Bhilai Times

रंजीत हत्याकांड के आरोपियों का पुलिस ने निकाला जुलूस: मुंह काला कर पुलिस ने कैंप इलाके में घुमाया और उठक-बैठक भी कराया…देखिए PHOTOS

रंजीत हत्याकांड के आरोपियों का पुलिस ने निकाला जुलूस: मुंह काला कर पुलिस ने कैंप इलाके में घुमाया और उठक-बैठक भी कराया…देखिए PHOTOS

भिलाई। दुर्ग पुलिस ने रंजीत हत्याकांड के आरोपियों का खुलासा कर दिया है। आज मामले का खुलासा करने के बाद पुलिस ने सभी छह आरोपियों का मुंह काला कर जुलूस निकाला।

उस इलाके में आरोपियों को लेकर गए, जहां आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया। सुपेला थाने से लेकर छावनी थाने तक अलग-अलग-इलाकों में आरोपियों को लेकर गए और वहां मुंह काला करके इनका उठक-बैठक कराया। यही नहीं, आरोपियों के कान पकड़वाए।

आपको बता दें कि, पुलिस ने आज ही मामले का खुलासा किया। मामले में 6 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। 2 आरोपी अब भी फरार चल रहे हैं। फरार आरोपियों में एक भाजपा नेता भी है। जिसकी गिरफ्तारी बाकी है। आपसी रंजिश के कारण घटना को दिया गया था अंजाम। घटना में प्रयुक्त बेसबॉल चाकू सहित मोटर सायकिल जप्त।

पुलिस ने आज खुलासा करते हुए बताया कि, सभी आरोपियों का है पूर्व का रिकॉर्ड, पुलिस का दावा जल्द शेष आरोपियों की होगी गिरफ्तारी। भिलाई में 18 जून की रात हुई थी घटना हुआ आरोपी सीसीटीवी कैमरे में हुए थे कैद। एंटी क्राइम एवं सायबर यूनिट और थाना छावनी की संयुक्त कार्रवाई।


भिलाई में 19 तारीख को हुए रंजीत हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने बताया की योजना बनाकर बेस बल्ला व चाकू से घातक चोट पहुंचाकर फिल्मी स्टाईल में आरोपियों ने घटना को अंजाम दिया था। गिरफ्तारी से बचने के लिए लगातार जिलों में स्थान परिवर्तित कर छिपने का प्रयास कर रहे थे।

पुलिस के द्वारा प्रेस रिलीज में क्या लिखा है –
दिनांक 19.06.2022 को प्रार्थी शुभदीप सिंह पिता पपिंदर सिंह उम्र 21 वर्ष निवासी कैग्प 01 सुभाष चौक, बी.एस.पी. स्कूल के सामने मिलाई जिला दुर्ग ने थाना छावनी में मौखिक रिपोर्ट दर्ज करायी कि टिम्पू, सोना, पिंकू एवं अन्य साथी सभी निवासी बिहारी मोहल्ला तालाब के पास भिलाई के द्वारा इसे और इसके साथी मृतक रंजीत सिंह को पुरानी रंजीश की वजह से गाली गलौच कर मारपीट करने लगे

, विरोध करने पर सभी एक रॉय होकर देश बल्ला, धारदार हथियार एवं हाथ मुक्का से प्राणघातक हमला किये। प्रार्थी जान बचाकर भागा किन्तु उसके साथी मृतक रंजीत सिंह की दिम्पू सोना, पिंकू एवं अन्य साथीयों के द्वारा हत्या कर दी गयी कि रिपोर्ट पर थाना छावनी में अपराध क्रमांक 277/2022, धारा 294, 506, 323, 302, 34 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

हत्या की उपरोक्त सनसनीखेज घटना को अत्यन्त गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव (भा.पु.से.) के द्वारा हत्या के आरोपियों की शीघ्र पतासाजी कर गिरफ्तारी करने के संबंध में निर्देश प्राप्त हुए। जिसके परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) संजय ध्रुव (रा.पु.से.), नगर पुलिस अधीक्षक (छावनी) कौशलेन्द्र देव पटेल (रा.पु.से.) के मार्गदर्शन में एवं ए.सी.सी. यू प्रभारी निरीक्षक संतोष मिश्रा तथा थाना प्रभारी छावनी निरीक्षक विशाल सोन के नेतृत्व में एक संयुक्त टीम गठित कर टीम को कार्यवाही हेतु लगाया गया था। टीम के द्वारा घटना स्थल का सूक्ष्मता से निरीक्षण कर जरूरी साक्ष्य एकत्रित किए गए।


