Bhilai Times

खतरनाक हुआ तूफान Biparjoy! 155 Km/h की रफ्तार से तेज हवाएं, भारी बारिश की चेतावनी… गृह मंत्री अमित शाह ने रद्द किया दौरा… रक्षा मंत्री ने की तीनों सेना प्रमुखों से बात, हाईटाइड का अलर्ट जारी, देखिए VIDEO

खतरनाक हुआ तूफान Biparjoy! 155 Km/h की रफ्तार से तेज हवाएं, भारी बारिश की चेतावनी… गृह मंत्री अमित शाह ने रद्द किया दौरा… रक्षा मंत्री ने की तीनों सेना प्रमुखों से बात, हाईटाइड का अलर्ट जारी, देखिए VIDEO

डेस्क। अरब सागर में उठ रहे चक्रवाती तूफान बिपोर्जॉय(Cyclone Biparjoy)की दिशा बदल गई है. ऐसे में गुजरात के लिए खतरा बढ़ा है. पहले बिपोर्जॉय पाकिस्तान के समुद्री तट की तरफ बढ़ रहा था, लेकिन अब थोड़ा पूरब की ओर मुड़कर ये उत्तरी गुजरात तट की तरफ जा रहा है. अनुमान है कि ये तूफान गुजरात के तट से गुरुवार को टकराएगा. दिशा बदलने के साथ-साथ एक बदलाव ये भी है कि तूफ़ान की गति भी बढ़ गई है. अनुमान है कि गुजरात में इसके तट से टकराने के दौरान 155 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से हवाएं चल सकती हैं. गुजरात में NDRF की टीमों को मुस्तैद रखा गया है. राज्य में एक विस्तृत निकासी योजना बनाई गई है और प्रशासन ने हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.

मौसम विभाग के डीजी डॉ. एम मोहापात्रा ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा कि 6 तारीख के बाद तीन से चार बार साइक्लोन अपनी दिशा बदल चुका है. अगले 1 से 2 दिन में इसकी दिशा एक से दो बार और बदलने का पूर्वानुमान है. उन्होंने कहा कि तूफान से आशंका है कि काफी अधिक नुकसान हो सकता है. गुजरात में कच्छ, देवभूमि द्वारका, जामनगर जिलों में 15 जून को 20 सेंटीमीटर से अधिक बारिश हो सकती है. आमतौर पर इन इलाकों में इतनी अधिक बारिश नहीं होती. इसलिए इससे निचले इलाकों में बाढ़ आने की आशंका है.

आईएमडी डीजी डॉ एम महापात्रा ने दी साइक्लोन बिपरजॉय की स्थिति की जानकारी
चक्रवाती तूफान बिपोर्जॉय फिलहाल जखाऊ बंदरगाह से लगभग 280 किमी दूर है. इसके लगभग उत्तर पूर्व की ओर बढ़ने और 15 जून की शाम तक जखाऊ पोर्ट (गुजरात) के पास मांडवी (गुजरात) और कराची (पाकिस्तान) के बीच सौराष्ट्र और कच्छ तथा पाकिस्तान के निकटवर्ती तटों को पार करने की संभावना है. 125-135 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है. शाम 4 बजे से रात 8 बजे के बीच लैंडफॉल की उम्मीद है. चक्रवात का सबसे ज्यादा असर सौराष्ट्र और कच्छ क्षेत्र में होगा.

चक्रवात के भारत-पाक अंतर्राष्ट्रीय सीमा से गुजरने की संभावना व्यक्त की गई है. अंतर्राष्ट्रीय सीमा की रक्षा करने के साथ-साथ सीमा सुरक्षा बल द्वारा बचाव कार्यों के लिए आवश्यक संसाधन की उपलब्धता भी सूनिश्चित की गई है. सिविल अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित किया गया है और सिविल प्रशासन तथा स्थानीय लोगों को सभी प्रकार की आवश्यक सहायता के लिए कार्य योजना सुनिश्चित की जा रही है. जखाऊ तट के करीब स्थित गुनाओ गांव से लगभग 50 ग्रामीणों को सीमा सुरक्षा बल की गुनाओ चौकी में स्थानांतरित कर दिया गया है.

आने वाले चक्रवाती तूफान के लिए तैयार है बीएसएफ गुजरात
सीमा सुरक्षा बल ने गुजरात तट की ओर बढ़ते हुए भयंकर चक्रवाती तूफान ‘बिपोर्जॉय’ के प्रभावों से उत्पन्न होने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए पर्याप्त तैयारियां कर ली हैं. चक्रवाती तूफान बिपोर्जॉय 15 जून की शाम को जखाऊ तट के पास टकरायेगा और उसके बाद इसके कच्छ के रण से होते हुए राजस्थान तक जाने की संभावना है.

चक्रवाती तूफान के मद्देनजर बीजेपी अध्यक्ष ने गुजरात के पदाधिकारियों से की बात
गुजरात की ओर बढ़ रहे भीषण चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के मद्देनजर बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने गुजरात बीजेपी के पदाधिकारियों से बात की. उन्होंने हालात का जायजा लिया. नड्डा ने पार्टी पदाधिकारियों को प्रभावित इलाकों में राहत एवं बचाव कार्यों के लिए तैयार रहने और पीड़ितों को राशन, मेडिकल सहायता और पुनर्वास में मदद करने का निर्देश दिया.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों से बात की और चक्रवात ‘बिपारजॉय’ के लैंडफॉल के लिए सशस्त्र बलों की तैयारियों की समीक्षा की. चक्रवात के कारण किसी भी स्थिति या आकस्मिकता से निपटने के लिए सशस्त्र बल नागरिक अधिकारियों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए तैयारी करने को भी कहा गया है. गृह मंत्री अमित शाह ने अपना तेलंगाना का दौरा रद्द कर दिया है. गृह मंत्री कल अपने मंत्रालय में ही रहकर राहत और बचाव कार्य के समन्वय की निगरानी करेंगे।


Related Articles