Bhilai Times

MSME प्रेसिडेंट KK के इस खत से उद्योगों को मिल सकती है बड़ी राहत: CM भूपेश को लिखे पत्र में कहा- उद्योगों के ऊपर लगे वेट के पेंडिंग केस समाप्त करे सरकार

MSME प्रेसिडेंट KK के इस खत से उद्योगों को मिल सकती है बड़ी राहत: CM भूपेश को लिखे पत्र में कहा- उद्योगों के ऊपर लगे वेट के पेंडिंग केस समाप्त करे सरकार

भिलाई। एमएसएमई जिला दुर्ग के अध्यक्ष के के झा ने उद्योगों के ऊपर “वेट” के लंबित मामलों को समाप्त करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि वेट के समाप्त होने से यहां के उद्योग एवं व्यापारियों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी।

श्री झा ने मुख्यमंत्री भुपेश बघेल को पत्र लिखकर बताया है कि जीएसटी लागू होने के पहले से पूरे प्रदेश के उद्योगों के “वेट” के कुछ मामले रह गए हैं जो कोरोना काल के पूर्व के हैं।इनके बहुत सारे कागजात पुराने हो गए, गुम हो गए या फिर इधर-उधर हो गए। श्री झा ने बताया कि इस संबंध में संबंधित विभाग को दिसंबर 2021 में वे पत्र भी लिख चुके हैं लेकिन अभी तक कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला।

श्री झा ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से अनुरोध किया है कि “वेट” का जो भी पुराना मामला है उसे समाप्त किया जाए। जिस तरह मुख्यमंत्री श्री बघेल ने फ्री होल्ड जमीन के मामले में निर्णय किया उसी तरह इसमें भी कुछ टोकन अमाउंट लेकर इसे समाप्त लिया जाए, ताकि शासन को कुछ रेवन्यू प्राप्त हो और एमएसएमई उद्योगों को राहत मिल सके। श्री झा ने कहा कि आज एमएसएमई उद्योग स्वयं संघर्ष करके यहां तक पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री की इस पहल से हमें बहुत बड़ा सपोर्ट मिल जाएगा।

श्री झा ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री बघेल ने करोना काल में औद्योगिक क्षेत्र में बिजली बिल भुगतान में कुछ माह की राहत दिला कर उद्योगों को राहत प्रदान की थी। स्टैम्प शुल्क में छुट दी।करोना काल के दौरान ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई, विधि व्यवस्था, फ्री होल्ड जमीन, सीएसआईडीसी द्वारा क्रय करने की शुरुआत, औद्योगिक क्षेत्र की सड़कों का निर्माण आदि कई महत्वपूर्ण निर्णय मुख्यमंत्री ने लिया। अब सिर्फ यह “वेट” का मामला ही लंबित रह गया है। श्री झा ने मुख्यमंत्री से उम्मीद जताई है कि वे वेट के लंबित मामलों को भी पूरी तरह समाप्त कर देंगे।


Related Articles