आरोपियों की पतासाजी हेतु 03 अलग-अलग टीमें लगायी गयी थी। घटना स्थल के आस-पास व आवागमन के मार्गों में लगे सीसीटीव्ही कैमरों का अवलोकन कर प्रकरण के आरोपियों की पहचान सीसीटीव्ही फुटेज व प्रार्थी के बढ़ान के आधार पर सुनिश्चित की गयी। घटना के तुरन्त बाद ही आरोपियों की पतासाजी की जा रही थी किन्तु सभी आरोपी अपने निवास व संभावित ठिकानों से फरार हो गये थे। जिससे तकनीकी आधार पर भी आरोपियों की पतासाजी के साथ-साथ विशेष सूत्र भी लगाये गये थे।

आरोपियों के छिपने के रायपुर व राजनांदगांव स्थित संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही थी, इसी क्रम में विशेष सूत्रों से पता चला की प्रकरण के आरोपी सोना उर्फ जोश अब्राहम, अमन उर्फ टिम्पू, बिसेलाल उर्फ छोटू भूपेन्द्र साहू एवं पिन्टू सिंह दो मोटर सायकल में राजनांदगांव की तरफ भागे हैं और अपने रिस्तेदारों के घरों में छीपने की संभावना है।

जिससे टीन द्वारा सूचना की तकनीकी रूप से पुष्टिउपरांत दबिश देकर उपरोक्त आरोपियों को जालबांधा राजनांदगांव में अपने एक रिस्तेदार के घर से घेराबंदी कर पकड़ा गया। इसी क्रम में प्रकरण में फरार अन्य आरोपी निखिल साहू की उपस्थिति ग्राम रसमड़ा में सुनिश्चित होने पर उसे भी घेराबंदी कर रसमड़ा में पकड़ा गया। उपरोक्त आरोपियों से पृथक-पृथक पूछताछ करने पर अमन एवं मृतक रंजीत सिंह के बीच कुछ दिनों पूर्व आपसी विवाद होने से आपस में रंजीश रखना, रंजीत सिंह के द्वारा अमन को मारने की धमकी देना जिससे आक्रोशित होकर अपने साथियों लोकेश पाण्डेय, सोना उर्फ जोश अब्राहम, अमन उर्फ टिम्पू, बिसेलाल उर्फ छोटू, भूपेन्द्र साहू, पिन्टू सिंह, चिकू उर्फ निखिल एंजल एवं निखिल साहू के साथ मिलकर लोकेश पाण्डेय के दुकान में बैठकर रंजीत सिंह की हत्या करने की योजना बनाना तथा घटना दिनांक को सांई नगर, हनुमान मंदिर के पास मृतक रंजीत को अपने साथी शुभदीप सिंह व पीटर के साथ बैठे होने की सूचना मिलने पर सभी लोकेश पाण्डेय की फॉरच्यूनर कार तथा मोटर साइकलों में बेस बल्ला, चाकू आदि रखकर सांई नगर हनुमान मंदिर के पास जाकर रंजीत सिंह, शुभदीप व पीटर को हाथ मुक्का व बेस बल्ले से गारपीट करना, मारपीट के दौर शुभदीप व पीटर का भाग जाना, जिसके बाद रंजीत सिंह को झूले के पास से स्ट्रीट लाईट के पोल के पास लाकर हाथ मुक्का लात, बेस बल्ला व चाकू से घातक चोट पहुंचाकर हत्या कर देना बताया।

आरोपियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त बेस बॉल का बल्ला व धारदार कटारनुमा चाकू तथा घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल बरामद कर जप्त किया गया है। फरार आरोपी लोकेश पाण्डेय व चिकू उर्फ निखिल एंजल की पतासाजी की जा रही है। आरोपियों को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्यवाही थाना छावनी से की जा रही है। उक्त कार्यवाही में थाना छावनी व एन्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट दुर्ग के समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों की उल्लेखनीय भूमिका रही।

आरोपी के नाम

  1. सोना उर्फ जोश अब्राहम पिता जोसफ उर्फ राकेश अन्ना उम्र 22 वर्ष पता साक्षरता चौक के पास केम्प 01 भिलाई
  2. गणेश्वर उर्फ अमन भारती उर्फ टिम्पू पिता नेमचंद भारती उम्र 24 वर्ष शिवमंदिर के पास साक्षरता चौक केम्प 01 भिलाई
  3. बिसेलाल भारती उर्फ छोटू पिता नेमचंद भारती उम्र 27 वर्ष शिव मंदिर के पास साक्षरता चौक कैम्प 01 भिलाई
  4. पिन्टू उर्फ प्रीतम सिंह पिता विजय सिंह चौहान उम्र 22 वर्ष इंदिरा नगर सुपेला भिलाई
  5. भूपेन्द्र साहू पिता कामता प्रसाद साहू उम्र 23 वर्ष साक्षरता चौक के पास कैम्प 01 भिलाई
  6. निखिल साहू पिता अशोक साहू उम्र 19 वर्ष साक्षरता चौक के पात शास्त्री नगर केम्प 01 भिलाई।

फरार आरोपी –

  • लोकेश पाण्डेय
  • चिकू उर्फ निखिल एंजल


Related Articles