तर में मरा पड़ा हुआ था। तब उसनेअपने पति दीपक राजपूत से पूछा की ये कैसे हुए? तो उसके पति ने बताया कि, बताया कि दोनो में झगड़ा होने से सन्नी उर्फ नेपाली ने उसे मारा तो इसके पति दीपक राजपूत ने आवेश में आकर ठोस वस्तु से हत्या करने की नियत ताबड़तोड़ हमला करते हुए दाहिने कान के पीछे, गला, कमर में मारपीट कर गंभीर चोट पहुंचाकर मौत के घाट उतारना बताया।

आरोपी ने अपनी पत्नी को धमकी देते हुए कहा कि, अगर वो किसी को इस बारे में बताएगी तो उसका भी यही हाल करने की धमकी दिया। इस वजह से वह अपने मायके स्टेशन मरोदा रात्रि में डर के कारण चले गई और किसी को कुछ नहीं बताई। सोमवार 18 सितंबर 2023 को सुबह अपनी मां को घटना के बारे में बताकर उनके साथ रिपोर्ट करने थाना आकर मर्ग क्रमांक 55/2023 धारा 174 जाफौ कायम कर जांच में लिया गया। मर्ग होने की सूचना पर तत्काल घटना स्थल इंदिरा चौक स्टेशन मरोदा मृतक के घर गया जहां मृतक नहीं मिलने पर आस पास पता तलाश करने पर मृतक के घर पास डबरी में मृतक सन्नी उर्फ नेपाली राजपूत को पानी में डूंबा था सिर दिख रहा था, जिसे पंचानों के मदद से बाहर निकाला गया मृतक को पत्थर से बांध कर पानी में डूबा दिया गया था। सिर में गंभीर चोट लगा था। मृतक के शव को पंचनामा कर पीएम हेतु दुर्ग मर्चुरी रवाना किया गया है।

हत्या के फरार आरोपी को पकड़ने के टीम गठित कर अलग-अलग दिशा में टीम रवाना किया गया था। आरोपी को संभावित आने जाने वाले जगहो पर नजर रखी गई थी। आरोपी बड़ी घटना कारित किया है बाहर भाग जाने की संभावना पर रेल्वे स्टेशन व बस स्टेशन में भी टीम लगाया गया था, तभी आरोपी की सूचना मिलने पर त्वरित कार्यवाही करते हुये गठित टीम द्वारा घटना के कुछ घण्टों बाद आरोपी दीपक राजपूत पिता देवा राजपूत उम्र 22 साल साकिन इंदिरा चौक स्टेशन मरोदा डबरी के पास थाना नेवई जिला दुर्ग को घेरा बंदी कर पकड़ा गया, आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 201 भादवि का अपराध कायम कर न्यायिक रिमांड पर भेजा जाता हैं।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

दुर्ग में PM आवास योजना के घटक मोर मकान-मोर...

दुर्ग। दुर्ग निगम क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना के घटक मोर मकान-मोर आस अंतर्गत पात्र/अपात्र की सूची तैयारी किया गया है। आपत्ति दावा प्रकाशन...

टाउनशिप में अवैध कब्जेधारियों के खिलाफ बिग एक्शन: पुलिस...

भिलाई। सेल के भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवाएं विभाग के प्रवर्तन अनुभाग द्वारा लगातार अवैध कब्जेधारियों के खिलाफ बेदखली की कार्रवाई की जा...

चिटफंड के फ्रॉड डायरेक्टर्स के खिलाफ होगी ताबड़तोड़ कार्रवाई:...

दुर्ग। दुर्ग रेंज के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (IGP) रामगोपाल गर्ग (IPS) ने सोमवार को एक महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता की, जिसमें चिटफंड के...

CM विष्णु देव की अच्छी पहल: छत्तीसगढ़ की पबिया,...

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने भारत सरकार को छत्तीसगढ़ की पबिया, पविया, पवीया जाति को ST की सूची में पाव जाति...

ट्रेंडिंग