काली फिल्म की डायरेक्टर ने फिर किया विवादित पोस्ट: अब शिव-पार्वती को सिगरेट पीते हुए दिखाया…

आज फिर सुबह-सुबह काली फिल्म की डायरेक्टर का विवादित पोस्ट आया है। ये पोस्ट ट्वीटर पर आया है। डॉक्यूमेंट्री काली के पोस्टर 5 दिन से विवाद जारी है। इसी बीच डॉक्यूमेंट्री की डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई ने सोशल मीडिया पर एक और विवादित पोस्ट कर दी है।

सुबह 7.15 में की गई इस पोस्ट में शिव-पार्वती सिगरेट पीते नजर आ रहे हैं। लीना के पोस्ट आते ही भाजपा नेता और यूजर्स भड़क गए और सोशल मीडिया पर उनको जमकर खरीखोटी सुनाई। यूजर्स ने धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप भी लगाया।

लीना ने यूजर्स के गुस्से को देखते हुए एक और पोस्ट शेयर किया। यह पोस्ट सुबह 9.41 मिनट पर की गई, जिसमें लीना ने लिखा- देश सबसे बड़ी डेमोक्रेसी से हेट मशीन बन चुका है। लोग मुझे सेंसर करना चाहते हैं।

इस समय मैं कहीं भी सुरक्षित महसूस नहीं कर रही हूं। लीना के ट्वीट पर आसनसोल से भाजपा विधायक अग्निमित्रा पॉल ने टिप्पणी की है। उन्होंने लिखा- ये बंगाल का एक आर्ट है, जिसे बहुरूपी कहते हैं हम। मगर इसकी तस्वीर शेयर कर जिस तरह आप धार्मिक भावनाएं भड़का रही हैं, वो सही नहीं है। हमारी धैर्य की परीक्षा ना लें। हमारी सहनशीलता को कमजोरी ना समझो।

लीना मणिमेकलई की डॉक्यूमेंट्री में मां काली के पोस्टर को लेकर 2 जुलाई से विवाद चल रहा है। दरअसल, लीना ने कनाडा के टोरेंटो में इस डॉक्यूमेंट्री का प्रीमियर किया था। जिसमें मां काली बनी एक्ट्रेस को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है।

पोस्टर में मां काली के एक हाथ में त्रिशूल और दूसरे हाथ में LGBTQ का झंडा भी दिखाया गया है। 2 जुलाई को इस पोस्टर के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा भड़क गया। कई यूजर्स ने मेकर्स पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया और उन्हें अरेस्ट करने की मांग की है।

फिल्ममेकर लीना मणिमेकलाई के खिलाफ काली पोस्टर को लेकर अब तक चार राज्यों दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार में FIR दर्ज हो चुकी है। सभी FIR में लीना के खिलाफ डॉक्यूमेंट्री ‘काली’ के पोस्टर से धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया गया है। अब तक UP के लखनऊ, गोंडा और लखीमपुर के साथ मध्यप्रदेश के रतलाम और बिहार के मुजफ्फरपुर में लीना पर केस दर्ज किया गया है।

काली के पोस्टर विवाद में 4 जुलाई को TMC सांसद महुआ मोइत्रा की एंट्री हुई। मोइत्रा ने कहा कि धर्म की आजादी सभी को होनी चाहिए। तारापीठ में मां काली को शराब चढ़ाया जाता है।

मेरे लिए काली, मांस खाने वाली, शराब स्वीकार करने वाली देवी हैं। महुआ के इस बयान पर हंगामा शुरू हो गया, जिसके बाद TMC ने खुद को इससे किनारा कर लिया।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

लोकसभा चुनाव मतगणना: देश के विभिन्न क्षेत्रों में छत्तीसगढ़...

रायपुर। छत्तीसगढ़ की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने रायपुर के नवीन विश्राम गृह में आयोजित मतगणना प्रेक्षकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित...

दुर्ग रूरल MLA ललित चंद्राकर ने अंतिम चरण के...

दुमका, झारखंड। लोकसभा चुनाव का सातवें और अंतिम चरण चुनाव 1 जून को होने वाला है। इसी कड़ी में दुर्ग ग्रामीण के विधायक ललित...

छत्तीसगढ़ के डिप्टी CM शर्मा ने तमिलनाडु पहुंचकर बस्तर...

कोयंबटूर, रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विजय शर्मा ने बस्तर रेंज पुलिस IG पी सुंदरराज के पिता को श्रद्धांजलि देने तमिल नाडु पहुंचे। पुलिस के...

Delhi Baby Care Center Fire: राजकोट के बाद दिल्ली...

नई दिल्ली। राजकोट के बाद देश की राजधानी दिल्ली में बड़ा अग्निकांड हुआ है। ये दर्दनाक घटना दिल्ली के विवेक विहार में शनिवार देर...

ट्रेंडिंग