Bhilai Times

भिलाई में सड़क पर सामान बेचने वालों के लिए बनने वाला है प्लान: मेयर नीरज, विधायक भसीन के साथ पार्षदों और अधिकारियों ने किया मंथन…ट्रैफिक का दबाव कम करने लिए गए कई जरूरी फैसले

भिलाई में सड़क पर सामान बेचने वालों के लिए बनने वाला है प्लान: मेयर नीरज, विधायक भसीन के साथ पार्षदों और अधिकारियों ने किया मंथन…ट्रैफिक का दबाव कम करने लिए गए कई जरूरी फैसले

भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई के सभागार में आज पथ विक्रेताओं के संरक्षण हेतु नगर विक्रय समिति का एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित किया गया। सर्वप्रथम महापौर नीरज पाल ने सरस्वती माता के तैल्य चित्र पर माल्यार्पण कर तथा दीप जलाकर कार्यशाला की शुरुआत की। आयोजित कार्यशाला में पथ विक्रेताओं को एक बेहतर और सुव्यवस्थित तरीके से वेंडिंग जोन के माध्यम से प्लेटफार्म दिए जाने पर प्रेजेंटेशन दिया गया। प्रेजेंटेशन देने के बाद विधायक विद्यारतन भसीन एवं महापौर नीरज पाल सहित एमआईसी मेंबर तथा व्यापारियों ने वेंडिंग एवं नान वेंडिंग जोन बनाए जाने पर अपने-अपने सुझाव व्यक्त किए।

महापौर ने इस दौरान अपने सुझाव में कहा कि पथ विक्रेताओं के लिए यह अच्छी योजना है, इसे पथ विक्रेताओं के साथ मिलकर उनके सुझावों के साथ अमलीजामा पहनाने की जरूरत है। धरातल पर इस कार्य योजना को लाने के लिए समय-समय पर इसकी बैठके भी जरूरी है, पथ विक्रेता रोज अपने व्यवसाय से गुजारा करते हैं। इन्हें सुव्यवस्थित करने के लिए बेहतर कार्य योजना तैयार किए जाने की आवश्यकता है। पथ विक्रेताओं से भी रायशुमारी की जरूरत है तभी शहर में व्यवस्थित वेंडिंग एवं नॉन वेंडिंग जोन बनाए जा सकते हैं।

विधायक विद्यारतन भसीन ने अपने सुझाव में कहा कि यह एक अच्छी कार्य योजना है इस विषय पर गंभीरता से कार्य करना होगा। वहीं महापौर परिषद के सदस्य संदीप निरंकारी एवं लालचंद वर्मा तथा व्यापारियों ने भी अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। आज की बैठक के अनुसार आगामी कार्य योजना तैयार की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि नगर पालिक निगम भिलाई द्वारा कुछ दिनों से शहर को सुव्यवस्थित करने के लिए अतिक्रमण एवं अवैध कब्जे के विरुद्ध कार्यवाही की जा रही है, लेकिन इनके व्यवस्थापन के बारे में भी भिलाई निगम गंभीरता पूर्वक विचार कर रहा है और इन्हें सुव्यवस्थित करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसीलिए पथ विक्रेताओं के संरक्षण हेतु नगर विक्रय समिति का एक दिवसीय कार्यशाला आज आयोजित किया गया।

इस योजना के तहत पथ विक्रेताओं को सुव्यवस्थित करने के लिए वेंडिंग जोन तैयार किया जाएगा, जहां पथ विक्रेता अपना खुलकर व्यवसाय कर सकेंगे, यही नहीं इन पथ विक्रेताओं को विशिष्ट पहचान पत्र नगर निगम भिलाई के द्वारा प्रदान किया जाएगा। वेंडिंग एवं नान वेंडिंग जोन बनने से ट्रैफिक दबाव कम होगा, दुर्घटनाओं की संभावनाओ से भी राहत मिलेगी और शहर व्यवस्थित दिखेगा।

आज की कार्यशाला में प्रमुख रूप से निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे, सभापति गिरवर बंटी साहू, अपर आयुक्त अशोक द्विवेदी, महापौर परिषद के सदस्य एकांश बंछोर, नेहा साहू, मन्नान गफ्फार खान, चंद्रशेखर गवई, मालती ठाकुर, रीता सिंह गेरा, केशव चौबे, जोन अध्यक्ष राजेश चौधरी, रामानंद मौर्या, जालंधर सिंह, पार्षद के जगदीश, महेश वर्मा, रविशंकर कुर्रे, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन की नोडल अधिकारी प्रीति सिंह, सभी जोन आयुक्त, चेंबर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी, व्यापारी गण, नगर विकास समिति के सदस्य, सहायक राजस्व अधिकारी आदि मौजूद रहे। मिशन मैनेजर नलनी तनेजा ने जानकारी देते हुए बताया कि 14000 विक्रेताओं को लेटर आफ रिकमेंडेशन जारी किया गया है, जिनमें से 8500 लोन स्वीकृत हुए हैं, इनमें से 1500 ने अपने परिवार की जानकारी देकर शपथ पत्र जमा किया है, शेष 7000 लोग अपना शपथ पत्र जमा नहीं किए हैं, यह अपने परिवार की जानकारी के साथ शपथ पत्र कक्ष क्रमांक 27 में मिशन मैनेजर तनेजा के पास संपर्क कर जमा कर सकते हैं।


Related Articles