Bhilai Times

दुर्ग यूनिवर्सिटी ने जारी किया संभावित टाइम-टेबल: एग्जाम होगा कैसे…? कुलपति डॉ. पल्टा ने कर दिया है ये इशारा…देखिए पूरा टाइम-टेबल

दुर्ग यूनिवर्सिटी ने जारी किया संभावित टाइम-टेबल: एग्जाम होगा कैसे…? कुलपति डॉ. पल्टा ने कर दिया है ये इशारा…देखिए पूरा टाइम-टेबल

भिलाई। दुर्ग यूनिवर्सिटी ने संभावित टाइम-टेबल जारी कर दिया है। यूनिवर्सिटी की ओर से प्रेस रिलीज में एक बात साफ हो रही है कि एग्जाम ऑफलाइन मोड पर हो सकते हैं। कहीं न कहीं कुलपति की बातों पर एक मैसेज है जो स्पष्ट हो रही है। हालांकि, राज्य सरकार की ओर से आदेश जारी होना बाकी है।

प्रेस रिलीज में क्या-कुछ कहा गया है…यह भी जानिए
हेमचंद यादव विवि दुर्ग द्वारा स्नातक स्तर की बी.ए., बीकॉम तथा बीएससी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय वर्ष की नियमित एवं प्राइवेट विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षा 2021-22 18 अप्रैल 2022 से 03 पालियों में आयोजित किया जाना प्रस्तावित है।

यह जानकारी देते हुए विवि के परीक्षा उपकुलसचिव, डॉ. राजमणि पटेल ने बताया कि विवि वार्षिक परीक्षाओं के प्रथम दिन 16 अप्रैल को बीसीए प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय कक्षाओं के परीक्षा आयोजन का प्रस्ताव हैं।

उपरोक्त सभी परीक्षाओं की विस्तृत समय सारिणी पर विवि के अधिकारियों के बीच गहन विचार मंथन जारी है। तथा शीघ्र ही सम्पूर्ण समय सारिणी जारी कर दी जाएगी।

डॉ. पटेल ने बताया कि प्रस्तावित समय सारिणी के अनुसार बीएससी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय कक्षाओं की नियमित एवं प्राइवेट परीक्षाएं 18 अप्रैल से 06 जून के मध्य आयोजित होंगे।

इनमें बीएससी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय, 18 अप्रैल से 06 जनू 2022 तक, बीएससी होम साइंस प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय 18 अप्रैल से 13 मई 2022 तक, बीए बीएड प्रथम, द्वितीय, तृतीय, एवं चतुर्थ 18 अप्रैल से 23 मई 2022 तक, बीएससी बी.एड. प्रथम,

द्वितीय, तृतीय, एवं चतुर्थ 18 अपै्रल से 31 मई 2022 तक, बी.लिब. 25 अपै्रल से 17 मई 2022 तक, बीसीए प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय 16 अप्रैल से 20 मई 2022 तक बी.ए. प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय 18 अपै्रल से 6 जून 2022 तक, बी.कॉम. 18 अप्रैल से 25 मई 2022 तक आयोजित किया जाने का प्रस्ताव है।

विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ. अरूणा पल्टा एवं कुलसचिव, डॉ. प्रषांत श्रीवास्तव ने समस्त परीक्षार्थियों को होली की शुभकामनाएं देते हुए उनसे आग्रह किया है कि अभी वार्षिक परीक्षा के आरंभ होने में एक माह का समय बाकी हैं।

अतः समस्त परीक्षार्थी अपने-अपने अध्ययन में जुट जाये। तथा विवि में अनावश्यक प्रदर्शन से बचे। कुलपति डॉ. पल्टा ने कहा कि हेमचंद यादव विष्वविद्यालय, दुर्ग एक राजकीय विवि है। अतः हमें शासन के प्रत्येक आदेष का शत् प्रतिषत् पालन करना अनिवार्य है।

परीक्षाओं की समय सारिणी घोषित हो जाने पश्चात् भी यदि राज्य शासन का परीक्षा के आयोजन पद्धति के संबंध में कोई आदेष जारी होता है तो विष्वविद्यालय उसका पूर्णतः पालन करेगा। विद्यार्थी किसी भी प्रकार के बहकावे में न आकर अपने अध्ययन पर ध्यान केन्द्रित करें।

एक नजर में जानिए दुर्गयूनिवर्सिटी को…
– हेमचंद यादव विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाएं 1 अप्रैल से होंगी

– इस बार कई परीक्षा केंद्रों में बैठक क्षमता से अधिक परीक्षार्थी हो गए हैं। इन परीक्षार्थियों के लिए

– इसी तरह विवि से संबद्ध शासकीय और निजी महाविद्यालयों की संख्या भी इन दिनों 144 हो गई है

– 68 कॉलेजों और 9 स्कूलों समेत शासकीय और निजी कॉलेज को उपकेंद्र बनाया गया है।

– वार्षिक परीक्षा 2021-22 के लिए 1.93 लाख परीक्षार्थियों ने पंजीयन कराया है

– 79,713 नियमित छात्र यूजी परीक्षा में शामिल होने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है

– 78,302 प्राइवेट छात्र है जो परीक्षा देंगे, अपना पंजीयन कराया है

– 34,985 परीक्षार्थियों ने पीजी प्राइवेट परीक्षा के लिए आवेदन किया है

– 9938 परीक्षार्थी ऐसे हैं, जो 8-10 साल गेप के बाद परीक्षा में शामिल हो रहे हैं।

– शिक्षा सत्र 2018-19 में परीक्षार्थियों की संख्या 87 हजार थी

– वर्ष 2019-20 में संख्या बढ़कर 1.21 लाख हो गई

– वर्ष 2020-21 में परीक्षार्थियों की संख्या में और वृद्धि हुई। परीक्षार्थियों की संख्या बढ़कर 1.43 लाख हो गई

– 9 स्कूलों समेत 17 महाविद्यालयों को उपकेंद्र बनाया गया है।

– साइंस कॉलेज के अधिक छात्र-छात्राओं को कृष्णा इंस्टीट्यूट खम्हरिया भेजा जाएगा।

– गर्ल्स कॉलेज के अतिरिक्त परीक्षार्थियों के लिए स्वरूपानंद कॉलेज हुडको में

– भिलाई-3 कॉलेज के लिए गर्ल्स स्कूल भिलाई-3 में

– वैशाली नगर कॉलेज के लिए रूंगटा कॉलेज कुरूद में

– उतई कॉलेज में परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले अतिरिक्त स्वाध्यायी परीक्षार्थियों को मचांदुर कॉलेज में केंद्र दिया जाएगा

– 10,772 स्टूडेंट्स के लिए बैठक व्यवस्था

– दुर्ग, बेमेतरा, बालोद, कवर्धा और बालोद के कॉलेजों में परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले 10,772 परीक्षार्थियों के लिए अलग बैठने की व्यवस्था की जा रही है

– डौंडीलोहारा में शदाणी कॉलेज, गुरूर कॉलेज के परीक्षार्थियों को कन्हारपुरी में उपकेंद्र बनाया है

– बेमेतरा में समाधान कॉलेज, गर्ल्स कॉलेज और नवागढ़ स्कूल को उपकेंद्र बनाया गया है।


Related Articles