दुर्ग पुलिस ने स्मार्ट और हाईटेक पुलिसिंग की तरफ एक और कदम: अवेयरनेस प्रोग्राम साइबर प्रहरी का किया शुभारंभ, त्रिनय और सशक्त एप लॉन्च, जानिए क्या मिलेगा फायदा

भिलाई। दुर्ग पुलिस ने स्मार्ट और हाईटेक पुलिसिंग की ओर एक और कदम बढ़ा दिया है। दुर्ग पुलिस ने त्रिनय एवम सशक्त एप को लॉन्च किया है। अब डिजिटल बीट पुलिसिंग के तहत स्मार्ट वर्क के साथ काम करेगी दुर्ग पुलिस। पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज दुर्ग बद्री नारायण मीणा के निर्देशन पर एवम वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दुर्ग राम गोपाल गर्ग के द्वारा लगातार सामुदायिक पुलिसिंग के अंतर्गत स्मार्ट एवम हाईटेक पुलिसिंग की ओर दिनांक 19.01.2024 को पुलिस कंट्रोल रूम भिलाई सेक्टर 6 में साइबर प्रहरी जागरुकता अभियान का शुभारंभ किया गया।

शुभारंभ के अवसर में सर्वप्रथम साइबर प्रहरी जागरुकता अभियान में बुक एवम पोस्टर का विमोचन किया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दुर्ग के द्वारा साइबर प्रहरी अभियान के बारे में कहा कि – साइबर प्रहरी जागरूकता अभियान के अंतर्गत जिला दुर्ग के सभी थानों में डिजिटल बीट पुलिसिंग के तहत स्मार्ट वर्क के साथ दुर्ग पुलिस काम करेगी, बीट सिस्टम वाइस व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है, जिसमें अभी तक कुल 45000 से अधिक लोगों को जोड़कर प्रतिदिन फोटो, वीडियो और पोस्ट के माध्यम से साइबर क्राइम के नित्य ने अपराधों के बारे में जागरूक कराया जा रहा है, जिसमे अभी पायलट प्रोजेक्ट के तहत कार्य किया जा रहा है,उन्होंने विस्तार में चर्चा करते हुए कहा कि- दुर्ग पुलिस नागरिकों को साइबर अपराधों से बचाव हेतु साइबर प्रहरी के नाम से अभियान पूरे जिले में चला रही है। इस कार्यक्रम के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा व्यक्तियों तक पहुंचने एवं जागरूक करने की कोशिश है तथा इस कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों में सजगता एवं चेतना के माध्यम से साइबर अपराधों को नियंत्रित करना है।

“त्रिनयन: यह एप दुर्ग जिले के लिए विकसित सीसीटीवी कैमरा का डेटाबेस है जो तेजी से अपराध सुलझाने के लिए पुलिस को सशक्त बनता है । यह घटनास्थल के आस पास लगे सीसीटीवी की भौगोलिक जानकारी पुलिस को प्रदान करेगा जिससे अपराधियों को शीघ्र खोजने में सहायता होगी, तथा दुर्ग जिले को सुरक्षित बनाए रखने में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। अब तक इस एप्लीकेशन में जिले के 626 सीसीटीवी कैमरा जोड़ा गया है। तथा प्रतिदिन इसमें नए कैमरा लोकेशन जोड़ी जा रही है। यह एप्लीकेशन दुर्ग पुलिस के लिए गूगल के प्ले स्टोर पर अवेलेबल है।

सशक्त एप : स्मार्ट पुलिसिंग की दिशा में दुर्ग पुलिस का एक और कदम इस एप में क़ानून की सभी धाराओं से लेकर चोरी गए वाहनों के रिकार्ड, विभागीय परिपत्र दर्ज किए जा रहे हैं।

साइबर प्रहरी जागरूकता अभियान के अंतर्गत पुलिस कंट्रोल रूम भिलाई सेक्टर 6 में वर्तमान में होने वाले नए साइबर अपराधों के बारे में बताते हुए प्रदर्शनी भी लगाई गई थी जिसे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दुर्ग, राम गोपाल गर्ग अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर,अभिषेक झा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, अनंत कुमार,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध, डॉ. अनुराग झा ,सहित समस्त राजपत्रित अधिकारी थाना प्रभारीगण , एक्स आर्मी संघ एवं मीडिया बंधु व अन्य लोगों ने देखकर खूब सराहा। साइबर प्रहरी अभियान को अभी पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चला कर आगे अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दुर्ग के द्वारा पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों से अपील की गई है जिससे वह लगातार बढ़ रहे साइबर क्राइम में कमी लाई जा सके।

इस जागरूकता अभियान के संपूर्ण कार्यक्रम के नोडल अधिकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर अभिषेक झा, साइबर थाना उपनिरीक्षक डॉ. संकल्प राय एवम साइबर के तकनीकी शाखा के कर्मचारियों का विशेष योगदान रहा है।

इस कार्यक्रम के प्रमुख स्पॉन्सर –
मेघ गंगा ग्रुप के मनीष पारख, दुर्ग मिनी बस मालिक संघ के अध्यक्ष प्रकाश देशलहरा, कल्याणी नशा मुक्ति से अजय, एक्स आर्मी संघ के अध्यक्ष हरप्रीत, डिजाइन से अजय रात्रे रहे।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

12 नक्सली ढेर: एंटी नक्सल यूनिट C 60 ने...

रायपुर। छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र सीमा पर सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुए मुठभेड़ में बड़ी कामयाबी मिली है। सुरक्षाबलों ने 12 नक्सलियों को मार...

CM साय ने की केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह...

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से उनके निवास पर मुलाकात की। इस महत्वपूर्ण बैठक में मुख्यमंत्री...

फाइनेंस मिनिस्टर ओ.पी. चौधरी ने किया संस्कृति बोध माला...

रायपुर। वित्त मंत्री ओ. पी. चौधरी आज यहां रोहिणीपुरम में विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान से सम्बद्ध सरस्वती शिक्षा संस्थान छत्तीसगढ़ रायपुर में...

BSP में हादसों को रोकने दिया जा रहा सुरक्षा...

दुर्ग। कलेक्टर ऋचा प्रकाश चौधरी के निर्देशानुसार जिले के भिलाई इस्पात संयंत्र के अंतर्गत संचालित विभिन्न कारखानों में कार्यरत नियमित एवं ठेका श्रमिकों को...

ट्रेंडिंग