Bhilai Times

रिसाली के इस विश्वविद्यालय को डेयरी संचालक ने बनाया चारागाह: मवेशियों ने चारा समझ पौधों को निगला, निगम ने दी चेतावनी; वसूला भारी जुर्माना

रिसाली के इस विश्वविद्यालय को डेयरी संचालक ने बनाया चारागाह: मवेशियों ने चारा समझ पौधों को निगला, निगम ने दी चेतावनी; वसूला भारी जुर्माना

रिसाली। स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय परिसर को चारागाह बनाने वाले डेयरी संचालक के खिलाफ रिसाली निगम ने कार्यवाही की है। डेयरी संचालक से 3000 जुर्माना वसूला गया। साथ ही दोबारा मवेशी चराने पर दो गुना राशि वसूल करने की चेतावनी दी है।

नेवई बस्ती निवासी डेयरी संचालक बीर सिंह यादव अपनी दुधारू मवेशी को नेवई स्थित विश्वविद्यालय परिसर में प्रवेश करा दिया था। वहां लगाए पौधों को मवेशियों ने चारा समझ आहार बना लिया। निगम के अधिकारियों को सूचना मिलते ही राजस्व विभाग प्रभारी संजय वर्मा ने अपनी टीम के साथ 7 भैंस और 1 गाय को गोठान पहुंचाया। बाद में डेयरी संचालक से जुर्माना वसूल कर मवेशियों को सुपुर्दनामा किया। निगम ने डेयरी संचालक को हिदायत दी है कि दोबारा मवेशी परिसर मे प्रवेश कराने पर 5 से 10 हजार तक जुर्माना वसूल किया जाएगा।


नेवई व स्टेशन मरोदा क्षेत्र में बड़ी संख्या में लोग डेयरी संचालन कर रहे है। कुछ निकालने के बाद डेयरी संचालक मवेशियों को विश्वविद्यालय की तरफ ले जाते है। चारा के लिए परिसर में मवेशियों को छोड़ दिया जाता है। मवेशियों को परिसर में छोड़ने डेयरी संचालक बाऊंड्रीवाल को क्षतिग्रस्त कर दिया है।


Related Articles