चिटफंड के खिलाफ दुर्ग पुलिस की बड़ी कार्रवाई: लोगों को ठगने वाला डायरेक्टर पुलिस गिरफ्त में… विस्तार से पढ़िए खबर; कहीं आप तो नहीं हुए इन दो कंपनी के शिकार…?

भिलाई। दुर्ग पुलिस ने चिटफंड मामले में बड़ी कामयाबी पाई है। लोगों को ज्यादा ब्याज का झांसा देकर करोड़ो की ठगी करने वाले दो बड़े चिटफंड कंपनी के डायरेक्टर इदरीश अहमद को गिरफ्तार किया गया है। चिटफंड कंपनी अर्थतत्व क्रेडिट सोसायटी एवं संस्कारधानी इन्फ्रा हाउसिंग लिमिटेड के डायरेक्टर पर सुपेला पुलिस का शिकंजा कैसा है। दुर्ग पुलिस के द्वारा लगातार जारी है चिटफंड कंपनियों के डायरेक्टरो के विरूद्ध कार्यवाही एवं निवेशको को रकम लौटाने की प्रक्रिया चल रही है। अरसे से फरार चिटफंड कंपनी का डायरेक्टर को दुर्ग पुलिस ने बिलासपुर से गिरफ्तार किया है। पूर्व में भी आरोपी और कंपनी के खिलाफ चिटफंड के कई मामले दर्ज है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज, आनंद छाबड़ा व पुलिस अधीक्षक दुर्ग शलभ कुमार सिन्हा के निर्देशन पर चिटफंड कंपनी के डायरेक्टरो को गिरफ्तार करने में दुर्ग पुलिस के द्वारा लगातार कार्यवाही जारी है। आपको बता दें कि, अर्थतत्व क्रेडिट सोसायटी के डायरेक्टर इदरीश अहमद द्वारा आम लोगो को लुभावने ऑफर देकर जमा रकम का अल्प अवधि में ज्यादा ब्याज दिलाने का भरोसा दिलाकर रकम जमा कराया गया था। समयावधि पूर्ण होने पर ग्राहको द्वारा अपनी रकम आहरण करने कंपनी में जाने पर कंपनी के डायरेक्टर द्वारा रकम वापस न कर अमानत मे ख्यानत करने पर प्रार्थिया समृद्धि जैन की रिपोर्ट पर थाना सुपेला में अपराध क्रमांक 02/2022 धारा 409 भादवि, दर्ज कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस की टीम ने अभियान चलाकर चिटफंड कंपनियों के फरार डायरेक्टरो को गिरफ्तार करने निर्देश दिये गये है। अर्थतत्व क्रेडिट सोसायटी एवं संस्कारधानी इन्फ्रा हाउसिंग लिमिटेड का डायरेक्टर इदरीश अहमद रिपोर्ट दर्ज होने की जानकारी होते ही अपना निवास छोड़कर फरार हो गया था। जिसका लगातार पता तलाश किया जा रहा था। परन्तु आरोपी का कोई पता नहीं चल रहा था। इसी दौरान जानकारी मिली की आरोपी बिलासपुर में रह रहा है। जानकारी मिलते ही सादी वर्दी में पुलिस तैनात किया गया था। जो उनके उपर सतत् निगाह रखे हुए थे।

जब पूर्ण जानकारी होने पर की आरोपी इदरीश अहमद ही है तब सुपेला पुलिस द्वारा तत्काल टीम गठित कर बिलासपुर रवाना किया। आरोपी को घेराबंदी कर बिलासपुर में बड़ी मशक्कत के बाद पकड़ा गया। जिसे आज दिनांक 07.06.2023 को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। आरोपी से पुछने पर अपना जुर्म स्वीकार किया। आरोपी के विरूद्ध थाना सुपेला, थाना नेवई व अन्य थानो में भी चिटफंड के कई प्रकरण दर्ज है। प्रकरण में चिटफंड की धारा छग के निष्पेक्षको के संरक्षण अधि 2005 की धारा 10 जोड़ी गई। सुपेला पुलिस की इस कार्यवाही से निवेशको द्वारा जमा किये रकम वापस मिलने की सम्भावनाएं बढ़ी है।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

हौसलों की उड़ान: कभी स्कूटी नहीं चला पाती थी...

रायपुर। मजबूत इरादे और भरपूर आत्मविश्वास से ग्रामीण महिलाओं के लखपति दीदी बनने का सपना साकार हो रहा है। एक समय था जब मेरे...

शाला प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में शामिल हुए विधानसभा के पूर्व...

भिलाई नगर। शिक्षा का मूल उद्देश्य व्यक्ति के भीतर छिपी प्रतिभा को बाहर लाना है। हर बच्चे में बुद्धि होती है, लेकिन उसे सही...

भाजपाई कार्यकर्ताओं की समस्या सुनने पहुंचे वैशाली नगर MLA...

भिलाई नगर। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्य समिति की बैठक में दिए गए सुझाव अनुरूप वैशाली नगर विधायक रिकेश सेन प्रत्येक शनिवार जिला भिलाई...

बालोद अमलीडीह हत्याकांड : प्रेमी ने की थी शादीशुदा...

बालोद. छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के अमलीडीह हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा किया है. प्रेमी ने ही शादीशुदा महिला प्रेमिका की हत्या की थी. वारदात...

ट्रेंडिंग