विधायक देवेंद्र की सम्पति पर राजनीति; CA को मानहानि का नोटिस, उन्होंने कर दिए और भी खुलासे… इधर विधायक प्रतिनिधि एकांश ने कहा- भाजपा ने फैला रही भ्रम

भिलाई। भिलाई नगर कांग्रेस विधायक देवेंद्र यादव पर सीए पीयूष जैन ने चुनाव आयोग को संपत्ति की गलत जानकारी देने का आरोप लगाया है। CA पीयूष जैन का दावा है कि उन्होंने जो आय का स्रोत बताया है, वो गलत है। इससे पहले देवेंद्र ने पीयूष को मानहानि का नोटिस भी जारी किया था। CA पीयूष जैन ने अपने अधिवक्ता अशोक शर्मा के साथ बताया कि महज पांच साल में देवेंद्र यादव और उनकी पत्नी की संपत्ति कई करोड़ बढ़ गई। साल 2018 में देवेंद्र यादव ने अपनी चल संपत्ति 30 लाख 94 हजार 487 बताई थी। वहीं अपनी पत्नी श्रुतिका ताम्रकार की संपत्ति 20 लाख 76 हजार 101 बताई। दोनों की कुल चल संपत्ति 51 लाख 70 हजार 588 बताई गई। वहीं देवेंद्र की अचल संपत्ति 34 लाख 77 हजार 700 और पत्नी की आय शून्य दिखाई गई है।

विधायक प्रतिनिधि ने किया पलटवार

भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव के प्रतिनिधि एकांश बनछोर ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर विधायक पर लगे आय से अधिक धन के आरोपों का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोगों के पास अब कोई काम नहीं बचा है। विधानसभा चुनाव में हार की पूरी उम्मीद के साथ भाजपा के कार्यकर्ता चिंता ग्रसित हो गए हैं और अब वे शहर में सिर्फ भ्रम फैलाने का काम कर रहे हैं। पहले भाजपा के नेताओं ने कहा कि भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव को ईडी पड़कर ले जाएगी। उसे जेल में बंद कर देगी लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। फिर भाजपा के लोगों ने भ्रम फैलाया है कि देवेंद्र यादव जेल चले जाएगा तो अब उसकी पत्नी चुनाव लड़ेगी। फिर भाजपा के लोगों ने भ्रम फैलाने के लिए एक वीडियो एमएमएस लीक की उससे भी उनका कम नहीं बना तो फिर भाजपा के लोगों ने भ्रम फैलाया की विधायक देवेंद्र यादव ने अपनी पत्नी और भाई को जो 1 करोड़ दिया वह पैसा उन्होंने अपनी पत्नी और भाई को दिया है तो वह राशि उन्हें शासन के द्वारा दी गई राशि है।

इन्होने आगे कहा कि, जब वह महापौर थे और उसके बाद फिर विधायक बने। महापौर और विधायक के पद पर रहते हुए शासन से उन्हें जो मानदेय दिया जाता है। वह उन्हें लगातार मिलता था और उनका खर्च ज्यादा है नहीं तो वह जो राशि बची थी। वह राशि वह अपनी पत्नी और अपने बड़े भाई को दिए पर इसमें भी भाजपा के कार्यकर्ताओं और नेताओं के पेट में दर्द शुरू होने लगा है इसीलिए अब लोगों में आम जनता में भरम फैलाने के लिए कई तरह की झूठ फैला रहे। इससे पहले भी भाजपा और के नेता कई तरह के झूठ फैला चुके हैं ।जिस धनराशि के साक्ष्य हो और जो सही है एफीडेविट में वही दर्ज किया जाता है, भारतीय जनता पार्टी के नेता जो आज तक कोरोडो का घाल मेल किए उन्हे छुपाने की जरूरत है। देवेंद्र यादव के पास जो कुछ है वो सार्वजनिक है।

खबरें और भी हैं...
संबंधित

Durg Crime : दिनदहाड़े युवक की हत्या से इलाके...

दुर्ग। धमधा थाना क्षेत्र के ग्राम मुड़पार में दिनदहाड़े युवक की हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई है। धारदार हथियार से युवक पर...

दुर्ग क्षेत्र में लूट के आरोपी गिरफ्तार, चार दोस्तों...

भिलाई। उतई थाना क्षेत्र के महकाखुर्द में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही धर...

CG – नाबालिग प्रेमियों के प्यार का हुआ अंत:...

नाबालिग प्रेमियों के प्यार का हुआ अंत छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में नाबालिग लड़के ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया है। ये सुनते ही एक...

भिलाई स्टील प्लांट में घुसकर तोड़फोड़, सुरक्षा पर उठे...

भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट में तोड़फोड़ का मामला सामने आया है। सीआईएसएफ का सुरक्षा घेरा तोड़कर एक मानसिक रोगी प्लांट के अंदर घुस गया...

ट्रेंडिंग