Bhilai Times

बड़ी खबर: दुर्ग में लंपी वायरस का मिला संदिग्ध मामला… एक मवेशी में दिखे लक्षण… रायपुर भेजा गया टेस्ट के लिए ब्लड सैंपल; जानिए लक्षण और बचाव के तरीके

बड़ी खबर: दुर्ग में लंपी वायरस का मिला संदिग्ध मामला… एक मवेशी में दिखे लक्षण… रायपुर भेजा गया टेस्ट के लिए ब्लड सैंपल; जानिए लक्षण और बचाव के तरीके

दुर्ग। भारत में मवेशियों में फ़ैल रहे लंपी वायरस का खतरा बढ़ता जा रहा है। आए दिन सैकड़ो मवेशियों की इस वायरस के कारण मौत हो रही है। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में एक मवेशी में इसके लक्षण दिखे हैं। जिसकी पुष्टि पशु विभाग के चिकित्सकों ने की है। अब उसका ब्लड सैंपल लेकर टेस्ट के लिए रायपुर भेजा गया है। इसके बाद सैंपल को भोपाल भेजा जाएगा।

रायपुर भेजा गया सैंपल
उप संचालक, पशु चिकित्सा विभाग डॉ. एमके चावला का कहना है कि अब तक एक ही पशु में लंपी वायरस के लक्षण मिले हैं। उसका ब्लड सैंपल रायपुर भेजा गया है। वहां से भोपाल भेजा जाएगा। लैब में जांच होने के बाद ही तय हो पाएगा कि संदिग्ध मवेशी में लंपी के वायरस है या नहीं। अभी तक एक भी पशु में इस वायरस के होने की पुष्टि नहीं हुई है। उसके अलावा 3 और मवेशियों के सैंपल भी भेजे गए हैं। उधर, कामधेनु विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और पशु चिकित्सक डॉ. एसके मैती ने कहा है कि जिले में कुछ और मवेशियों में भी इसके लक्षण मिले हैं।

लंपी वायरस के लक्षण
डॉ. एसके मैती के अनुसार लंपी वायरस भेंड़ और बकरी में पाये जाने वाले वायरस का अपग्रेड रूप है। यह गाय और भैंस प्रजाति के जानवरों में ही होता है। इसमें जानवर को तेज बुखार आता है। शरीर में ढ़ेर सारी छोटी-छोटी गांठ दिखने लगती है। पैरों में सूजन आ जाता है। तेज दर्द के कारण जानवर चल नहीं पाता है। उसका खाना कम हो जाता है।

वायरस से बचाव कैसे ?
डॉ. मैती ने बताया कि लंपी वायरस गाय भैंस के अलावा दूसरे जानवर या इंसान में नहीं फैलता है। इसलिए उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है। मवेशियों में ये न फैले इसके लिए सबसे जरूरी है कि दूसरे राज्यों से मवेशियों को यहां न लाएं। एक जानवर का चारा दूसरा जानवर न खाए। मच्छर, मक्खियों से बचाव करें। एक जानवर की सुई दूसरे जानवर को कभी न लगाएं। इससे यह वायरस तेजी से एक से दूसरे में फैलता है।

अन्य राज्यों में तेज़ी से फ़ैल रहा है संक्रमण
लंपी वायरस का संक्रमण महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश राज्यों में काफी अधिक है। यह सभी राज्य छत्तीसगढ़ राज्य से लगे हुए हैं। इसके अलावा राजस्थान और गुजरात में भी लंपी वायरस ने अटैक किया है। यहां बड़ी संख्या में मवेशियों की मौत भी हुई है। इससे इस वायरस के छत्तीसगढ़ राज्य में फैलने का खतरा बना हुआ है।


Related Articles