Bhilai Times

मर्डर करने के बाद कार और बाइक से भागे बदमाश: सोना समेत 5 आरोपी पकड़े गए…भाजयुमो महामंत्री लोकेश पांडेय फरार, पुलिस को मिला तगड़ा इनपुट

मर्डर करने के बाद कार और बाइक से भागे बदमाश: सोना समेत 5 आरोपी पकड़े गए…भाजयुमो महामंत्री लोकेश पांडेय फरार, पुलिस को मिला तगड़ा इनपुट

भिलाई। शहर के हाईप्रोफाइल मर्डर केस में दुर्ग पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। रंजीत सिंह की हत्या करने के आरोप में पुलिस ने अभी पांच आरोपियों को पकड़ा है। इनसे पूछताछ की जा रही है। दो आरोपी अब भी फरार है। इनमें भाजयुमो के जिला महामंत्री लोकेश पांडेय प्रमुख है, जिसका पता नहीं चल पा रहा है। पुलिस का दावा है कि लोकेश का तगड़ा इनपुट मिला है। जल्द ही वह भी पकड़ा जाएगा।

रंजीत हत्याकांड मामले में पुलिस ने 5 आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इस वारदात में 7 युवक शामिल थे। जिसमें भाजयुमो महामंत्री लोकेश पांडेय फरार है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक शनिवार देर रात रंजीत सिंह हत्याकांड में फरार आरोपियों को पुलिस ने खैरागढ़ स्थित जालबांधा से पकडकर ले आई है। जिसमें सोना उर्फ जोश अब्राहम टिंपू उर्फ अमन, पिंटू गणेश्वर, भूपेन्द्र कुमार है।

वहीं भाजयुमो महामंत्री लोकेश पांडेय व चिंटू अब भी फरार है। उक्त हत्याकांड के 6 आरोपी घटना को अंजाम देने के बाद बाइक से पहले धमधा घूमते फिरते हुए राजनांदगांव और खैरागढ़ से जालबांधा पहुंचकर छिपे हुए थे। मोबाइल के लोकेशन से एंटी क्राइम की टीम पहुंची और दबिश देकर 5 युवकों को पकड़ लाई।

पकड़े गए आरोपियों को क्राइम ब्रांच कार्यालय में सुबह से पूछताछ के लिए रखा है। वहीं मृतक रंजीत सिंह के परिजन व समाज के लोग छावनी पुलिस थाना पहुंचकर लोकेश पांडेय की गिरफ्तारी की मांग कर एफआईआर में नाम दर्ज नहीं होने से आक्रोशित हो रहे थे। जब पुलिस ने एफआईआर की कॉपी दिखाने के बाद ही मामला शांत हुआ।

रंजीत हत्याकांड में शामिल भाजयुमो महामंत्री लोकेश पाण्डेय साथियों के साथ घटना को अंजाम देने के बाद अपनी कार से गायब हो गया है। इसके अलावा कार को छत्तीसगढ़ में ही कहीं छिपा दिया और दिल्ली के रास्ते यूपी बलिया जाने की तैयारी में है। लेकिन पुलिस को उसका लास्ट लोकेशन राजनांदगांव मिलने से उलझकर रह गई है।

आरोपी पुलिस को चकमा देकर भाग निकला है। इसके अलावा पुलिस लोकेश को पकड़ने साईबर की टीम जूटी हुई है। लेकिन सही लोकेशन नहीं मिल पाने से लोकेश को पकड़ना अब मुश्किल हो रहा है। इस मामले में एसपी डॉक्टर अभिषेक पल्लव ने बताया कि आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। फ़रार की तलाश में पुलिस जुटी हुई है। घटने का खुलासा मंगलवार को किया जाएगा।

क्या हुआ था रात में…
– प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया है कि, जोश इब्राहिम उर्फ सोना, टिंपू उर्फ अमन भारती, पिंटू सिंह, अपने साथियों के साथ रंजीत सिंह को इतना मारा की उसकी मौत हो गई।
– इसके बाद वह लोग रंजीत को सुपेला अस्पताल के पास फेंक कर चले गए।
– पुलिस ने 7 आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है।

– सीएसपी कौशलेंद्र देव पटेल ने बताया कि, साईं नगर निवासी रंजीत सिंह (20 वर्ष) बीती देर रात 12 बजे अपने दो दोस्तों के साथ साईं नगर में मंदिर के पास बैठा था।
– इसी दौरान 5 लोग कार से वहां पहुंचे और उनके ऊपर हमला कर दिया।

– यह प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया है। साथियों को हमला करता देख रंजीत के दो दोस्त वहां से भाग गए।
– इसके बाद इन लोगों ने रंजीत को पकड़ लिया। इसके बाद बेसबॉल और चाकू से इतना मारा की उसकी मौत हो गई।
– इसके बाद आरोपियों ने रंजीत के शव को गाड़ी में डाला और लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल सुपेला के सामने फेंक कर फरार हो गए।

– छावनी पुलिस ने बताया कि, सोना उर्फ जोश इब्राहिम, टिंकू उर्फ गणेश्वर भारती, टिंकू उर्फ निखिल व दो अन्य के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज किया है।

सभी आरोपियों का है क्रमनल रिकार्ड
– पुलिस के मुताबिक मृतक रंजीत सिंह और आरोपी सोना उर्फ जोश इब्राहिम, टिंकू उर्फ गणेश्वर भारती, टिंकू उर्फ निखिल का कई थानों में क्रिमनल रिकार्ड है।

– इन दोनों के बीच पुरानी रंजिश थी।
– कुछ दिन पहले भी रंजीत को जान से मारने की धमकी दी थी।


Related Articles